• Home
  • Haryana News
  • Faridabad
  • किंग ऑफ ट्रेजेडी नाटक ने आदमी को जीवन में संघर्ष करने की दी सीख
--Advertisement--

किंग ऑफ ट्रेजेडी नाटक ने आदमी को जीवन में संघर्ष करने की दी सीख

सेक्टर-12 स्थित हुडा कनवेंशन सेंटर में चल रहे तीसरे संभार्य थिएटर फेस्टिवल में रविवार को किंग ऑफ ट्रेजेडी नाटक का...

Danik Bhaskar | Jun 18, 2018, 02:05 AM IST
सेक्टर-12 स्थित हुडा कनवेंशन सेंटर में चल रहे तीसरे संभार्य थिएटर फेस्टिवल में रविवार को किंग ऑफ ट्रेजेडी नाटक का मंचन किया गया। इसके माध्यम से चार्ली चैपलीन के जीवन को दिखाया गया। नाटक के बाद दर्शकों ने कलाकारों का स्वागत किया।

संभार्य थिएटर फेस्टिवल संभार्य फाउंडेशन और फरीदाबाद इंडस्ट्री एसोसिएशन द्वारा आयोजित किया गया है। रविवार को चार्ली चैपलीन के जीवन को नाटक के जरिए दिखाया गया। कलारथी ग्रुप द्वारा पेश किए गए नाटक किंग ऑफ ट्रेजेडी के लेखक कुलदीप कुणाल हैं और निर्देशक कशिश देवगन केडी। इन्होंने नाटक को इस तरह से पेश किया कि मानो चार्ली जीवंत हो उठे हों। नाटक की शुरुआत सबसे पहले उनके जन्म से होती है। 6 अप्रैल 1889 को चार्ली चैपलीन का जन्म होता है। इसके बाद उनके जीवन में कई उतार-चढ़ाव आते हैं। लेकिन चार्ली अपने हाव भाव व शारीरिक बनावट से लोगों को हंसने के लिए मजबूर कर देते हैं। हालांकि चार्ली के जीवन में कई कठिन समय भी आए लेकिन उन्होंने इन कठिनाइयों का सामना करने के साथ-साथ लोगों को हंसाना नहीं छोड़ा। नाटक के माध्यम से कलाकारों ने यह बताया कि आदमी को अपने जीवन में लगातार संघर्ष करते रहना चाहिए। यह संघर्ष ही उसके हर एक दुख को खत्म कर सकता है। चार्ली ने भी ऐसा ही किया। नाटक में कलाकार अक्षय रावत, शिवम शर्मा, विकास ठाकुर, अंकित पारिख, अनिरुद्ध राव, रजत यदुवंशी, मानसी भारद्वाज, कुलदीप देवगन, स्तुति शर्मा, गुरुप्रीत कौर ने बेहतर प्रदर्शन किया। इस मौके पर मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद स्टार वायर के मालिक एसके गोयल ने कहा कि शहर के लिए यह गर्व की बात है कि लगातार तीसरे साल इस तरह का फेस्टिवल हो रहा है। उन्होंने कहा इस तरह शहर में थिएटर फेस्टिवल का आयोजन होते रहना चाहिए।

रविवार को हुए किंग ऑफ ट्रेजेडी नाटक के माध्यम से चार्ली चैपलीन के जीवन को बखूबी दिखाया गया

फरीदाबाद. सेक्टर 12 स्थित हूडा कनवेंशन सेंटर में चल रहे तीसरे संभार्य थियेटर फेस्टिवल में किंग ऑफ ट्रेजेडी नाटक का मंचन किया गया।