• Home
  • Haryana News
  • Faridabad
  • 131 साल पुराने दो पुलों की जगह नए पुल,9 करोड़ खर्च होंगे, एक साल मेंे बनकर तैयार
--Advertisement--

131 साल पुराने दो पुलों की जगह नए पुल,9 करोड़ खर्च होंगे, एक साल मेंे बनकर तैयार

गुड़गांव और आगरा नहर पर बने 131 साल पुराने दो पुलों की जगह अब नए पुल बनेंगे। इसकी मंजूरी हरियाणा सरकार से मिल चुकी है।...

Danik Bhaskar | Jun 19, 2018, 02:00 AM IST
गुड़गांव और आगरा नहर पर बने 131 साल पुराने दो पुलों की जगह अब नए पुल बनेंगे। इसकी मंजूरी हरियाणा सरकार से मिल चुकी है। जबकि यूपी सरकार से इसी सप्ताह मिल जाएगी। करीब नौ करोड़ रुपए की लागत से ये पुल बनाए जाएंगे। इनका निर्माण कार्य 31 जुलाई के बाद से शुरू होगा। एक साल के अंदर दोनों पुल बनकर तैयार हो जाएंगे। यानी ग्रेटर फरीदाबाद के सेक्टरों, सोसायटियों सहित दर्जनों गांवाें को जाेड़ने वाले ये पुल वर्ष 2019 में जनता के लिए खोल दिए जाएंगे। इन पुलों से अभी हजारों लोगों को दो से ढाई किलोमीटर घूमकर आना पड़ रहा है। क्योंकि पुल पूरी तरह से जर्जर होने से इन्हें बंद कर दिया गया है। स्थानीय सांसद एवं केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने हरियाणा एवं यूपी सरकार से पैरवी कर दोनों पुलों के निर्माण की हरी झंडी दिला दी है। इन पुलों के बनाने का काम सिंचाई विभाग करेगा।

1887 के बने हंै दोनों पुल

अंग्रेजों के शासनकाल में वर्ष 1887 में ये पुल बने थे। समय के साथ क्षेत्र की आबादी बढ़ती गई। पुल पर भार बढ़ता गया। लेकिन न कभी इनकी मरम्मत कराई गई और न दूसरे पुल बनाने की योजना बनाई गई। ये पुल पूरी तरह से जर्जर होने से इन्हें बंद कर िदया गया है। ग्रामीणों का कहना है कि पुलों का कुछ हिस्सा नहर में टूटकर गिर चुका है।

केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्ण्पाल गुर्जर ने हरियाणा और यूपी सरकार से दिलाई पुलों को मंजूरी

वर्षों से चली आ रही थी मांग

बड़ौली गांव निवासी वरिष्ठ अधिवक्ता शिवदत्त वशिष्ठ, गांव की सरपंच संतोष देवी, अशोक कुमार, नरेश कुमार आदि का कहना है कि गांव के नए पुल के निर्माण के लिए ग्रामीण वर्षों से मांग कर रहे हैं। कांग्रेस के कार्यकाल में भी सरकार से पुल बनाने की मांग की जाती रही लेकिन किसी जनप्रतिनिधि ने ध्यान नहीं दिया। यहां गुड़गांव और अागरा कैनाल पर दो पुल बनने हैं। दोनों सरकारों से मंजूरी लेनी थी। मंत्री बनने के बाद केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने चुनावी वायदा पूरा करते हुए सिंचाई विभाग को पुल का प्रपोजल बनाने का आदेश दिया था। सिंचाई विभाग ने प्रपोजल बनाकर सरकार के पास भेज दिया था। करीब 15 िदन पहले हरियाणा सरकार ने पुल बनाने की मंजूरी दे दी है।

यूपी सरकार से इसी सप्ताह मिल जाएगी मंजूरी : गुर्जर

केंद्रीय राज्यमंत्री गुर्जर के अनुसार आगरा कैनाल पर पुल बनाने के लिए प्रपोजल यूपी सरकार को भेजा जा चुका है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से इस संबंध में बात हो चुकी है। उन्होंने सिंचाई विभाग के एचओडी को फाइल मंजूर करने का आदेश दे दिया है। उम्मीद है एक सप्ताह में यूपी सरकार से आगरा कैनाल पर पुल बनाने की मंजूरी मिल जाएगी। उन्होंने कहा कि यूपी सरकार मंझावली और बड़ौली पुल बनाने में पूरा सहयोग दे रही है।

इन इलाकों को मिलेगा फायदा

पुल बनने से नहरपार के सेक्टर-75, 76, 77, 78, 79, 80, गांव बड़ौली, प्रह्लादपुर, नीमका, मिर्जापुर, तिगांव, नवादा, भतौला, बुढ़ैना, फतेहपुर, मंझावली, मंडावली, भैसरावली, जसाना, अलीपुर, घरोंड़ा, खेड़ी, भूपानी आदि दर्जनों गांवों के लोगों को फायदा होगा। यह पुल मास्टर रोड से जुड़ेगा। बड़ौली के लोगों का कहना है कि अभी लोगों को गांव आने-जाने के िलए करीब दो से ढाई किलोमीटर बीपीटीपी पुल और सेक्टर-8 श्मशान वाले पुल से घूमकर आना-जाना पड़ता है।