• Hindi News
  • Haryana
  • Faridabad
  • Faridabad आज घर घर विराजेंगे गणपति बप्पा, धूमधाम से होगी प्राणप्रतिष्ठा
--Advertisement--

आज घर-घर विराजेंगे गणपति बप्पा, धूमधाम से होगी प्राणप्रतिष्ठा

Dainik Bhaskar

Sep 13, 2018, 02:01 AM IST

Faridabad News - दुखहर्ता विघ्नहर्ता गणपति बप्पा का उत्सव गुरुवार से शुरू हो रहा है। गणेशोत्सव को लेकर शहर में रौनक है।...

Faridabad - आज घर-घर विराजेंगे गणपति बप्पा, धूमधाम से होगी प्राणप्रतिष्ठा
दुखहर्ता विघ्नहर्ता गणपति बप्पा का उत्सव गुरुवार से शुरू हो रहा है। गणेशोत्सव को लेकर शहर में रौनक है। श्रद्धालुओं ने मार्केट से गजानन की मूर्ति व पूजन सामग्री खरीदी। मूर्ति की स्थापना गुरुवार को घरों में की जाएगी। धर्म ग्रंथों के अनुसार भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को भगवान श्रीगणेश का जन्म हुआ था। इस बार गणेश चतुर्थी का पर्व 13 सितंबर गुरुवार को है। ग्रंथों के अनुसार इस दिन जो स्नान, उपवास व दान किया जाता है, उसका फल भगवान श्रीगणेश की कृपा से कई गुना हो जाता है। व्रत करने से मनोवांछित फल मिलता है।

100 साल बाद संयोग

ज्योतिषाचार्य वीके शास्त्री के अनुसार इस दिन श्री गणेश की मूर्ति को प्रतिष्ठापित करना बेहद शुभ है। इस योग में घर में बने मंदिर में भी मूर्ति स्थापित करना शुभ माना जाता है। इस नक्षत्र और वार में ऋद्धि सिद्धि के दाता भगवान श्रीगणेश की स्थापना करने से घर परिवार में सुख समृद्धि का वास होता है। भाद्रपद मास की चतुर्थी पर इस प्रकार का संयोग करीब 100 साल बाद बना है। गुरु स्वाति योग में 10 दिनी गणेशोत्सव में विधिवत पूजा मनोवांछित फल प्रदान करने वाली रहेगी।

मूर्ति स्थापना का मुहूर्त

गुरुवार को इंद्र, स्थिर, बुधादित्य और गजकेसरी राजयोग में गणेश की स्थापना और पूजा करनी चाहिए। पुराणों के अनुसार गणेश का जन्म समय अपराह्न काल में (सुबह 11:20 से दोपहर 1:30 तक) माना जाता है। इसलिए उनकी स्थापना इसी काल में होनी चाहिए। इनका पूजन होना चाहिए। इसके अलावा शुभ लग्न और चौघड़िया मुहूर्त में भी गणेशजी की स्थापना की जा सकती है।

गणेशोत्सव को लेकर शहर में रौनक है, श्रद्धालुओं ने मार्केट से गजानन की मूर्ति व पूजन सामग्री खरीदी, मूर्ति की स्थापना गुरुवार को घरों में की जाएगी

फरीदाबाद. गणेशोत्सव पर स्थापना को शोभायात्रा के साथ गणपति बप्पा की मूर्ति को ले जाते महाराष्ट्र मित्र मंडल के सदस्य।

पूजा व स्थापना के लिए शुभ मुहूर्त







करें मिट्‌टी के गणपति की स्थापना

पंडित लक्ष्मी नारायण के अनुसार सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि करने के बाद अपनी इच्छा के अनुसार सोने, चांदी, तांबे, पीतल या मिट्टी से बनी भगवान श्रीगणेश की प्रतिमा स्थापित करें (शास्त्रों में मिट्टी से बनी गणेश प्रतिमा की स्थापना को ही श्रेष्ठ माना है)। संकल्प मंत्र के बाद पूजन व आरती करें।

शहर में गणेश उत्सव पर कार्यक्रम

शहर में जगह-जगह गणेश उत्सव सामूहिक रूप से मिलकर मनाया जा रहा है। महाराष्ट्र मित्र मंडल की ओर से गांधी कालोनी स्थित गणेश पार्क में सार्वजनिक श्री गणेशोत्सव मनाया जा रहा है। यह उत्सव 13 से 23 सितंबर तक धूमधाम से मनाया जाएगा। सेक्टर-17 स्थित उद्योग मंत्री के निवास पर 13 से 17 सितंबर तक गणेश महोत्सव मनाया जाएगा।

X
Faridabad - आज घर-घर विराजेंगे गणपति बप्पा, धूमधाम से होगी प्राणप्रतिष्ठा
Astrology

Recommended

Click to listen..