--Advertisement--

दिल्ली में अब तक का सबसे ज्यादा प्रदूषण

Faridabad News - राजस्थान के ओर से आई धूल से दिल्ली गुरुवार को भी परेशान रही। औसम एयर क्वालिटी इंडेक्स सीवियर कैटेगरी में रहा और 431...

Dainik Bhaskar

Jun 15, 2018, 02:00 AM IST
दिल्ली में अब तक का सबसे ज्यादा प्रदूषण
राजस्थान के ओर से आई धूल से दिल्ली गुरुवार को भी परेशान रही। औसम एयर क्वालिटी इंडेक्स सीवियर कैटेगरी में रहा और 431 दर्ज किया गया। वहीं, पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के प्रोजेक्ट सफर के आंकड़ांे के मुताबिक दिल्ली में गुरुवार को पीएम 10 का औसत स्तर 1263 दर्ज किया। 7 साल से दर्ज किए जा रहे प्रदूषण के आंकड़ों के मुताबिक यह पूरी दिल्ली के औसत के आधार पर पीएम 10 का सर्वाधिक स्तर है। इससे पहले 7 नवंबर 2017 को यह 700 के स्तर पर दर्ज किया गया था।

फरीदाबाद, शुक्रवार 15 जून, 2018

5 घंटे खुली हवा में सांस ली तो अस्थमा के लक्षण नजर आने लगेंगे




पीएम 10 को रेस्पायरेबल पर्टिकुलेट मैटर कहते हैं। इन कणों का साइज 10 माइक्रोमीटर होता है। इससे छोटे कणों का व्यास 2.5 माइक्रोमीटर या कम होता है। यह कण ठोस या तरल रूप में वातावरण में होते हैं। इसमें धूल, गर्द और धातु के सूक्ष्म कण शामिल हैं। हवा में इनकी 100 माइक्रो ग्राम प्रति घन मीटर की मात्रा ही स्वीकार्य होती है। बच्चों-बुजुर्गांे और सांसों की बीमारी से जूझ रहे लोगों के लिए पीएम 10 का बढ़ा स्तर सबसे ज्यादा घातक है।

कुल पृष्ठ 14+4 = 18

हरियाणा

आप पढ़ रहे हैं देश का सबसे विश्वसनीय और नंबर 1 अखबार

मूल्य Rs. 4.00 | वर्ष 17, अंक 352

अधिक ज्येष्ठ शुक्ल पक्ष- 2, 2075

क्या हो सकता है असर|दीपचंद बंधु अस्पताल के सीनियर डॉक्टर अविनाश कुमार के अनुसार पिछले 48 घंटे में दिल्ली की हवा इनका स्तर इतना ज्यादा है कि अगर कोई सामान्य इंसान खुले में लगातार 5 घंटे सांस ले तो उसमें अस्थमा के लक्षण नजर आने लगेंगे। 40 फीसदी लोगों को हार्ट अटैक की संभावना है। ऐसे में बेहतर हैं कि हम मॉर्निंग वॉक न करें।


दूसरे दिन जागा प्रशासन, राहत के चंद उपाय

रविवार तक सभी प्राइवेट कंस्ट्रक्शन पर रोक

उपराज्यपाल अनिल बैजल ने गुरुवार को आपात बैठक ली। बैठक में फैसला लिया गया कि 17 जून रविवार तक सिविल इंजीनियरिंग कंस्ट्रक्शन(प्राइवेट निर्माण) पर तत्काल प्रभाव से रोक रहेगी पीडब्ल्यूडी, एमसीडी सड़क किनारे व सेंट्रल वर्ज पर पानी का छिड़काव करेगी, मुख्य सड़कों पर झाड़ू से सफाई बंद करें। 25 जून को अगली समीक्षा बैठक होगी।

12 राज्य | 66 संस्करण

X
दिल्ली में अब तक का सबसे ज्यादा प्रदूषण
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..