Hindi News »Haryana »Faridabad» अपने ह्रदय में उस दिव्य चिंगारी, जिसे अंतरात्मा कहते हैं,

अपने ह्रदय में उस दिव्य चिंगारी, जिसे अंतरात्मा कहते हैं,

अपने ह्रदय में उस दिव्य चिंगारी, जिसे अंतरात्मा कहते हैं, को जिंदा रखने के लिए मेहनत करो। -जार्ज वाशिंगटन...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 06, 2018, 02:00 AM IST

अपने ह्रदय में उस दिव्य चिंगारी, जिसे अंतरात्मा कहते हैं,
अपने ह्रदय में उस दिव्य चिंगारी, जिसे अंतरात्मा कहते हैं, को जिंदा रखने के लिए मेहनत करो।

-जार्ज वाशिंगटन

फरीदाबाद, शुक्रवार 06 जुलाई, 2018

आषाढ़, कृष्ण पक्ष, अष्टमी, 2075

ग्राहक- आपकी भैंस की एक आंख खराब है, फिर भी 40 हजार रुपए मांग रहे हो। मालिक- तुम्हें भैंस दूध के लिए चाहिए या नैन मटक्का करने के लिए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Faridabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×