• Hindi News
  • Haryana
  • Faridabad
  • ट्रैक से डेड बॉडी को हटाने में जीआरपी को लग गए पौने चार घंटे
--Advertisement--

ट्रैक से डेड बॉडी को हटाने में जीआरपी को लग गए पौने चार घंटे

रेलवे ट्रैक से एक डेड बॉडी को हटाने में जीआरपी को पौने चार घंटे लग गए। जीआरपी के इस सुस्त रवैये के कारण ट्रेनें लेट...

Dainik Bhaskar

Jul 08, 2018, 02:00 AM IST
ट्रैक से डेड बॉडी को हटाने में जीआरपी को लग गए पौने चार घंटे
रेलवे ट्रैक से एक डेड बॉडी को हटाने में जीआरपी को पौने चार घंटे लग गए। जीआरपी के इस सुस्त रवैये के कारण ट्रेनें लेट होती रहीं जिससे यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। शुक्रवार देर शाम ओल्ड फरीदाबाद रेलवे स्टेशन पर मथुरा की ओर एक डेड बॉडी अप मेनलाइन पर करीब पौने चार घंटे पड़ी रही। इससे पैसेंजर ट्रेनों को प्लेटफार्म नंबर 4 से निकालना पड़ा जो यात्री प्लेटफार्म नंबर तीन पर ट्रेन के इंतजार में बैठे थे उन्हें चार पर जाना पड़ा।

सोहना कॉलोनी सैदपुर फरीदाबाद निवासी दिनेश चंद्र (28) शुक्रवार शाम तुगलकाबाद से न्यूटाउन जा रहा था। शाम करीब 5.10 बजे ओल्ड रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर तीन से मथुरा की ओर अागे ट्रेन से गिरकर मौत हो गई। सूचना मिलने पर जीआरपी को घटना की जानकारी दी गई। रात करीब नौ बजे ट्रैक बहाल हो पाया। वहीं एक अन्य घटना में लक्कड़पुर फाटक के पास किताब लेने बदरपुर जा रहे एक किशोर की ट्रेन की चपेट में आने से मौत हो गई। उसकी पहचान दुर्गेश के रूप में हुई है। वह परिवार के साथ ग्रीन फील्ड स्कूल दयानंद कॉलोनी में रहता था। सूचना मिलने पर परिजन मौके पर पहुंचे। जीआरपी ने पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया।

मानसिक तनाव में अाकर की आत्महत्या

बाटा पेट्रोल पंप के पास रहने वाले एक व्यक्ति ने मानसिक रूप से परेशान होकर ट्रेन के सामने कूदकर आत्महत्या कर ली। सूचना मिलने पर पहुंची जीआरपी ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक की पहचान महेंद्र गुलाटी (58) के रूप में हुई है। सूचना मिलने पर पहुंचे मृतक के बेटे गौरव गुलाटी ने बताया कि वह काफी समय से मानसिक रूप से बीमार चल रहे थे। एनआईटी में एक डॉक्टर से उनका इलाज भी चल रहा था। शनिवार को वह डॉक्टर के पास जाने के लिए घर से निकले थे। जीआरपी के मुताबिक न्यूटाउन स्टेशन पर गुलाटी ने सुबह करीब 7 बजे पलवल से नई दिल्ली जा रही 64055 शटल के सामने कूदकर आत्महत्या कर ली।

लूपलाइन से निकाली गई ट्रेनें

अप मेन लाइन पर डेड बॉडी पड़ी होने से मथुरा की ओर जाने वाली सभी पैसेंजर ट्रेनों को लूपलाइन पर लेकर प्लेटफार्म नंबर चार से निकाला गया। इसमें नई दिल्ली से पलवल जाने वाली शटल 64064, मथुरा शटल 64910, 11902 गीता जयंती और इंदौर जाने वाली 12920 मालवा एक्सप्रेस को प्लेटफार्म नंबर चार पर लेकर निकालना पड़ा। प्लेटफॅार्म नंबर तीन पर बैठे यात्रियों को सामान लेकर प्लेटफार्म नंबर चार पर जाना पड़ा। रात करीब नौ बजे मेन लाइन बहाल हो पाई और हबीबगंज भोपाल एक्सप्रेस को मेनलाइन से निकाला गया। उधर जीआरपी थाना प्रभारी ओमप्रकाश का कहना है कि कई बार सूचना मिलने पर जांच अधिकारी मौजूद नहीं होते। या फिर किसी अन्य घटना की जांच में उलझे रहते हैं। ऐसे में लेट हो सकता है।

X
ट्रैक से डेड बॉडी को हटाने में जीआरपी को लग गए पौने चार घंटे
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..