• Home
  • Haryana News
  • Faridabad
  • नेशनल स्विमिंग प्रतियोगिता की लिस्ट एक दिन पहले जारी होने से अभिभावकों में रोष, जांच की मांग
--Advertisement--

नेशनल स्विमिंग प्रतियोगिता की लिस्ट एक दिन पहले जारी होने से अभिभावकों में रोष, जांच की मांग

नेशनल स्विमिंग प्रतियोगिता से एक दिन पहले चयनित खिलाड़ियों की लिस्ट जारी होने से अभिभावकों में रोष है। इन्होंने...

Danik Bhaskar | Jun 22, 2018, 02:00 AM IST
नेशनल स्विमिंग प्रतियोगिता से एक दिन पहले चयनित खिलाड़ियों की लिस्ट जारी होने से अभिभावकों में रोष है। इन्होंने हरियाणा स्विमिंग संघ पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए जांच की मांग की है। गुरुवार को अभिभावकों ने निगम सभागार में उद्योग मंत्री विपुल गोयल से मुलाकात की। उन्होंने इस मामले में कार्रवाई की मांग की। पुणे के छत्रपति शिवाजी बालेवाड़ी स्टेडियम में होने वाली नेशनल स्विमिंग चैंपियनशिप में शहर के 12 खिलाड़ी भाग लेंगे। प्रतियोगिता 24 से 29 जून तक होगी। इस चैंपियनशिप में जूनियर वर्ग में केशव, गिरधर, हर्षित, प्रियांशु महाजन, कार्तिक कादियान, मयंक यादव, समृदा विरमाणी और केशव कौशिक का चयन किया गया है। जबकि जूनियर वर्ग में मान्या गुप्ता, विभूति, मयंक मेहता को चुना गया। इसके अलावा गर्ल्स में अंजलि तंवर और हर्षिता शर्मा को टीम में शामिल किया गया। इन सभी खिलाड़ियों का चयन बहादुरगढ़ में आयोजित राज्य स्तरीय ट्रायल में बेहतर प्रदर्शन के आधार पर किया गया।

खिलाड़ियों पर लगाया पक्षपात का आरोप

अभिभावक पार्वती महाजन ने बताया कि उनका बेटा प्रियांशु हरियाणा टॉप स्वीमर में शामिल है। इसके बाद भी उसका चयन केवल एक इवेंट के लिए किया गया है। जबकि तीन इवेंट में उनका चयन होना तय था। उन्होंने बताया कि सिफारिशी खिलाड़ियों को आगे कर प्रतिभाशाली खिलाड़ियों के साथ अन्याय किया जा रहा है। इसके अलावा अभिभावक ओमप्रकाश ने कहा कि हरियाणा स्विमिंग संघ ने जान बूझकर चयनित खिलाड़ियों की दो दिन पहले लिस्ट जारी की। इससे खिलाड़ी किसी भी गलत बात पर अपील न कर सके। वहीं उन्होंने कहा कि जिला और स्टेट प्रतियोगिता में प्रदर्शन के आधार पर खिलाड़ियों का चयन होना चाहिए। उद्योग मंत्री ने अभिभावकों को आश्वासन दिया कि वह मामले की जांच कराएंगे।

नेशनल स्विमिंग चैंपियनशिप में शहर के 12 खिलाड़ी भाग लेंगे

फरीदाबाद. जिला खेल अधिकारी का पुने तबादला को लेकर नगर निगम सभागर में विपुल गोयल से मिलने पहुंचे खिलाड़ियों के अभिभावक।