Hindi News »Haryana »Faridabad» पहली ही बारिश में खुली निगम के दावों की पोल, 39 एमएम बारिश, अंडरपास में पानी भरा, फंसे वाहन, लोग हुए परेशान

पहली ही बारिश में खुली निगम के दावों की पोल, 39 एमएम बारिश, अंडरपास में पानी भरा, फंसे वाहन, लोग हुए परेशान

भास्कर न्यूज|फरीदाबाद . सीजन की पहली बारिश ने नगर निगम के दावों की पोल खोल दी। शहर के सड़कें जलमग्न हो गई तथा सेक्टर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 29, 2018, 02:05 AM IST

  • पहली ही बारिश में खुली निगम के दावों की पोल, 39 एमएम बारिश, अंडरपास में पानी भरा, फंसे वाहन, लोग हुए परेशान
    +2और स्लाइड देखें
    भास्कर न्यूज|फरीदाबाद . सीजन की पहली बारिश ने नगर निगम के दावों की पोल खोल दी। शहर के सड़कें जलमग्न हो गई तथा सेक्टर व गली मोहल्लों में भी पानी भर गया। हर बार की तरह इस बार भी शहर में पानी जमा न हो, इसके लिए निगम की ओर से खासे इंतजाम के दावे किए गए थे। बाकायदा कंट्रोल रूम बनाया गया है, लोगों ने फोन भी किए, लेकिन सुनवाई नहीं हुई।। बुधवार को हुई बारिश ने गर्मी से राहत तो दिलाई, लेकिन जलभराव से लोगों की परेशानियां भी बढ़ गई हैं। कृषि विभाग के अनुसार जिले में 39 एमएम बारिश रिकार्ड की गई। बारिश के बाद तापमान में काफी गिरावट दर्ज की गई। इससे मौसम सुहावना हो गया।

    अचानक बदला मौसम का मिजाज

    काफी समय से लोग भीषण गर्मी से परेशान थे। चिलचिलाती धूप व उमस के आगे पंखे-कूलर भी फेल हो रहे थे। ऐसे में शहरवासियों को एक अच्छी बारिश का इंतजार था। इससे उन्हें बारिश से थोड़ी राहत मिले। बुधवार रात 10 बजे से बूंदाबांदी शुरू हो गई। इसके बाद रात को रुक-रुक बारिश होती रही। इससे तापमान में काफी गिरावट दर्ज की गई। इससे गर्मी का असर थोड़ा कम हुआ।

    गर्मी से लोगों को मिली राहत

    बारिश से तापमान में काफी गिरावट दर्ज की गई है। एक दिन में ही शहर का अधिकतम तापमान में चार डिग्री सेल्सियस नीचे आ गया। गुरुवार को शहर का अधिकतम तापमान 35.2 व न्यूनतम 29.0 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। गुरुवार को भी पूरे दिन आसमान में बादल छाए रहे। इससे गर्मी का असर काफी कम रहा।

    जलभराव से यहां बिगड़े हालात

    एनएचपीसी अंडरपास ओल्ड फरीदाबाद अंडरपास जवाहर कालोनी 60 फीट रोड सारन रोड -बल्लभगढ़ मार्केट एसजीएम नगर नेशनल हाईवे मेट्रो स्टेशन एनएच-5, संजय कालोनी जीवन नगर गौंछी शिवदुर्गा विहार सेक्टर-3

    मौसम विभाग के अनुसार अगले दो दिन तक बारिश की संभावना

    अभी है बारिश की संभावना

    मौसम विभाग ने आने वाले दो-तीन दिन में बारिश की संभावना जताई है। ऐसे में अगर लगातार बारिश होती है तो हैं।

    टैंकर से पानी को निकलवाते।

    फरीदाबाद. ओल्ड रेलवे अंडरपास में भरे बारिश के पानी में लोगों के वाहन बंद हो गए। पानी में बंद हुए ऑटों व बाइक को धक्का लगा कर निकालते बच्चे। फोटो. शिव कुमार

    3 दिन में 8 डिग्री लुढ़का तापमान

    सोमवार तक शहर का अधिकतम तापमान 43 से 44 डिग्री सेल्सियस के बीच था। गुरुवार को अधिकतम तापमान लुढ़ककर 35 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया।

    बारिश के बाद हाईवे पर जाम।

    फरीदाबाद ब्लॉक मेंे अधिक बारिश

    कृषि विभाग के अनुसार जिले में करीब 39 एमएम बारिश रिकार्ड की गई। इसमें सबसे अधिक बारिश फरीदाबाद ब्लॉक में हुई। विभाग के अनुसार बल्लभगढ़ में 29 और छांयसा में 40 एमएम बारिश रिकार्ड की गई।

    जलभराव से बिगड़ेे हालात

    बारिश ने मौसम तो सुहावना कर दिया, लेकिन शहर के हालात भी बिगाड़ दिए। यह सीजन की पहली बारिश थी। सेक्टर एरिया हो या काॅलोनी हर जगह जलभराव ने शहरवासियों की परेशानी बढ़ा दी। कई जगह तो घरों में पानी घुस गया। इसके अलावा सड़कें तालाब में तब्दील हो गईं। नेशनल हाईवे पर फ्लाईओवर के नीचे जलभराव होने से वाहन रेंग-रेंग कर चले। इससे ट्रैफिक प्रभावित रहा। लोगों को खासी परेशानी झेलनी पड़ी।

    अगली बारिश में जलभराव की समस्या कम होगी

    मौसम की पहली बारिश में सड़कों की मिट्टी बहकर आती है। इससे जहां पानी जाना होता है वह चोक हो जाता है। नगर निगम के सभी जेई, एसडीओ और एक्सईएन को पूरे शहर में संबंधित क्षेत्रों में हुए जलभराव को निकालने की व्यवस्था करने के लिए लगा दिया गया है। साथ ही जहां कमी रह गई है उसकी पहचान कर व्यवस्था दुरुस्त की जाएगी। अगली बारिश में जलभराव की समस्या कम होगी। -डीआर भास्कर, चीफ इंजीनियर नगर निगम।

    बारिश से बिगड़ी सप्लाई

    कई क्षेत्रों में रातभर गुल रही बिजली, लोग परेशान

    फरीदाबाद| बारिश की वजह से शहर की बिजली व्यवस्था चरमरा गई। फीडर ब्रेकडाउन, लाइन फेल, जंफर फूंकने व फॉल्ट की वजह से शहर के कई इलाकों में रात भर बिजली सप्लाई गुल रही। इससे लोगों को परेशानी झेलनी पड़ी। बारिश की वजह से बिजली निगम की टीमें मेंटिनेंस वर्क भी नहीं कर पाईं। ऐसे में सुबह काम शुरू कराया जा सका। इसके अलावा शहर में दिनभर बिजली की लुका छिपी का खेल जारी रहा। कई इलाकों में रातभर अंधेरा रहा। बाहर बारिश व अंदर बिजली न होने से रातभर लोग परेशान रहे। शिकायत केंद्रों पर फोन लगाते रहे।

    इन इलाकों में प्रभावित रही बिजली: सेक्टर 23 स्थित संजय कॉलाेनी, सेक्टर 55, सोहना रोड, जवाहर कॉलोनी, पर्वतीय काॅलोनी, सेक्टर 3, 7, 9, बदरौला गांव इत्यादि इलाकों बिजली कटौती से सबसे ज्यादा लोग परेशान रहे। सेक्टर 23 स्थित संजय कॉलाेनी, सेक्टर 55, सोहना रोड, जवाहर, एनआईटी पांच, कॉलोनी ने रात करीब 11 बजे गई लाइट गुरुवार सुबह 5 बजे आई। इसी तरह सेक्टर 3 में रात 11 बजे गई लाइट कई गुरुवार शाम 4 बजे आई। अन्य इलाकों में गुरुवार सुबह तक सप्लाई बहाल कर दी गई। बिजली कट का खेल गुरुवार को भी जारी रहा। एनआईटी पांच में केसी रोड फीडर फेल हाेने से करीब 9 घंटे लोगों को परेशान होना पड़ा। यहां गुरुवार सुबह 6 बजे गई लाइट दोपहर 3 बजे आई। लोगों ने कहा कि बारिश के बाद बिजली जाने पर विभाग में कोई सुनवाई नहीं होती है।

  • पहली ही बारिश में खुली निगम के दावों की पोल, 39 एमएम बारिश, अंडरपास में पानी भरा, फंसे वाहन, लोग हुए परेशान
    +2और स्लाइड देखें
  • पहली ही बारिश में खुली निगम के दावों की पोल, 39 एमएम बारिश, अंडरपास में पानी भरा, फंसे वाहन, लोग हुए परेशान
    +2और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Faridabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×