फरीदाबाद

  • Hindi News
  • Haryana News
  • Faridabad
  • करियर चयन से पहले विद्यार्थी अपनी क्षमता व रुचि का मूल्यांकन खुद करें : प्रो. कुमार
--Advertisement--

करियर चयन से पहले विद्यार्थी अपनी क्षमता व रुचि का मूल्यांकन खुद करें : प्रो. कुमार

वाईएमसीए विश्वविद्यालय में ‘करियर मार्गदर्शन एवं परामर्श’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें विद्यार्थियों को...

Dainik Bhaskar

Jun 18, 2018, 02:05 AM IST
वाईएमसीए विश्वविद्यालय में ‘करियर मार्गदर्शन एवं परामर्श’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें विद्यार्थियों को 12वीं कक्षा के बाद विभिन्न करियर विकल्पों की जानकारी, मार्गदर्शन व परामर्श दिया गया। कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने कहा कि विद्यार्थी अपनी क्षमता व रुचि अनुरूप करियर का चयन करें। उन्होंने कहा कि करियर चयन से पहले विद्यार्थी अपनी क्षमता व रुचि का मूल्यांकन खुद करें कि किस क्षेत्र में वह अपना शत-प्रतिशत देने में रुचि रखता है। वाईएमसीए द्वारा विभिन्न नए अंडर ग्रेजुएट पाठ्यक्रम शुरू किए गए हैं। इसमें 12वीं के बाद दाखिला लिया जा सकता है। इन पाठ्यक्रमों में मैथ, फिजिक्स व केमिस्ट्री में बीएससी आॅनर्स, मल्टीमीडिया व एनीमेशन में बीएससी, बीसीए व बीबीए शामिल हैं। इसके अलावा नए शिक्षण सत्र से सिविल इंजीनियरिंग में बीटेक भी शुरू किया गया है। बीटेक कंप्यूटर इंजीनियरिंग में सीटों की संख्या बढ़ाई गई है। बीटेक पाठ्यक्रमों के लिए दाखिला हरियाणा राज्य तकनीकी शिक्षा परिषद द्वारा आॅनलाइन काउंसलिंग के आधार पर किया जाता है। कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने कहा कि नए पाठ्यक्रमों के शुरू होने से वाईएमसीए में पढ़ने के इच्छुक विद्यार्थियों के लिए अब 12वीं के बाद करियर के कई विकल्प उपलब्ध हो गए हैं। विद्यार्थी अपनी रुचि अनुरूप पाठ्यक्रम का चयन कर सकते हैं। कुलपति ने कहा कि इंजीनियरिंग के इच्छुक विद्यार्थियों के लिए सबसे महत्वपूर्ण है कि वे अपने जेईई परीक्षा में रैंक के अनुरूप निर्णय लें। यदि रैंक अच्छी है तो आईआईटी या एनआईटी की प्राथमिकता होनी चाहिए। यदि औसत रैंक है तो विद्यार्थियों को करियर का चयन करते हुए सतर्कता जरूरी है। ऐसे विद्यार्थियों को अपनी पसंद के क्षेत्र को प्राथमिकता देनी चाहिए। इसलिए स्टूडेंट्स के लिए करियर का चयन करते समय रोजगार के भावी संभावनाओं पर भी ध्यान देने की जरूरत है।

इस मौके पर फरीदाबाद के जाने-माने उद्यमी एसएस बांगा ने अपने अनुभव के आधार पर विद्यार्थियों का मार्गदर्शन किया। इसके अलावा कार्यक्रम को विभिन्न स्थानीय शिक्षण संस्थानों के प्रतिनिधियों ने करियर को लेकर विद्यार्थियों के सवालों का जवाब दिया।

X
Click to listen..