Hindi News »Haryana »Faridabad» विपक्षी पार्टियों ने भाजपा विधायक से मांगा इस्तीफा

विपक्षी पार्टियों ने भाजपा विधायक से मांगा इस्तीफा

ग्रीनफील्ड कॉलाेनी के लोगों को बिजली मांगने के बदले जेल भिजवाने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। विपक्षी पार्टियों...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 27, 2018, 02:00 AM IST

ग्रीनफील्ड कॉलाेनी के लोगों को बिजली मांगने के बदले जेल भिजवाने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। विपक्षी पार्टियों ने इस मामले में भाजपा सरकार को घेरना शुरू कर दिया है। कांग्रेस और समाजवादी पार्टी ने बड़खल विधायक सीमा त्रिखा के इस्तीफे की मांग करते हुए एनआईटी थाना प्रभारी के खिलाफ कार्रवाई करने की सरकार से मांग की है। विपक्षी नेताओं का कहना है कि जो सरकार 24 घंटे बिजली देने का दावा करती है उसी के राज में बिजली मांगने पर लोगों को जेल भिजवाया जा रहा है। इससे बड़ा दुर्भाग्य और क्या हो सकता है।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया प्रभारी विजय कौशिक ने जारी बयान में कहा है कि ऐसा अमानवीय व्यवहार करने वाले एसएचओ को खट्टर सरकार तुरंत प्रभाव से बर्खास्त करे। जिसने मानवाधिकारों का उल्लंघन कर बिजली की समस्या से परेशान लोगों के साथ जघन्य अपराधियों की तरह व्यवहार किया। कौशिक ने प्रदेश के सीएम पर तंज कसते हुए कहा कि उनकी सरकार में जब उन्हीं के मंत्री व विधायकों की नहीं सुनी जा रही है तो आम जनता की कौन सुनेगा। प्रदेश के मंत्री विपुल गोयल ने एसएचओ को लाइन हाजिर करने के लिए कहा है। जबकि इस अपराध के लिए एसएचओ को बर्खास्त किया जाना चाहिए। कौशिक ने कहा कि जब भाजपा नेता चुनाव में घर-घर वोट मांगते हुए घूम रहे थे तब लोगों से कहते थे कि आप लोगों की कोई समस्या हो तो आधी रात भी हमारे दरवाजे आपके लिए खुले हैं। लेकिन अब विधायक ने अपने घर के दरवाजे बंद कर लिए हैं। समाजवादी पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सुरेंद्र सिंह भाटी ने कहा है कि बिजली, पानी व कानून व्यवस्था की बदतर स्थिति से परेशान जनता अगर चुने हुए नुमाइंदों के पास नहीं जाएगी तो कहां जाएगी। ग्रीनफील्ड कॉलोनी के लोगों का कसूर क्या था, जिन्हें कपड़े उतरवा कर हवालात में पूरी रात बंद रखा गया। ये लोग तो केवल अपनी समस्या बताने विधायक के पास गए थे। लेकिन वहां उनके साथ ऐसा व्यवहार किया गया जैसे वे आपराधिक किस्म के लोग हों। थाना प्रभारी की इतनी हिमाकत की उसने बिजली मांगने पर लोगों को हवालात में बंद कर दिया। उसने किसने कहने पर लोगों को हवालात में डाला इसकी पूरी जांच होनी चाहिए। भाटी ने विधायक से इस्तीफा मांगते हुए थाना प्रभारी को बर्खास्त करने की मांग की है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Faridabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×