Hindi News »Haryana »Faridabad» सरकार की अनदेखी से गोल्ड मेडलिस्ट खिलाड़ी के विश्व कप में भाग लेने पर संकट

सरकार की अनदेखी से गोल्ड मेडलिस्ट खिलाड़ी के विश्व कप में भाग लेने पर संकट

प्रदेश सरकार की अनदेखी के कारण चार बार नेशनल किकबॉक्सिंग प्रतियोगिता में मेडल जीतने वाली खिलाड़ी के विश्व कप में...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 02, 2018, 02:00 AM IST

सरकार की अनदेखी से गोल्ड मेडलिस्ट खिलाड़ी के विश्व कप में भाग लेने पर संकट
प्रदेश सरकार की अनदेखी के कारण चार बार नेशनल किकबॉक्सिंग प्रतियोगिता में मेडल जीतने वाली खिलाड़ी के विश्व कप में भाग लेने पर संकट आ गया है। किकबॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया ने नेशनल खिलाड़ी मोनल कुकरेजा को विश्व कप टीम में शामिल तो किया है, लेकिन यह भी कहा गया है कि प्रतियोगिता में सारा खर्च खिलाड़ी को ही उठाना होगा। विश्व कप प्रतियोगिता 30 मई से 5 जून तक रूस में होगी। इसमें 15 से अधिक देशों के खिलाड़ी भाग लेंगे।

मोनल पिछले पांच साल से लगातार नेशनल किकबॉक्सिंग प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल जीत रही है। मोनल की मां निशा कुकरेजा ने बताया कि हर खिलाड़ी का सपना विश्व कप में भाग लेना होता है। इसके लिए मोनल दो साल से तैयारी कर रही थी। विश्व कप में भाग लेने के लिए मोनल का चयन भी हो गया। लेकिन प्रतियोगिता में अपनी जेब से पैसे खर्च कर भाग लेना होगा। ऐसे में ढाई लाख रुपए की व्यवस्था करना काफी मुश्किल हो गया है। वहीं किकबॉक्सिंग के खिलाड़ियों को स्पांसरशिप भी काफी मुश्किल से मिलती है। प्रतियोगिता के खर्च को लेकर मोनल के अभिभावकों ने सरकार के प्रतिनिधियों से भी संपर्क किया है। लेकिन अभी तक कोई जवाब नहीं मिला है।

मान्यता को लेकर सरकार के पास किया है आवेदन

हरियाणा किकबॉक्सिंग एसोसिएशन के मुताबिक उन्होंने मान्यता को लेकर प्रदेश सरकार के पास आवेदन किया है। सरकार की ओर से अभी तक किकबॉक्सिंग खेल को मान्यता देने पर कोई निर्णय नहीं लिया गया है। मान्यता मिलने के बाद खिलाड़ियों की कई परेशानियों का समाधान हो जाएगा। वहीं खिलाड़ी प्रदेश सरकार से मिलने वाले कैश अवॉर्ड राशि के भी हकदार होंगे।

खेल नीति पर भी उठे सवाल

खिलाड़ियों की इस समस्या ने प्रदेश सरकार की खेल नीति पर भी सवाल उठा दिए हैं। पूर्व नेशनल खिलाड़ी विजेंद्र कुमार के मुताबिक खेल नीति में सरकार ने केवल कुछ ही खेलों को शामिल किया है। जबकि कई अन्य खेल इससे अछूते रह गए हैं। ऐसे में सरकार को खेल नीति पर दोबारा से विचार करना चाहिए।

फरीदाबाद. मोनल कुकरेजा।

मान्यता न मिलने से खिलाड़ियों को होती है परेशानी

हरियाणा में किकबॉक्सिंग खेल को प्रदेश सरकार द्वारा मान्यता नहीं दी गई है। ऐसे में खिलाड़ियों को इंटरनेशनल लेवल की प्रतियोगिता में भाग लेने का खर्च खुद ही उठाना पड़ता है। इससे पहले भी एक इंटरनेशनल खिलाड़ी को अपने खर्च से विश्व कप में भाग लेना पड़ा था।

किकबॉक्सिंग खेल पालिसी के तहत नहीं आते हैं। इसलिए मोनल को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सरकार से इस मामले में बातचीत कर मोनल के विश्व कप में भाग लेने के लिए सहयोग देने का प्रयास किया जाएगा। -दीप भाटिया, उपाध्यक्ष, राज्य खेल परिषद।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Faridabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×