• Hindi News
  • Haryana
  • Faridabad
  • सुविचार िनराशा की महीन रेखा मानसिक तंत्र को उसी प्रकार पंगु बना देती है, जैसे धूल का महीन कण एक चलती घड़ी बंद कर देता है।
--Advertisement--

सुविचार िनराशा की महीन रेखा मानसिक तंत्र को उसी प्रकार पंगु बना देती है, जैसे धूल का महीन कण एक चलती घड़ी बंद कर देता है।

फरीदाबाद, गुरुवार 14 जून, 2018 कुल पेज 14+4=18| मूल्य Rs. 3.00 | वर्ष 17, अंक 351, हरियाणा आप पढ़ रहे हैं देश का सबसे विश्वसनीय और...

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2018, 02:00 AM IST
सुविचार 
 िनराशा की महीन रेखा मानसिक तंत्र को उसी प्रकार पंगु बना देती है, जैसे धूल का महीन कण एक चलती घड़ी बंद कर देता है।
फरीदाबाद, गुरुवार 14 जून, 2018

कुल पेज 14+4=18| मूल्य Rs. 3.00 | वर्ष 17, अंक 351, हरियाणा

आप पढ़ रहे हैं देश का सबसे विश्वसनीय और नंबर 1 अखबार

12 राज्य | 66 संस्करण

X
सुविचार 
 िनराशा की महीन रेखा मानसिक तंत्र को उसी प्रकार पंगु बना देती है, जैसे धूल का महीन कण एक चलती घड़ी बंद कर देता है।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..