Hindi News »Haryana »Faridabad» पाैन घंटे में 51 एमएम बारिश, शहर-पानी-पानी, पहुंची 24 से अधिक शिकायतें, खुली नगर निगम के दावों की पोल

पाैन घंटे में 51 एमएम बारिश, शहर-पानी-पानी, पहुंची 24 से अधिक शिकायतें, खुली नगर निगम के दावों की पोल

साेमवार रात पौन घंटे में हुई 51 एमएम बारिश से एक बार फिर शहर की सड़कें पानी में डूब गईं। नगर निगम के कंट्रोल रूम में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 04, 2018, 02:05 AM IST

  • पाैन घंटे में 51 एमएम बारिश, शहर-पानी-पानी, पहुंची 24 से अधिक शिकायतें, खुली नगर निगम के दावों की पोल
    +4और स्लाइड देखें
    साेमवार रात पौन घंटे में हुई 51 एमएम बारिश से एक बार फिर शहर की सड़कें पानी में डूब गईं। नगर निगम के कंट्रोल रूम में पहुंची शिकायतों और ट्रैफिक पुलिस की ओर से तैयार की गई जलभराव की सूची ने नगर निगम के दावों की पोल खोल दी। शहर में जलभराव होने पर जिला सतर्कता एवं निगरानी कमेटी की बैठक में मंगलवार को केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने भी एनएचएआई व नगर निगम अफसरों की जमकर क्लास ली। उन्होंने हर हाल में जलभराव की समस्या खत्म करने और बारिश से टूटी सड़कों की समय रहते मरम्मत करने के आदेश दिए।

    तीन माह हर समय अलर्ट रहने का फरमान जारी

    नगर निगम के इंजीनियरिंग विभाग ने अपने कर्मचारियों को फरमान जारी कर जुलाई से सितंबर तक तीन माह हर समय अलर्ट रहने के लिए कहा है। तीन शिफ्टों में काम कर जलनिकासी की व्यवस्था हर हाल में सुनिश्चित करने के अादेश दिए हैं। खासकर ओल्ड फरीदाबाद अंडरपास और एनएचपीसी अंडरपास पर हाईपावर की मोटर लगाने के आदेश हैं। क्योंकि इन दोनों अंडरपास में बारिश के दौरान पानी भर जाता है और रास्ता पूरी तरह से बंद हो जाता है।

    चीफ इंजीनियर ने सभी एक्सईएन की कसी नकेल

    राज्यमंत्री की फटकार के बाद शहर में नगर निगम की हो रही बदनामी को देखते हुए मंगलवार को नगर निगम के चीफ इंजीनियर डीआर भास्कर ने तीनों जोन के एक्सईएन बीके कर्दम, विजय सिंह ढाका,ओमवीर व अरविंद कुमार के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि शहर में हो रहे जलभराव के कारण नगर निगम की बदनामी हो रही है। इसे सभी एक्सईएन गंभीरता से लें और अपने-अपने क्षेत्रों में जलभराव निकासी की समुचित व्यवस्था करें। चीफ इंजीनियर ने कहा कि सभी एक्सईएन प्रतिदिन की रिपोर्ट फोटो समेत वॉट्सएप के जरिए दें।

    अपर्याप्त इंतजाम :जुलाई से सितंबर तक इंजीनियरिंग विभाग के कर्मी 3 शिफ्टों में करेंगे जलभराव की निकासी

    कड़े तेवर|केंद्रीय मंत्री गुर्जर ने ली राजमार्ग प्राधिकरण और निगम अधिकारियों की क्लास

    फरीदाबाद. नेशनल हाइवे पर भरे बरसात के पानी से गुजरते वाहन।

    अंडरपास में सुबह तक जमा रहा पानी

    बारिश के कारण सबसे बुरा हाल ओल्ड स्टेशन और एनएचपीसी अंडरपास का रहा। पौन घंटे की बारिश में दोनों अंडरपास डूब गए। नगर निगम और हुडा के किए गए सभी उपाय फेल हो गए। बताया जाता है कि हुडा और नगर निगम दोनों अंडरपास के पास मोटर लगा रखी है फिर भी उसे खाली करने में रात बीत गई। बैठक में एक्सईएन बीके कर्दम ने बताया कि ओल्ड स्टेशन अंडरपास में नौ घंटे में महज तीन फुट पानी ही निकल पाया। उन्होंने कहा कि यहां जो मोटर पानी निकासी की लगी है वह सफल नहीं है। ऐसे में हाईपावर की मोटर लगाने की जरूरत है।

    नगर निगम कंट्रोल के पास आई आठ शिकायतें

    सोमवार की बारिश के चलते मंगलवार को नगर निगम के कंट्रोल रूम में शहर के अलग-अलग हिस्सों से कुल आठ शिकायतें पहुंची। इनमें सेक्टर-8, सेक्टर 7ए ब्लॉक, अजरौंदा मोड़, एनआईटी-5 बी ब्लॉक, एनआईटी-1 बी ब्लॉक, कनिष्का टावर, सेक्टर-34 वार्ड नंबर एक राजीव कॉलोनी और सेक्टर 48 की थी। कंट्रोल रूम इंचार्ज एक्सईएन श्याम सिंह के मुताबिक संबंधित जेई और एसडीओ को तत्काल मौके पर भेजकर पानी निकासी की व्यवस्था कराई गई।

    चीफ इंजीनियर के रोज डीसिल्टिंग के आदेश

    चीफ इंजीनियर डीआर भास्कर ने कहा कि सभी एक्सईएन, एसडीओ और जेई यह सुनिश्चित करें कि जहां भी पानी निकासी की दिक्कत आ रही है वहां प्रतिदिन डीसिल्टिंग कराएं। पानी निकासी के लिए प्रॉपर जगह बनाई जाए। सड़कों के किनारे बर्म सड़क की ऊंचाई से करीब पांच-छह फुट नीचे तक बनाई जाए। तभी पानी निकासी हो सकती है। उन्होंने दोनों अंडरपास पर हाईपावर मोटर लगाने के आदेश दिए। साथ ही तीन शिफ्टों में कर्मचारियों को नियुक्त करने के लिए कहा।

    टूट रही सड़कों की नियमित मरम्मत हो

    भास्कर ने अधिकारियों से कहा कि बारिश के दौरान कई स्थानों से सड़कें टूटने की सूचनाएं आ रही हैं। इससे बारिश के दौरान दुर्घटना होने की संभावना रहती है। ऐसे में जहां भी सड़कें टूटने की जानकारी मिले वहां तत्काल रोड मेटेरियल से सड़कों की मरम्मत कराई जाए। उन्होंने सोमवार की रात जलभराव का जायजा लिया।

    निर्णय|पानी की समुचित निकासी और टूटी सड़कों की मरम्मत डेली करेंगे निगम कर्मचारी

    जलभराव की इन नंबरों पर करें शिकायत

    नगर निगम- 0129-2416464, 2416465, 2415549, 2418224, जिला उपायुक्त कैंप कार्यालय- 0129-2227272, 2226262, एसडीएम फरीदाबाद- 0129-2227868, 9416281580, एसडीएम बल्लभगढ़- 0129-2304500, 9416164877, बड़खल- 0129-2422090, 9991515001

    बड़खल फ्लाईओवर से उतरने के बाद दिल्ली जाने वाली साइड।

    एनएचपीसी रेलवे अंडरपास पर।

    अजरौंदा चौक व मेट्रो स्टेशन के सामने श्मशान घाट के पास।

    आउटर बाइपास पर खेड़ी पुल के पास पुलिस लाइन जाने वाली साइड।

    ओल्ड सब्जी मंडी से बाइपास की तरफ जाते समय।

    एस्कोर्ट्स मुजेसर मेट्रो स्टेशन के पास सड़क पर दोनों साइड।

    बाटा चौक सड़क के दोनों तरफ।

    गुड ईयर चौक पर सेक्टर 7-8 की तरफ जाते वक्त।

    सोहना चौक बल्लभगढ़ फ्लाईओवर उतरने के बाद दिल्ली साइड।

    दिल्ली पब्लिक स्कूल सीकरी के पास दिल्ली जाने वाली साइड।

    जाट धर्मशाला से हार्डवेयर चौक व इस चौक से शराब ठेके के सामने।

    सैनिक कॉलोनी बड़खल गांव की तरफ जाने वाली सड़क।

    लाला लाजपत चौक से मेट्रो हॉस्पिटल वाली सड़क पर।

    सामान्य हॉस्पिटल बल्लभगढ़ के सामने पानी भरा।

    ओल्ड फरीदाबाद का अंडरपास।

    प्याली से मस्जिद चौक का रास्ता।

    सेक्टर 22-23 रोड पर।

    पुलिस ने निगम को सौंपी

    सूची, 17 जगह जलभराव

    अगले दो दिन अच्छी बारिश की संभावना

    फरीदाबाद| मंगलवार को भी पूरे दिन रुक-रुक कर बूंदाबांदी होती रही। आसमान में बादल छाए रहे। इसके अलावा सोमवार रात को भी करीब घंटे भर झमाझम बारिश हुई। सोमवार रात से मंगलवार तक करीब 51 एमएम बारिश रिकार्ड की गई। मौसम विभाग के अनुसार अगले दो दिन अच्छी बारिश की संभावना है।

    बरसाती पानी की निकासी के पुख्ता इंतजाम हों: गुर्जर

    फरीदाबाद| जिला विकास एवं निगरानी समिति की बैठक में मंगलवार को केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने एनएचएआई और नगर निगम अधिकारियों को वार्निंग देते हुए कहा कि बरसात के मौसम में पब्लिक को किसी तरह की समस्या से न जूझना पड़े। इसलिए बरसाती पानी की निकासी के पुख्ता इंतजाम होने चाहिए। जलभराव के कारण ही जाम लगता है। उन्होंने कहा कि एनएचएआई और नगर निगम मिलकर काम करें। जो सर्विस रोड टूटी पड़ी हैं, उन्हें जल्द ठीक कराया जाए। इस दौरान केंद्रीय मंत्री ने यह भी निर्देश दिया कि नेशनल हाईवे पर लगी लाइटें 15 दिन में काम करना सुनिश्चित किया जाए। बारिश के मौसम में सबसे ज्यादा परेशानी बिजली-पानी की होती है। डीसी अतुल कुमार द्विवेदी भी मौजूद थे।

    फरीदाबाद| कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल ने सेक्टर-12 स्थित टाउन पार्क का मंगलवार को औचक निरीक्षण किया। इस दौरान हुडा अधिकारियों को टाउन पार्क में बन रहे शौचालय के निर्माण में तेजी लाने के आदेश दिए। साथ ही जलभराव को दूर करने के लिए भी उचित कदम उठाने के लिए आदेश दिए। उन्होंने म्यूजिकल फाउंटेन के पास सावधानी बरतने से संबंधित निर्देश के लिए बोर्ड लगाने के भी आदेश दिए, जिससे करंट लगने की कोई घटना न होने पाए। उन्होंने टाउन पार्क में लगने वाली घड़ी के कार्य का भी जायजा लिया। इस मौके पर गोयल ने कहा कि घड़ी जल्द बनकर तैयार हो जाएगी।

    गोयल ने किया टाउन पार्क का निरीक्षण

  • पाैन घंटे में 51 एमएम बारिश, शहर-पानी-पानी, पहुंची 24 से अधिक शिकायतें, खुली नगर निगम के दावों की पोल
    +4और स्लाइड देखें
  • पाैन घंटे में 51 एमएम बारिश, शहर-पानी-पानी, पहुंची 24 से अधिक शिकायतें, खुली नगर निगम के दावों की पोल
    +4और स्लाइड देखें
  • पाैन घंटे में 51 एमएम बारिश, शहर-पानी-पानी, पहुंची 24 से अधिक शिकायतें, खुली नगर निगम के दावों की पोल
    +4और स्लाइड देखें
  • पाैन घंटे में 51 एमएम बारिश, शहर-पानी-पानी, पहुंची 24 से अधिक शिकायतें, खुली नगर निगम के दावों की पोल
    +4और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Faridabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×