--Advertisement--

केंद्रीय राज्यमंत्री गुर्जर ने विधायक नागर पर ठोका 5 करोड़ का दावा

जनसभा में गंभीर आरोप लगाने वाले कांग्रेस विधायक ललित नागर काे अब बयानबाजी से संबंधित पूरे सबूत कोर्ट में देने होंगे।

Danik Bhaskar | Dec 09, 2017, 08:41 AM IST

फरीदाबाद। केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर और उनके मामा राजपाल नागर पर कुछ दिन पहले जनसभा में गंभीर आरोप लगाने वाले कांग्रेस विधायक ललित नागर काे अब बयानबाजी से संबंधित पूरे सबूत कोर्ट में देने होंगे। क्योंकि मंत्री गुर्जर ने विधायक के खिलाफ शुक्रवार को जज तरुण कुमार सिंघल की कोर्ट में 5 करोड़ रुपए की मानहानि का दावा दायर कर दिया है। अब कोर्ट सोमवार को इस नोटिस को विधायक के पास भिजवा देगी। इस मामले की सुनवाई 10 जनवरी 2018 को होगी। विधायक को इसी डेट पर पूरे सबूत कोर्ट में पेश करने होंगे। वे यदि ऐसा नहीं कर सके तो उन्हें मानहानि की रकम अदा करनी पड़ सकती है।

केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर को मानहानि की रकम कई गुना करनी चाहिए थी। मेरा कद मानहानि की रकम से कहीं बड़ा है। मंत्री की बौखलाहट से पता लगता है कि वह कितने घबराए हुए हैं। मैंने जो भी बोला है, वह सच है और मैं उस पर अडिग भी हूं। मेरे पास पूरे सबूत हैं। अब मैं कोर्ट में ही मंत्री उनके मामा का पूरा चिट्‌ठा खोलूंगा। मैं केंद्रीय मंत्री के इस नोटिस का स्वागत करता हूं। विधानसभा में तो उन्हें अधिक मौका नहीं दिया जाता लेकिन अब कोर्ट के समक्ष पूरी पोल खोलकर रखूंगा। -ललितनागर, विधायक, तिगांव विधानसभा क्षेत्र।

कांग्रेस विधायक ललित नागर बीजेपी सरकार द्वारा किए जा रहे विकास कार्यों से बौखलाएं हुए हैं। वह केवल मुझे और मेरे मामा को निशाना बना रहे हैं। जबकि उनके पास इस संबंध में कोई सबूत नहीं है। इस तरह के आरोप में उन्हें कई रात नींद नहीं आई। अब वे किसी कार्यक्रम में जाते हैं तो इसी तरह के आरोप का जवाब देते रहते हैं। इससे उनकी छवि धूमिल हुई है। अब अगर विधायक के पास सबूत हैं तो कोर्ट में देने होंगे नहीं तो मानहानि के 5 करोड़ रुपए अदा करने होंगे। -कृष्णपालगुर्जर, केंद्रीय राज्यमंत्री भारत सरकार।

कोर्ट में इस कार्यक्रम का दिया हवाला : केंद्रीयराज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कोर्ट में लगाई याचिका में बताया कि वह सम्मानित व्यक्ति हैं। कांग्रेस विधायक ललित नागर उन पर जनसभाओं में बेवजह आरोप लगा रहे हैं। उनके मामा राजपाल नागर हैं। कई प्रकार के गंभीर आरोपों में उनके मामा को भी घसीटा जा रहा है। 22 अक्टूबर 2017 को भूपानी गांव में “चलो गांव की ओर” कार्यक्रम में विधायक ने गुर्जर पर गंभीर आरोप लगाए थे।

क्राइम के पीछे केंद्रीय मंत्री के मामा का हाथ : 22अक्टूबर को भूपानी गांव में विधायक ललित नागर ने फरीदाबाद में बढ़ रहे क्राइम का आरोप सीधे-सीधे कृष्णपाल गुर्जर के मामा राजपाल पर लगाया था। उन्होंने कहा था कि यह सब कुछ कृष्णपाल गुर्जर की शह पर हो रहा है। इससे शहर में अपराध बढ़ रहे हैं। उन्होंने स्मार्ट सिटी पर भी बीजेपी सरकार को घेरते हुए कहा था कि फरीदाबाद स्मार्ट सिटी नहीं बल्कि क्राइम सिटी बन चुकी है। उन्होंने यह भी कहा था कि मंत्री के मामा राजपाल नागर ने सरकारी महकमों में भ्रष्टाचार फैला रखा है। मामा को गनमैन तक मिले हुए हैं। जबकि वे किसी भी पद पर नहीं हैं।