Hindi News »Haryana »Faridabad» वाईएमसीए के कम्युनिटी कॉलेज में 26 नए पाठ्यक्रम, मिलेगा रोजगार

वाईएमसीए के कम्युनिटी कॉलेज में 26 नए पाठ्यक्रम, मिलेगा रोजगार

वाईएमसीए यूनिवर्सिटी द्वारा संचालित कम्युनिटी कॉलेज ऑफ स्किल डेवलपमेंट के तहत नए शैक्षणिक सत्र 2018-19 से 15 दिन से...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 13, 2018, 02:00 AM IST

वाईएमसीए के कम्युनिटी कॉलेज में 26 नए पाठ्यक्रम, मिलेगा रोजगार
वाईएमसीए यूनिवर्सिटी द्वारा संचालित कम्युनिटी कॉलेज ऑफ स्किल डेवलपमेंट के तहत नए शैक्षणिक सत्र 2018-19 से 15 दिन से लेकर पांच वर्ष की अवधि के सर्टिफिकेट, डिप्लोमा, एडवांस डिप्लोमा व वोकेशन में स्नातक सहित 26 नए पाठ्यक्रम शुरू होंगे। नए सत्र से शुरू हो रहे पाठ्यक्रमों में रेफ्रिजरेशन, एयरकंडीशनिंग, घरेलू उपकरण प्रशिक्षण, इलेक्ट्रीशियन, फिटर, टर्नर, वैल्डिंग, वेब डिजाइनिंग, कंप्यूटर सॉफ्टवेयर, हार्डवेयर एंड नेटवर्किंग व योग एवं नेचुरोपैथी के पाठ्यक्रम शामिल हैं। इनके लिए आवेदन आमंत्रित हैं। सभी पाठ्यक्रमों के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता दसवीं एवं 12वीं पास हैं। आवेदन की अंतिम तिथि 16 अगस्त है।

कम्युनिटी कॉलेज के नए पाठ्यक्रमों की घोषणा करते हुए कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने कहा कि विश्वविद्यालय द्वारा संचालित कम्युनिटी कालेज का उद्देश्य साधन से वंचित आर्थिक व शैक्षणिक रूप से कमजोर युवाओं का कौशल विकास कर उन्हें रोजगार के योग्य बनाना है। कॉलेज द्वारा शुरू किए गए नए पाठ्यक्रमों से कामगार एवं बेरोजगार युवा तकनीकी रूप से और अधिक सक्षम व रोजगार योग्य बनेंगे। इससे इन पाठ्यक्रमों में दाखिला लेने वाले युवाओं को रोजगार के सुनिश्चित अवसर मिलेंगे।

15 दिन से 5 साल तक के कोर्स

प्रिंसिपल डा. संजीव गोयल के अनुसार विश्वविद्यालय द्वारा वर्ष 2013 में कम्युनिटी कालेज शुरू किया गया था। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) से मान्यता प्राप्त कम्युनिटी कालेज में शैक्षणिक सत्र 2014-15 से वैल्डिंग एवं इलेक्ट्रीशियन का एक वर्षीय डिप्लोमा कोर्स कराया जा रहा है। डा. गोयल के अनुसार विश्वविद्यालय द्वारा एयरकंडीशन के क्षेत्र में अग्रणी कंपनी डेकिन की सहभागिता में एयरकंडीशनिंग में पांच वर्षीय एकीकृत पाठ्यक्रम शुरू किया जा रहा है। इसमें दाखिला के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता 10वीं है। सीटों की संख्या 60 है। इस पांच वर्षीय पाठ्यक्रम की खास बात यह है कि पाठ्यक्रम में लेटरल एंट्री व लेटरल एग्जिट का प्रावधान रहेगा। अर्थात एक वर्ष के बाद कोर्स छोड़ने पर सर्टिफिकेट, दूसरे वर्ष के बाद एडवांस सर्टिफिकेट, तीसरे वर्ष के बाद डिप्लोमा, चौथे के बाद एडवांस डिप्लोमा व पांचवें वर्ष के बाद वोकेशन में स्नातक की डिग्री प्रदान की जाएगी। इसी प्रकार गोदरेज दिशा कंपनी के साथ सहभागिता में 15 दिन की अवधि से लेकर तीन माह की अवधि के आठ सर्टिफिकेट व एडवांस सर्टिफिकेट पाठ्यक्रम शुरू किए जा रहे हैं। इसमें युवाओं को रेफ्रिजरेशन, एयरकंडीशन, वाशिंग मशीन, माइक्रोवेव जैसे घरेलू उपकरणों को रिपेयर करना सिखाया जाएगा।

नए पाठ्यक्रमों से कामगार एवं बेरोजगार युवा तकनीकी रूप से बनेंगे और अधिक सक्षम

इसके अलावा प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के अंतर्गत सीएनसी ट्यूनिंग, एआरसी वैल्डिंग व असिस्टेंट इलेक्ट्रीशियन के तीन-तीन माह के तीन पाठ्यक्रम व विश्वविद्यालय द्वारा वेबडिजाइनिंग, कम्प्यूटर सॉफ्टवेयर, हार्डवेयर व नेटवर्किंग एवं योग विज्ञान में एक वर्ष के तीन डिप्लोमा पाठ्यक्रमों के लिए भी आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। सभी पाठ्यक्रमों में दाखिले के इच्छुक युवा विश्वविद्यालय की वेबसाइट http://www.ymcaust.ac.in या http://www.ccsd.net.in पर उपलब्ध प्रास्पेक्ट्स व आवेदन पत्र डाउनलोड कर सकते हैं। इस संबंध में कॉलेज के दूरभाष नम्बर 0129-2310175 पर भी संपर्क किया जा सकता है।

16 अगस्त तक करें आवेदन

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Faridabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×