• Home
  • Haryana News
  • Faridabad
  • मंझावली पुल के निर्माण को लेकर लोगों को गुमराह कर रहे हैं कृष्णपाल गुर्जर : नागर
--Advertisement--

मंझावली पुल के निर्माण को लेकर लोगों को गुमराह कर रहे हैं कृष्णपाल गुर्जर : नागर

‘चलो गांव की चौपाल की ओर’ के तहत लहंडौला गांव में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें विधायक ललित नागर ने भाजपा...

Danik Bhaskar | Jun 25, 2018, 02:05 AM IST
‘चलो गांव की चौपाल की ओर’ के तहत लहंडौला गांव में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें विधायक ललित नागर ने भाजपा सरकार पर प्रहार किया। उन्होंने मंझावली पुल निर्माण को लेकर केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर पर हमला बोलते हुए कहा कि चुनावों को नजदीक आते देख केंद्रीय राज्य मंत्री ने मंझावली घाट पर चार पिलर खड़े कराकर लोगों को गुमराह करने का काम शुरू कर दिया है।

काम कांग्रेस के, भाजपा अपना नाम कर रही

विधायक ललित नागर ने कहा कि एक तरफ केंद्रीय राज्यमंत्री दिसंबर तक इस पुल को पूरा कराने का दावा कर रहे हैं। सच्चाई यह है कि बरसाती सीजन शुरु होने वाला है। ऐसे में यमुना में पानी का बहाव तेज हो जाएगा। इसके चलते कई माह तक पुल पर कोई कार्य होना संभव नहीं हैं, तो यह पुल दिसंबर तक कैसे तैयार होगा? नागर ने कहा कि इस पुल का शिलान्यास चार वर्ष पूर्व केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी द्वारा किया गया था। कितने दुख की बात है कि 4 वर्ष बीतने के बाद भी केंद्रीय मंत्री इस पुल को नहीं बना पाए। उन्होंने कहा कि वह कोई एक ऐसा कार्य बताए, जिसे भाजपा का विकास कहा जा सके। असल में पूर्व की कांग्रेस सरकार में शुरु की गई विकास परियोजनाओं का फीता काटकर भाजपाई वाहवाही लूटने का काम कर रहे हैं।

ग्रामीणों ने रखी गांव की समस्या

ग्रामीणों ने विधायक ललित नागर के समक्ष गांव की समस्या रखते हुए बताया कि गांव में बिजली की भारी किल्लत है। अघोषित कट के चलते गर्मी के मौसम में लोगों को जीना दुश्वार हो गया है। 24 घंटे में ग्रामीणों को मात्र 8 से 10 घंटे ही बिजली उपलब्ध हो पा रही हैं। इससे गांव में पीने के पानी की समस्या भी विकराल होती जा रही है। ग्रामीणों ने बताया कि पिछले तीन माह से बुजुर्गों को पेंशन नहीं मिल रही है। यह समस्या केवल उनके गांव की नहीं बल्कि कई अन्य गांवों में भी पेंशन न मिलने से बुजुर्ग परेशान हैं। उन्हें अधिकारी चक्कर कटवाते रहते हैं। ग्रामीणों ने बताया कि गांव के श्मशान की चारदीवारी नहीं हैं। न ही यहां टीन शैड हैं। वहीं पानी की टंकी की सफाई न होने के कारण यहां लोगों को दूषित पेयजल पीने को मजबूर होना पड़ रहा है। इसके अलावा गांव में एक कॉलेज व आईटीआई भी बनवाने की मांंग ग्रामीणों ने रखी। ग्रामीणों की समस्या सुनने के बाद विधायक ललित नागर ने कहा कि पेंशन की समस्या, श्मशान घाट की चारदीवारी व शैड को बनवाने को लेकर वह जल्द ही डीसी को निर्देश देंगे। अन्य समस्याओं को भी संबंधित अधिकारियों से मिलकर दूर कराने का प्रयास करेंगे। कांग्रेस सरकार बनते ही सभी समस्याओं को एक कलम से पूरा किया जाएगा। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि सन 2018 संघर्ष का साल है। इसलिए कार्यकर्ता घर-घर जाकर भाजपा की जनविरोधी नीतियों का प्रसार व प्रचार कर करें। ताकि 2019 में इनकी झूठ की पोटली को वोट की चोट से वापस इनके दामन में देने का काम किया जा सके। इस मौके पर सूरत सरपंच, शीश राम नागर, फती हवलदार, हरेराम हवलदार, सूबेदार सिंह, देवीराम, महिपाल चंदीला, डॉ कंवर लाल, महिंदर नंबरदार, दयाराम नागर, टेका नागर, रणधीर अधाना, मास्टर कालीचरण, धरमपाल अवाना, कंवर लाल खालिफा, सोमी नागर, प्रताप नंबरदार समेत अन्य पदाधिकारी मौजूद थे।

फरीदाबाद. तिगांव के कांग्रेसी विधायक ललित नागर गांव लंहडौला में एक सभा को संबोधित करते हुए।