फरीदाबाद

  • Hindi News
  • Haryana News
  • Faridabad
  • पहली बार होगी इंटर काॅलेज किकबाॅक्सिंग प्रतियोगिता, 5 से 6 फरवरी को होंगे मुकाबले
--Advertisement--

पहली बार होगी इंटर काॅलेज किकबाॅक्सिंग प्रतियोगिता, 5 से 6 फरवरी को होंगे मुकाबले

पहली बार इंटर काॅलेज किक बाॅक्सिंग प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। रोहतक की महर्षि दयानंद यूनिवर्सिटी में 5...

Dainik Bhaskar

Feb 03, 2018, 02:05 AM IST
पहली बार होगी इंटर काॅलेज किकबाॅक्सिंग प्रतियोगिता, 5 से 6 फरवरी को होंगे मुकाबले
पहली बार इंटर काॅलेज किक बाॅक्सिंग प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। रोहतक की महर्षि दयानंद यूनिवर्सिटी में 5 से 6 फरवरी के बीच किक बाॅक्सिंग के मुकाबले होंगे। इसमें प्रदेशभर से 200 खिलाड़ी भाग लेंगे। जिले से डीएवी शताब्दी काॅलेज की टीम भी इस प्रतियोगिता में भाग लेगी। पूरे प्रदेश में किक बाॅक्सिंग के एक हजार से अधिक खिलाड़ी हैं। केवल फरीदाबाद जिले में 500 खिलाड़ी किक बाॅक्सिंग खेल रहे हैं। इसके अलावा वर्ल्ड किक बाॅक्सिंग प्रतियोगिता में भी जिले के खिलाड़ी 10 मेडल जीत चुके हैं। इसके बावजूद खेल मंत्रालय से मान्यता नहीं मिलने के कारण मेडलिस्ट खिलाड़ियों को सरकार की योजनाओं का कोई लाभ नहीं मिल पाता है। इसके अलावा प्रदेश खेल विभाग की ओर से किक बाॅक्सिंग को मान्यता नहीं दी गई है। हरियाणा किक बाॅक्सिंग एसोसिएशन के अनुसार प्रदेश में किक बाॅक्सिंग खेल की मान्यता को लेकर खेल मंत्री से बातचीत की जा रही है। उन्होंने आश्वासन दिया है कि जल्द ही किक बाॅक्सिंग को प्रदेश खेल विभाग की ओर से मान्यता दे दी जाएगी।

फरीदाबाद. किकबॉक्सिंग की प्रैक्टिस करते खिलाड़ी । फाइल फोटो

चार इवेंट होंगे शामिल

हरियाणा किक बाॅक्सिंग संघ के संस्थापक संतोष अग्रवाल ने बताया कि किक बाॅक्सिंग के चार इवेंट्स को इंटर काॅलेज प्रतियोगिता में शामिल किया गया है। प्रतियोगिता में पाइंट फाइट, किक लाइट, फुल कांटेक्ट और लो किक इवेंट शामिल हैं। इन चारों प्रतियोगिताओं में महिला एवं पुरुष खिलाड़ी शामिल होंगे। प्रतियोगिता में पदक विजेता खिलाड़ियों को नेशनल स्तर की प्रतियोगिता में भाग लेने का मौका दिया जाएगा। महर्षि दयानंद यूनिवर्सिटी के खेल निदेशक देवेंद्र ढुल ने बताया कि किक बाॅक्सिंग खेल काफी समय से अपनी जगह बनाने के लिए संघर्ष कर रहा है। किक बाॅक्सिंग के कई खिलाड़ियों ने इंटरनेशनल स्तर पर भी मेडल जीते हैं, लेकिन मान्यता नहीं मिलने से उन्हें सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं मिल पाता। उम्मीद है कि इंटर काॅलेज किक बाॅक्सिंग प्रतियोगिता होने से खेल को बढ़ावा मिलेगा।

X
पहली बार होगी इंटर काॅलेज किकबाॅक्सिंग प्रतियोगिता, 5 से 6 फरवरी को होंगे मुकाबले
Click to listen..