Hindi News »Haryana »Faridabad» Two Arrest Kidnaping And Firing Case

50 लाख रुपए की फिरौती वसूलने को फैक्ट्री में की गई थी फायरिंग, दो गिरफ्तार

सेक्टर-24स्थित हरियाणा स्टील फैक्ट्री में 3 नवंबर को फायरिंग करने वाले दो आरोपियों को पुलिस ने अरेस्ट कर लिया है।

Bhaskar news | Last Modified - Nov 11, 2017, 08:25 AM IST

50 लाख रुपए की फिरौती वसूलने को फैक्ट्री में की गई थी फायरिंग, दो गिरफ्तार
फरीदाबाद। सेक्टर-24स्थित हरियाणा स्टील फैक्ट्री में 3 नवंबर को फायरिंग करने वाले दो आरोपियों को पुलिस ने अरेस्ट कर लिया है। फायरिंग करने का मकसद कंपनी मालिक के अंदर दहशत पैदा करना था। इसके बाद बदमाशों ने उनसे 50 लाख रुपए की फिरौती मांगी थी। एनआईटी डीसीपी आस्था मोदी ने इस मामले का खुलासा शुक्रवार को प्रेस वार्ता में किया।

ऐसेआए पकड़ में
एनआईटीकी क्राइम ब्रांच ने सरूरपुर गांव निवासी सतीश और नंगला जोगियान निवासी सोनू को अरेस्ट किया है। इस मामले में अभी पांच आरोपी फरार हैं। उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने सतीश और सोनू को अदालत से तीन दिन की रिमांड पर ले लिया है। आरोपियों से दो कट्टे दो कारतूस भी मिले हैं। डीसीपी एनआईटी आस्था मोदी ने बताया कि गोली चलाने के अगले दिन आरोपियों ने फैक्ट्री मालिक राजकुमार गुप्ता को फोन कर 50 लाख रुपए की फिरौती मांगी थी। इसके बाद उन्होंने फोन बंद कर लिया था। इस कारण पुलिस को आरोपियों तक पहुंचने में कई दिन लग गए। पुलिस ने आरोपियों को सीसीटीवी फुटेज और मुखबिरों से मिली सूचना के बाद अरेस्ट किया है।
दहशतफैलाना चाहते थे
मोदीके मुताबिक बदमाशों का मकसद उद्योगपतियों के अंदर दहशत फैलाना था ताकि समय आने पर कई से वसूली की जा सके। बदमाशों को उम्मीद थी कि राजकुमार अग्रवाल उन्हें लाखों रुपए दे सकते हैं। इसलिए सबसे पहले उनकी फैक्ट्री को ही टारगेट किया। इसके लिए वे कई दिन पहले से योजना बना रहे थे। इस मामले का मास्टरमाइंड फरार है। वही उत्तरप्रदेश से अवैध हथियार लेकर आया था। पकड़े गए आरोपियों का आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है लेकिन मास्टरमाइंड पर हत्या का एक मुकदमा चल रहा है। पुलिस इसका खुलासा पकड़े जाने के बाद करने की बात कह रही है।

ऐसेकी थी फायरिंग
सेक्टर-14निवासी राजकुमार की सेक्टर-24 में हरियाणा स्टील नाम से फैक्ट्री है। 3 नवंबर की सुबह वह फैक्ट्री में थे। इस दौरान 10.54 बजे फैक्ट्री के गेट के सामने सफेद रंग की स्विफ्ट कार आकर रूकी। इसमें से पांच युवक उतरे और दो युवक पहले से ही फैक्ट्री के बाहर चक्कर लगा रहे थे। युवकों के हाथ में रिवाल्वर थी। इनमें से चार युवक फैक्ट्री के अंदर आए और फायरिंग शुरू कर दी। पलभर में ही कई राउंड गोली चला दी। गोलियां चलने से ऑफिस का शीशा टूट गया था। फैक्ट्री से बाहर जाते समय बदमाशों ने गार्ड रूम पर भी फायरिंग की थी। गोलियों की आवाज सुनकर फैक्ट्री में भगदड़ मच गई थी। इसकी सूचना तुरंत पुलिस कंट्रोल रूम के 100 नंबर पर दी गई थी। सूचना मिलने पर मुजेसर प्रभारी दिनेश कुमार, एसीपी मुजेसर राधेश्याम डीसीपी एनआईटी आस्था मोदी सहित क्राइम ब्रांच फोरेंसिक टीम मौके पर पहुंच गई थी। पुलिस को मौके से गोलियों के सात खोल तीन सिक्के मिले थे।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Faridabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×