Hindi News »Haryana »Faridabad» अब ऑनलाइन होगी बीके में मरीजों की जांच

अब ऑनलाइन होगी बीके में मरीजों की जांच

बीके सिविल अस्पताल में अब मरीजों को जांच रिपोर्ट के लिए नहीं भटकना पड़ेगा। अब सभी जांच रिपोर्ट को ऑनलाइन किया जा...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 23, 2018, 02:05 AM IST

  • अब ऑनलाइन होगी बीके में मरीजों की जांच
    +1और स्लाइड देखें
    बीके सिविल अस्पताल में अब मरीजों को जांच रिपोर्ट के लिए नहीं भटकना पड़ेगा। अब सभी जांच रिपोर्ट को ऑनलाइन किया जा रहा है। इसमें मरीज की जांच का हर रिकॉर्ड डॉक्टर ऑनलाइन अपनी कंप्यूटर स्क्रीन पर देख सकेंगे। बीके में मरीज से जुड़े हर वर्क को पेपरलेस किया जा रहा है। ऐसे में अब एक्सरे के लिए फिल्म की जरूरत खत्म हो जाएगी। बल्कि रेडियो डायग्नोसिस ही नहीं दूसरे विभाग के डॉक्टर भी रिपोर्ट को ऑनलाइन देख सकेंगे। मरीजों को भी बड़े लिफाफे में फिल्म लेकर घूमना नहीं पड़ेगा। इससे फिल्म खो जाने का डर भी खत्म हो जाएगा। इस सुविधा को शुक्रवार से मरीजों के लिए शुरू कर दिया गया है। इससे राेज हजारों मरीजों का फायदा मिलेगा। बीके में रोज करीब हजार से डेढ़ हजार मरीजों की ओपीडी होती हैं। जिन्हें रिपोर्ट के लिए धक्के खाने पड़ते हैं। इस सुविधा के शुरु होने से अब ऐसा नहीं होगा।

    पहले चरण में ओपीडी ऑनलाइन

    बीके अस्पताल को फुल पेपरलेस करने की कवायद चल रही है। इसके पहले चरण में अस्पताल की ओपीडी को ऑनलाइन किया जा रहा है। इसके तहत मरीजों को रजिस्ट्रेशन होने के बाद अब जब मरीज डॉक्टर के पास जाएगा तो डॉक्टर वहां से पेशेंट के एक्सरे, अल्ट्रासाउंड या ब्लड से संबंधित टेस्ट के बाद ऑनलाइन ही अपने कंप्यूटर में डिटेल डालेंगे। यह डिटेल सीधे सॉफ्टवेयर सर्वर के जरिए एक्सरे विभाग, अल्ट्रासाउंड व लैब में पहुंच जाएगी। अब पेशेंट को डॉक्टर अलग से काेई पर्ची काटकर नहीं देखेंगे। पेशेंट की जांच के बाद उसे संबंधित एक्सरे विभाग में भेज दिया जाएगा। जहां नंबर सीरीज के हिसाब से मरीज का नंबर आएगा।

    नहीं देंगे एक्सरे, डॉक्टर ऑनलाइन देखेंगे रिपोर्ट, रिकॉर्ड को यूनिक आईडी से कहीं भी देख सकेंगे

    हजारों मरीजों को

    होगा फायदा

    1000से 1500 बीके में रोज ओपीडी

    100-150लोगों के एक्स-रे होते हैं

    30-40अल्ट्रासाउंड होते हैं।

    100सैंपल रोज लिए जाते हैं

    ऑनलाइन सुविधा शुरू होने से मरीजों को अब रिपोर्ट के लिए भटकना नहीं पड़ेगा।

    रिपोर्ट का इंतजार नहीं करना पड़ेगा।

    रिपोर्ट बनते ही सीधे डॉक्टर के पास ऑनलाइन पहुंचेगी।

    जहां डॉक्टर रिपोर्ट देखने के बाद मरीज का इलाज शुरू करेंगे।

    ओपीडी, एक्सरे, अल्ट्रासाउंड और लैब को किया गया अटैच्ड, अगले चरण में फार्मेसी को करेंगे शामिल

    फरीदाबाद. बीके सिविल अस्पताल में इलाज करने लिए हजारों मरीज रोज आते हैं।

    ऑनलाइन जाएगी जांच रिपोर्ट

    एक्सरे होने के बाद अब मरीज को रिपोर्ट नहीं दी जाएगी। अभी तक मरीज को फिल्म निकालकर दी जाती थी। इसे लेकर मरीज फिर से डॉक्टर के पास जाता था। लेकिन अब यह फिल्म लेकर घूमना नहीं पड़ेगा। एक्स-रे होने के बाद मरीज की पूरी रिपोर्ट ऑनलाइन फिर से संबंधित डॉक्टर को भेज दी जाएगी। यहां से मरीज को फिर से डॉक्टर के पास भेजा जाएगा। जहां मरीज के नाम से ही रिपोर्ट खुल जाएगी। यहां डॉक्टर मरीज के सामने अपने कंप्यूटर पर ही मरीज की रिपोर्ट देकर उसे दवा रिकमंड करेंगे।

    ऑनलाइन सिस्टम शुरू होने से अब मरीजों को रिपोर्ट खाेने का डर भी खत्म हो जाएगा। कई बार मरीज एक्स-रे व अन्य जांच करा लेते हैं। लेकिन जब वह डॉक्टर के पास दोबारा फॉलोअप के लिए आते हैं तो उनकी रिपोर्ट उनसे खो जाती है। ऐसे में मजबूरन डॉक्टर को फिर से मरीज की सारी जांच लिखनी पड़ती हैं। मरीज को भी फिर से पूरी जांच करानी पड़ती है। लेकिन ऑनलाइन सिस्टम होने के बाद मरीजों की यह सिरदर्दी भी खत्म हो जाएगी। क्योंकि अब रिपोर्ट खोने का डर नहीं रहेगा। मरीज की जांच से संबंधित सभी डाटा ऑनलाइन रिकॉर्ड होगा। इसे मरीज को अपने साथ अपनी रिपोर्ट नहीं लानी पड़ेगी। वह डॉक्टर के पास आकर ऑनलाइन ही अपनी सभी रिपोर्ट की जांच करा सकेगा।

    अब नहीं रहेगा रिपोर्ट खोने का डर

    फरीदाबाद. बीके सिविल अस्पताल में मरीजों के लिए नई सुविधा शुरू, ओपीडी को किया पेपरलैस, मरीजों का सारा रिकॉर्ड हाेगा ऑनलाइन दर्ज।

    हर मरीज को मिलेगी यूनिक आईडी

    जांच के दौरान मरीज को यूनिक आईडी दी जाएगी। इसकी मदद से वह हरियाणा के किसी भी जिले के सरकारी अस्पताल में जाकर अपनी रिपोर्ट डॉक्टर को दिखा सकेंगे। उन्हें यह रिकॉर्ड हमेशा अपने साथ लेकर फाइल में मेंटेन करने की जरूरत नहीं होगी। पेशेंट की जांच यहां हुई और वह रहने वाला गुड़गांव का है तो भविष्य में उसे कुछ स्वास्थ्य समस्या होती है तो वह अस्पताल में जाकर वहां डॉक्टर को अपनी यूनिक आईडी व नाम बताकर अपना रिकॉर्ड खुलवा सकेगा। मरीजों की जांच ऑनलाइन होने से एक्स-रे फिल्म की जरूरत नहीं पड़ेगी।

    डॉक्टर ऑनलाइन रिपोर्ट चेक कर ट्रीटमेंट करेंगे

    इसका फायदा मरीजों के साथ डॉक्टरों काे भी होगा। इसमें ऑनलाइन रिपोर्ट देखी जा सकेगी। मरीजों को एक्सरे फिल्म देने की जरूरत नहीं पड़ेगी। मरीज सिर्फ वहां जाएगा, जहां जांच होगी। उसकी रिपोर्ट ऑनलाइन संबंधित डॉक्टर को भेज दी जाएगी। डॉक्टर ऑनलाइन रिपोर्ट चेक करेंगे और मरीज का ट्रीटमेंट करेंगे। इससे मरीजों का जहां समय बचेगा वहीं वर्क भी पेपरलेस होगा। पहले चरण में पूरी ओपीडी को ऑनलाइन सिस्टम से जोड़ा जा रहा है। इसके बाद फार्मेसी को भी इस सिस्टम से जोड़ा जाएगा। जिससे बीके का पूरा काम फुली पेपरलेस किया जा सके। -डॉ. वीरेंद्र यादव, पीएमओ, बीके सिविल अस्पताल।

  • अब ऑनलाइन होगी बीके में मरीजों की जांच
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Faridabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×