• Home
  • Haryana News
  • Faridabad
  • ट्रेनों की लेटलतीफी व कम िडब्बों की शिकायत पीएम से
--Advertisement--

ट्रेनों की लेटलतीफी व कम िडब्बों की शिकायत पीएम से

भास्कर न्यूज | फरीदाबाद/पलवल ट्रेनों की लेटलतीफी से परेशान होकर दैनिक याित्रयों की इसकी शिकायत प्रधानमंत्री...

Danik Bhaskar | Jul 03, 2018, 02:00 AM IST
भास्कर न्यूज | फरीदाबाद/पलवल

ट्रेनों की लेटलतीफी से परेशान होकर दैनिक याित्रयों की इसकी शिकायत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से की है। इसमें याित्रयों ने रेलवे अधिकारियों पर जान बूझकर लोकल ट्रेनों को लेट करने का आरोप लगाया है। याित्रयों का कहना है कि ट्रेन लेट होने से न वह समय पर दफ्तर पहुंच पा रहे हैं अौर न घर। रही सही कसर कोच संख्या कम कर पूरी की जा रही है। ऐसे में बड़ी संख्या में यात्री सुरक्षित तरीके से कैसे यात्रा कर पाएंगे। याित्रयों ने पीएम से लोकल ट्रेनों को नियत समय पर चलवाने की मांग की है। पिछले सप्ताह दैनिक याित्रयों ने लोकल ट्रेनों में कोच कम करने और लेट होने से नाराज होकर पलवल स्टेशन पर दिल्ली जा रही 64055 के सामने हंगामा किया था। इससे करीब दस मिनट तक ट्रेन खड़ी रही। इस ट्रेन में कोच की संख्या दस से घटाकर आठ कर दी गई। जबकि इस ट्रेन में सबसे अधिक यात्री सफर करते हैं। पलवल से नई दिल्ली तक सफर करने वाले दैनिक यात्री सुनील दत्त शर्मा, दीपक मनचंदा एवं रेल पैसेंजर्स वेलफेयर एसोसिएशन के उपाध्यक्ष दिनेश गुप्ता ने शिकायत पुस्तिका में शिकायत दर्ज कराई।

प्रधानमंत्री से शिकायत करने वाले दैनिक यात्री दिनेश गुप्ता ने कहा कि रेलवे की शिकायत पुिस्तका में दर्ज होने वाली शिकायतों की सिर्फ खानापूर्ति की जाती है। इस पर कोई एक्शन नहीं लिया जाता। इसीलिए सीधे प्रधानमंत्री से शिकायत की गई। जिससे पलवल से नई दिल्ली तक विभिन्न स्टेशनों से रोज आने-जाने वाले सवा लाख याित्रयों को सुिवधा मिल सके। उन्होंने कहा शिकायत पीजी पोर्टल डॉट जीओवी डॉट इन पर की गई। इसके जरिए पीएम से लोकल ट्रेनों को समय पर चलवाने की मांग की गई है।

कार्रवाई न होने की आशंका से पीएम से की शिकायत

ट्रेन के लिए दो से ढाई घंटे करना पड़ता है इंतजार

रेल पैंसेजर्स वेलफेयर एसोसिएशन के प्रधान प्रकाश मंगला एवं दैनिक यात्री संघ कोसीकलां के प्रधान दीपक अग्रवाल का कहना है कि शाम को नई दिल्ली से कोसी अथवा मथुरा तक जाने वाली शटल अक्सर लेट रहती है। ट्रेन दो से ढाई घंटे लेट चलती है। एसोसिएशन के पदािधकारियों का कहना है कि दिल्ली से पलवल तक 60 किलोमीटर की दूरी तय करने में डेढ़ घंटे का वक्त लगता है। दैनिक यात्री दो से ढाई घंटे ट्रेनों के इंतजार में बिताने के लिए मजबूर हैं।