--Advertisement--

शादी से पहले ‌1 करोड़ रु. और जगुआर न मिलने पर बारात लेकर नहीं आया दूल्हा, 51 लाख रु. तक देने को तैयार था लड़की का पिता

दहेज का लालच: दूल्हे और उसके परिजनों के खिलाफ केस दर्ज।

Dainik Bhaskar

Jun 23, 2018, 04:56 PM IST
groom refuses marriage for car demand in dowry

फरीदाबाद (हरियाणा)। दहेज लोभी दूल्हे ने एक करोड़ रुपए और जगुआर कार की मांग पूरी न होने पर शादी करने से इंकार कर दिया। लड़की के परिजनों ने लाखाें रुपए खर्च कर बेटी के हाथ पीले करने की पूरी तैयारी कर रखी थी। दूल्हा बारात लेकर नहीं आया। अब पुलिस ने लड़की के पिता की शिकायत पर दूल्हा स्वप्निल और उसके परिजनों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। 51 लाख रु. तक देने को तैयार हो गया था लड़की का पिता...

- जानकारी के अनुसार, फरीदाबाद के सेक्टर-35 के रहने वाले खजान सिंह ने बेटी की शादी दिल्ली के स्वप्निल से तय की थी। रिश्ता तय करते समय एक करोड़ रुपए और जगुआर कार की कोई बात नहीं हुई थी। सामान्य रूप से शादी की बात हुई थी।

- 20 जून को बारात आनी थी। 16 जून को लड़की पक्ष के लोग सगाई करने दिल्ली पहुंचे।

- लड़की पक्ष का आरोप है कि दूल्हे के परिजनों ने बारात लाने से पहले एक करोड़ रुपए और जगुआर कार देने की मांग रखी। ये डिमांड सुनकर लड़की के परिजन हैरान रह गए। फिर भी हैसियत के मुताबिक लड़की के पिता 51 लाख रुपए तक देने को तैयार हो गए, इसके बावजूद वो लोग नहीं माने।

- लड़की वाले बार-बार इज्जत की दुहाई देते रहे। लेकिन 20 जून को लड़का पक्ष बारात लेकर नहीं आया।

कार देने को तैयार थे लड़की के परिजन
- लड़की के परिजन जितेंद्र यादव के अनुसार, शादी करने के लिए हरसंभव लड़की पक्ष के लोग तैयार थे। लेकिन लड़के वाले अपनी डिमांड पर अड़े रहे। लड़की के परिजन मजबूरी में जगुआर कार देने को तैयार भी हो गए।

- यादव का आरोप है कि लड़के वाले एक करोड़ रुपए पर अड़ गए। रिश्तेदारों और बिचौलिए के जरिए मान मनौव्वल चलता रहा। उम्मीद थी शायद व मान जाएं। आखिर में हुआ यह कि 20 जून को बारात लेकर ही नहीं आए।

X
groom refuses marriage for car demand in dowry
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..