• Hindi News
  • Haryana
  • Faridabad
  • फरीदाबाद और पलवल में आशा वर्कर्स का ब्लैक डे, निकाला जुलूस
--Advertisement--

फरीदाबाद और पलवल में आशा वर्कर्स का ब्लैक डे, निकाला जुलूस

Faridabad News - समझौते को लागू कराने की मांग को लेकर प्रदेशस्तरीय आशा वर्करों का आंदोलन 8वें दिन में प्रवेश कर गया। गुरुवार को आशा...

Dainik Bhaskar

Jun 15, 2018, 02:00 AM IST
फरीदाबाद और पलवल में आशा वर्कर्स का ब्लैक डे, निकाला जुलूस
समझौते को लागू कराने की मांग को लेकर प्रदेशस्तरीय आशा वर्करों का आंदोलन 8वें दिन में प्रवेश कर गया। गुरुवार को आशा वर्करों ने काला दिवस मनाते हुए बीके चौक से नीलम चौक तक पैदल जुलूस निकाला। सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की। प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व जिला प्रधान हेमलता, सचिव सुधापाल, कोषाध्यक्ष रेनू रावत ने संयुक्त रूप से किया। कर्मचारी नेता नरेश कुमार शास्त्री व लालबाबू शर्मा ने कहा कि सरकार एक फरवरी को हुए समझौते को लागू नहीं करना चाहती। इसलिए कर्मचारी आंदोलन करने के लिए मजबूर हैं। सर्व कर्मचारी संघ के प्रान्तीय कन्वेंशन में इस मामले को उठाया जाएगा। 15 जून को डीसी आफिस में जिलेभर से आशा वर्कर जेल भरो आंदोलन में शामिल होंगी। इस मौके पर मिडे डे मील की जिला प्रधान कमलेश चौधरी एवं स्वास्थ्य विभाग की पूर्व प्रधान मीना देवी ने भी संबोधित किया। इस मौके पर सुशीला, पूजा गुप्ता, नीलम, शाइन, प्रवीन, अनीता, उमा तिगांव, इन्दू, सीमा दयालपुर, सीमा देवी, रेखा शर्मा समेत अन्य पदाधिकारी मौजूद थे।

पलवल में आशा वर्कर्स ने सरकार के खिलाफ लगाए नारे

पलवल| आशा वर्कर्स यूनियन की हड़ताल गुरुवार को आठवें दिन भी जारी रही। आशा वर्कर्स में शुक्रवार को होने वाले जेलभरो आंदोलन को लेकर खासा उत्साह है। इन्होंने गुरुवार को शहर में जुलूस निकालकर दूसरे दिन भी सरकार विरोधी नारे लगाए और वादाखिलाफी के नोटिफिकेशन की प्रतियां जलाईं। हड़ताल की अध्यक्षता आशा वर्कर्स की प्रधान गीता देवी ने की। जबकि संचालन सरोज देवी ने किया। सर्व कर्मचारी संघ के महासचिव सुभाष लांबा ने आशा वर्कर्स यूनियन को एसकेएस को अपना समर्थन दिया और सरकार की आलोचना की। वादाखिलाफी का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि सरकार ने आज तक कोई वादा पूरा नहीं किया। सीटू के प्रांतीय उपप्रधान श्रीपाल सिंह भाटी व आशा वर्कर्स की नेता धर्मवती, मीना बीरवती व प्रीति बंैसला के अनुसार सरकार इस भीषण गर्मी में आशा वर्कर्स को आंदोलन करने के लिए मजबूर कर रही हैं। प्रदेश में 19875 आशा वर्कर सड़कों पर है।

X
फरीदाबाद और पलवल में आशा वर्कर्स का ब्लैक डे, निकाला जुलूस
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..