• Hindi News
  • Haryana News
  • Faridabad
  • ईस्टर्न पेरिफेरल प्रोजेक्ट की तरह मुआवजा देने की मांग
--Advertisement--

ईस्टर्न पेरिफेरल प्रोजेक्ट की तरह मुआवजा देने की मांग

ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे की तर्ज पर मुआवजा देने की मांग को लेकर किसानों का एक प्रतिनिधि मंडल गुरुवार को...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 02:00 AM IST
ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे की तर्ज पर मुआवजा देने की मांग को लेकर किसानों का एक प्रतिनिधि मंडल गुरुवार को एसडीएम अमरदीप जैन से मुलाकात की। उन्हें रेलमंत्री पीयूष गोयल के नाम ज्ञापन भी सौंपा। किसानों का आरोप है कि कोर्ट के आदेश के बाद भी रेलवे मुआवजा देने को तैयार नहीं है। उल्टे डंडे के बल पर किसानों की जमीन कब्जाने की कोशिश की जा रही है। प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व फरीदाबाद किसान संघर्ष समिति के संयोजक सत्यवीर डागर एवं प्रधान मकरंद शर्मा ने की। डागर ने एसडीएम को बताया कि वर्ष 2011 में रेलवे ने मुंबई से दादरी (ग्रेटर नोएडा यूपी) तक एक नए डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर प्रोजेक्ट की घोषणा की थी। इसके लिए जिले के 20 गांवों के हजारों किसानों की कृषि योग्य भूमि अधिग्रहण की जानी थी। वर्ष 2013 में जमीन का अवार्ड भी सुना दिया गया, लेकिन कई किसानों ने अवार्ड नहीं लिया और कोर्ट में मामला दायर कर दिया। कोर्ट ने रेलवे को बढ़ाकर मुआवजा देने के आदेश दिए, लेकिन रेलवे छह वर्षों के बाद भी मुआवजा देने को तैयार नहीं है। उनका आरोप है कि रेलवे अधिकारी जबरन पुलिस बल के साए में किसानों से जमीन छीनने के प्रयास लगातार कर रहे हैं। किसानों की मांग है कि इस प्रोजेक्ट में भी ईस्टर्न पेरिफेरल प्रोजेक्ट में दिए गए मुआवजे की तर्ज पर ही किसानों को मुआवजा दिया जाए। एसडीएम अमरदीप जैन ने किसानों को आश्वासन दिया कि उनके मांगपत्र को रेलमंत्री गोयल तक पहुंचा दिया जाएगा।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..