Hindi News »Haryana News »Faridabad» खिलाड़ियों ने बदली बैडमिंटन की तस्वीर, 4 साल में निकले 20 से अधिक स्टेट चैंपियन

खिलाड़ियों ने बदली बैडमिंटन की तस्वीर, 4 साल में निकले 20 से अधिक स्टेट चैंपियन

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 02:00 AM IST

चार साल पहले तक स्टेट बैडमिंटन प्रतियोगिता में अंतिम स्थान पर रहने वाले फरीदाबाद जिले की तस्वीर पूरी तरह से बदल...
चार साल पहले तक स्टेट बैडमिंटन प्रतियोगिता में अंतिम स्थान पर रहने वाले फरीदाबाद जिले की तस्वीर पूरी तरह से बदल चुकी है। चार साल पहले 20 लोगों ने मिलकर जिले से बैडमिंटन चैंपियन निकालने का बीड़ा उठाया था। इन लोगों ने मिलकर एक करोड़ रुपए की लागत से सेक्टर-7 में बैडमिंटन कोर्ट तैयार किया। कोर्ट तैयार करने के लिए इन लोगों को कर्ज भी लेना पड़ा। इस बैडमिंटन कोर्ट में विदेशी प्रशिक्षकों को बुलाकर युवा खिलाड़ियों को तैयार किया जाता है। अब जिले के खिलाड़ी 5 मार्च से दिल्ली के इंदिरा गांधी स्टेडियम में होने वाली नेशनल बैडमिंटन प्रतियोगिता की तैयारियों में जुटे हैं। जिला बैडमिंटन एसोसिएशन के महासचिव संजय सपरा ने बताया कि वर्ष 2013 तक जिले में केवल एकता कालिया ही स्टेट चैंपियन थी। इसके अलावा स्टेट चैंपियनशिप में जिले के खिलाड़ी पहले या दूसरे राउंड में ही बाहर हो जाते थे।

20 लोगों ने एक करोड़ जमा कर बनवाया कोर्ट

बैडमिंटन एसोसिएशन के संरक्षक आनंद मेहता बताते हंै कि बैडमिंटन की हालत खस्ता देखकर एसोसिएशन के 20 सदस्यों ने मिलकर इसे आगे बढ़ाने का बीड़ा उठाया। सभी सदस्यों ने मिलकर सबसे पहले इंटरनेशनल लेवल का कोर्ट तैयार करने की योजना बनाई। इसे बनाने के लिए एक करोड़ रुपए एकत्र किए गए। इस दौरान सदस्यों को करीब 50 लाख रुपए से अधिक का कर्ज भी लेना पड़ा।

नेशनल कोच देते हैं खिलाड़ियों को ट्रेनिंग

बैडमिंटन प्रेमी जितेंद्र अग्रवाल बताते हैं कि बैडमिंटन कोर्ट को तैयार होने में करीब दो माह का समय लगा था। इसके बाद युवा खिलाड़ियों को ट्रेनिंग देने के लिए नेशनल कोचों को आमंत्रित किया गया। इसके बाद स्टेट प्रतियोगिता में जिले की स्थिति सुधरने लगी। इस समय सेक्टर-7 स्थित बैडमिंटन कोर्ट में नेशनल कोच गोवर्धन रेड्‌डी और राहुल कुमार खिलाड़ियों को ट्रेनिंग दे रहे हैं। वे बताते हैं कि हर खिलाड़ी ट्रेनिंग लेने के लिए पुलेला गोपीचंद या किसी भी इंटरनेशनल कोच के पास नहीं जा सकता। इसलिए खिलाड़ियों को जिले में ही सुविधा उपलब्ध कराई गई है।

इन 20 लोगों ने मिलकर तैयार किया कोर्ट

आनंद मेहता, संजय सपरा, विनोद बंसल, जितेंद्र अग्रवाल, संजीव गुप्ता, भूषण चौधरी, अंकित मित्तल, संजय अरोड़ा, रवि कालरा, देवेंद्र डागर, अमित गोयल, संजय अरोड़ा, विकास , अनुराग मारवाह, अमरीश यादव, अंशुल गर्ग, राजन, रजत तनेजा, नीतू त्रिखा, अजय त्रिखा।

जिले से निकले स्टेट चैंपियन

वरुण त्रिखा, एकता कालिया, मनराज, आदित्य गर्ग, कुश चुग, नूपुर वधवा, मानसी।

फरीदाबाद. बैडमिंटन खेलते आदित्य।

नेशनल प्रतियोगिता की तैयारियों में जुटे खिलाड़ी

एसोसिएशन के सदस्य बताते हैं कि मार्च में दिल्ली के इंदिरा गांधी स्टेडियम में नेशनल प्रतियोगिता आयोजित होगी। इसकी तैयारी को लेकर सभी खिलाड़ी जुटे हुए हैं। प्रतियोगिता में जिले के 10 खिलाड़ी भाग लेंगे। उम्मीद है इस प्रतियोगिता में खिलाड़ी पांच से अधिक मेडल जीतेंगे। इस समय जिले की अलग-अलग अकादमियों में करीब 700 खिलाड़ी बैडमिंटन का अभ्यास कर रहे हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Haryana News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: खिलाड़ियों ने बदली बैडमिंटन की तस्वीर, 4 साल में निकले 20 से अधिक स्टेट चैंपियन
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From Faridabad

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×