• Hindi News
  • Haryana
  • Faridabad
  • फ्लैट धारकों की समस्या का नहीं हुआ समाधान, अब बिल्डर का विरोध
विज्ञापन

फ्लैट धारकों की समस्या का नहीं हुआ समाधान, अब बिल्डर का विरोध / फ्लैट धारकों की समस्या का नहीं हुआ समाधान, अब बिल्डर का विरोध

Bhaskar News Network

Jul 13, 2018, 02:00 AM IST

Faridabad News - बिल्डर्स की मनमानी से परेशान सेक्टर-86 स्थित बीपीटीपी प्रिंसेस पार्क सोसायटी के फ्लैट धारकों की एक बैठक हुई। इसमें...

फ्लैट धारकों की समस्या का नहीं हुआ समाधान, अब बिल्डर का विरोध
  • comment
बिल्डर्स की मनमानी से परेशान सेक्टर-86 स्थित बीपीटीपी प्रिंसेस पार्क सोसायटी के फ्लैट धारकों की एक बैठक हुई। इसमें फ्लैट धारकों की समस्याओं के समाधान के लिए बिल्डर को भी बुलाया गया था, लेकिन बैठक में समस्याओं को लेकर कोई समाधान नहीं निकला। इससे बैठक बेनतीजा रही। ऐसे में अब सोसायटी के 1000 परिवारों ने रविवार को मीटिंग कर बिल्डर के खिलाफ आगे के आंदोलन की रूपरेखा तय करने की योजना बनाई है।

विधायक की मध्यस्थता भी नहीं आई काम

बीपीटीपी प्रिंसेस पार्क सोसायटी के लोगों का आरोप है कि बिल्डर उनसे मेंटिनेंस चार्ज और बिजली बिल के नाम पर अधिक पैसे वसूला रहा है। इसके विरोध में इन्होंने शनिवार को बिल्डर के खिलाफ धरना दिया था। धरने की सूचना मिलने पर तिगांव क्षेत्र के विधायक ललित नागर मौके पर पहुंचे थे। तब उन्हें फ्लैट धारकों ने अपनी समस्याएं बताई थीं। उनकी समस्याएं सुनने के बाद विधायक ने बीपीटीपी कंपनी के अधिकारियों से बात की थी। तब बिल्डर ने बैठक कर समस्याओं का समाधान निकालने का आश्वासन दिया था। बुधवार को सोसायटी में बिल्डर कंपनी के अधिकारियों और फ्लैट धारकों के बीच मीटिंग हुई, लेकिन यह बेनतीजा रही।

सोसायटी की आरडब्ल्यूए के प्रधान डाॅ. रामभगत ने आरोप लगाया कि बिल्डर ने सोसायटी में घटिया क्वालिटी की अंडर ग्राउंड बिजली की केबल डाल रखी है। इससे उसमें अक्सर फॉल्ट आ जाता है। जब यह फॉल्ट आ जाता है तो बिल्डर जनरेटर से बिजली देता है। इसके लिए बिल्डर लगभग 23 रुपए प्रति यूनिट चार्ज वसूलता है, जबकि सरकारी बिजली का रेट करीब 5.80 रुपए प्रति यूनिट है। यही नहीं बिल्डर बिजली कट की बात कहकर कई-कई घंटे जनरेटर से बिजली दी जाती है। ऐसा इसलिए बिल्डर करता है। क्योंकि उसे जेनरेटर से बिजली के रेट अच्छे मिलते हैं। इसलिए अधिकतर सप्लाई जनरेटर से ही की जाती है। यही नहीं बिल्डर ने कम क्षमता वाले जनरेटर लगा रखे हैं। इससे फ्लैटों में ठीक से बिजली नहीं पहुंच पाती है। उन्होंने बैठक में यह भी आरोप लगाया कि कॉमन एरिया मेंटिनेंस चार्ज के रूप में भी बिल्डर अधिक पैसे वसूल रहा है। बिल्डर टैक्स लगाकर 2.45 रुपए प्रति स्क्वेयर फीट ले रहा है।

बिल्डर की मनमानी से हजार परिवार परेशान

बिल्डर की मनमानी से सोसायटी में रह रहे लगभग हजार परिवार परेशान हैं। डॉ. राम भगत के अनुसार इन मुद्दों को बैठक में रखा गया। लेकिन बिल्डर कंपनी के अधिकारियों ने इनके समाधान के लिए कोई रुचि नहीं दिखाई। ऐसे में सोसायटी के लोग रविवार को मीटिंग कर आगे के आंदोलन की रणनीति बनाएंगे। उधर मार्केटिंग कंपनी के एजीएम रोहित मोहन चार्ज के हिसाब से लोगों को सुविधाएं देने बात कह रहे हैं। मीटिंग में बिल्डर की तरफ से तरनदीप सिंह, इमरान खान, देवेंद्र बजाज व सोसायटी की तरफ से अरुमॉय चक्रवर्ती, रघुवीर सिंह, जुगल किशोर गोयल, अवतार सिंह, संजय दुग्गल आदि मौजूद थे।

X
फ्लैट धारकों की समस्या का नहीं हुआ समाधान, अब बिल्डर का विरोध
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543
विज्ञापन