--Advertisement--

पलवल जाने वाली ट्रेन में रहता है अंधेरा

Faridabad News - रेलवे एक ओर यात्रियों को बेहतर सेवाएं देने का दावा करता है ताे दूसरी ओर देश की राजधानी से ही चलने वाली शटल ट्रेनों...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 02:00 AM IST
पलवल जाने वाली ट्रेन में रहता है अंधेरा
रेलवे एक ओर यात्रियों को बेहतर सेवाएं देने का दावा करता है ताे दूसरी ओर देश की राजधानी से ही चलने वाली शटल ट्रेनों में यात्री अंधेरे में सफर करने को मजबूर हैं। इसमें किसी शरारती तत्वों का हाथ है या फिर रेलवे मेंटिनेंस में लापरवाही। लेकिन इतना जरूर है कि रात के समय सफर करने वाले दैनिक यात्रियों काे अंधेरे में की सफर पूरा करना पड़ रहा है। महिला कोच में भी अंधेरा छाया रहता है। शुक्रवार की रात नई दिल्ली से पलवल जा रही 64082 शटल के तीन कोच में ऐसा नजारा दिखाई दिया। नई दिल्ली से पलवल तक चलने वाली 64082 शाम छह बजे पलवल के लिए चलती है। इसका फरीदाबाद आने का समय 6.43 बजे है। शुक्रवार को यह ट्रेन अपने निर्धारित समय से एक घंटे की देरी से रात 7.43 बजे फरीदाबाद पहुंची। इस ट्रेन के महिला कोच नंबर 21124, विक्रेता कोच नंबर 22004 और जनरल कोच नंबर 20105 में अंधेरा छाया रहा। महिलाएं पूरे रास्ते अंधेरे में सफर करने को मजबूर रहीं। निजामुद्दीन स्टेशन पर मेंटिनेंस विभाग के कर्मचारी होने के बाद भी कोचों की देखभाल नहीं की गई। उक्त तीनों कोचों में सफर करने वाले यात्री अंधेरे में ही बैठकर पलवल तक सफर तय किया। मीनारगेट निवासी राम अवतार, जनौली निवासी देवदत्त शर्मा, हाउसिंग बोर्ड निवासी छात्रा सारिका, दीपांशी शर्मा आदि का कहना है कि रेलवे सिर्फ सुविधाएं देने का दावा ही करता है, जबकि देता नहीं। महिलाएं अंधेरे में सफर कर रही हैं। ऐसे में यदि कोई वारदात हो जाए तो कौन जिम्मेदार होगा।

छात्राओं ने कहा कि वह इस मामले की शिकायत रेलवे बोर्ड के चेयरमैन से करेंगी। उधर, उत्तर रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी अजय माइकल का कहना है कि इसकी जांच की जाएगी और संबंधित विभाग को निर्देश जारी कर व्यवस्था को दुरुस्त कराया जाएगा।

सुरक्षा पर सवाल

इसमें किसी शरारती तत्वों का हाथ है या फिर रेलवे मेंटिनेंस में लापरवाही, इसकी जांच की जाएगी

फरीदाबाद. ट्रेन के कोच में लाइट नहीं होने पर छाया अंधेरा ।

X
पलवल जाने वाली ट्रेन में रहता है अंधेरा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..