• Home
  • Haryana News
  • Faridabad
  • पीड़ित ने डाक्टर व एएनएम की लापरवाही की शिकायत सीएमओ से, कार्रवाई की मांग
--Advertisement--

पीड़ित ने डाक्टर व एएनएम की लापरवाही की शिकायत सीएमओ से, कार्रवाई की मांग

एक गर्भवती की जांच के दौरान लापरवाही बरतने के मामले में पीड़ित परिजन सिविल सर्जन डा. बीके राजौरा से मिले। उन्होंने...

Danik Bhaskar | Jun 15, 2018, 02:00 AM IST
एक गर्भवती की जांच के दौरान लापरवाही बरतने के मामले में पीड़ित परिजन सिविल सर्जन डा. बीके राजौरा से मिले। उन्होंने लापरवाह डाक्टर व एएनएम के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। जवाहर कालोनी निवासी वीरेंद्र के अनुसार उनकी गर्भवती प|ी सोनू ने 26 सितंबर 2017 को अपने नजदीकी अांगनवाड़ी केंद्र में पंजीकृत कराया था। वहां की एएनएम सोनू को डाक्टर के पास ले जाया करती थी। डाक्टर की हिदायत पर सोनू के अल्ट्रासाउंड कराए जा रहे थे। आरोप है कि सोनू के गर्भ में पल रहे बच्चे की कमर पर 62 गुणा 45 एमएम का फोड़ा था। जांच में डाक्टर ने यह बात नहीं बताई। जब वे प|ी को सोनीपत डिलीवरी कराने के लिए लेकर गए तो वहां डाक्टर ने इस बात का खुलासा किया। उन्होंने कहा जच्चा-बच्चा की जान को खतरा है। वे अपनी प|ी को बीके अस्पताल लाए। यहां से डाक्टर ने पल्ला झाड़ते हुए सोनू को पीजीआई रेफर कर दिया। यहां डाक्टरों ने बताया कि इस बात की जानकारी संबंधित डाक्टर को पहले दे दी जानी चाहिए थी। ताकि पहले से ही इसका इलाज शुरू किया जाता। वीरेंद्र ने कहा कि डाक्टर व एएनएम ने उन्हें जानकारी नहीं दी। जबकि अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट में बीमारी आई हुई थी। अब उनकी प|ी की डिलीवरी हो गई।