• Hindi News
  • Haryana
  • Faridabad
  • विश्व जनसंख्या दिवस पर नुक्कड़ नाटक से लोगों को जनसंख्या नियंत्रण के प्रति किया गया जागरूक
--Advertisement--

विश्व जनसंख्या दिवस पर नुक्कड़ नाटक से लोगों को जनसंख्या नियंत्रण के प्रति किया गया जागरूक

Faridabad News - विश्व जनसंख्या दिवस पर ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज में बीके अस्पताल के सहयोग से जागरूकता सेमिनार का आयोजन किया। इसमें...

Dainik Bhaskar

Jul 12, 2018, 02:05 AM IST
विश्व जनसंख्या दिवस पर नुक्कड़ नाटक से लोगों को जनसंख्या नियंत्रण के प्रति किया गया जागरूक
विश्व जनसंख्या दिवस पर ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज में बीके अस्पताल के सहयोग से जागरूकता सेमिनार का आयोजन किया। इसमें नुक्कड़ नाटक से लोगों को जनसंख्या नियंत्रण के प्रति जागरूक किया गया। कार्यक्रम में विधायक सीमा त्रिखा मुख्य अतिथि थीं। इस मौके पर मेडिकल कॉलेज के डीन डाॅ. असीम दास ने कहा कि जनसंख्या दिवस पर इस बार का थीम परिवार नियोजन हर मनुष्य का अधिकार रखा गया है। बढ़ती जनसंख्या पर रोकथाम के लिए बनाए गए मानकों का सही पालन किया जाना जरूरी है। सीएमओ डाॅ. बीके राजौरा ने कहा कि छोटे परिवार को सुखी परिवार माना जाता है, इसलिए लोगों को फेमिली प्लानिंग के बारे में सोचना चाहिए। इस मौके पर डिप्टी सिविल सर्जन डाॅ. गजराज, डाॅ. राम भगत, ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज रजिस्ट्रार डाॅ. अनिल पांडे, डाॅ. जसवंत सिंह, डाॅ. संगीता सहित अनेक लोग मौजूद थे।

बढ़ती आबादी के दुष्प्रभावों के बारे में बताया

फरीदाबाद| विश्व जनसंख्या दिवस पर सराय ख्वाजा स्थित राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें बच्चों को बढ़ती जनसंख्या से होने वाले प्रभावों के बारे में बताया गया। प्राचार्या नीलम कौशिक की अध्यक्षता में कार्यक्रम हुआ। स्कूल के प्रवक्ता रविंद्र मनचंदा ने बच्चों को बताया यदि हमारी आबादी इसी प्रकार बढ़ती रही तो आने वाले चंद वर्षों में चीन को पीछे छोड़ देंगे। भारत की आबादी विश्व में सबसे अधिक हो जाएगी। बढ़ती आबादी का नुकसान यह होगा कि सरकार द्वारा जो विकास के कार्य या संसाधन उपलब्ध कराए जा रहे हैं वह सभी तक नहीं पहुंच पाएंगे। रोजगार का सृजन न होने से अपराध में वृद्धि होगी। असामाजिक तत्त्व हावी हो जाएंगे। मनचंदा ने कहा एक विकसित देश के रूप में अपनी पहचान बनाने के लिए हमें निरंकुश हो रही बढ़ती जनसंख्या और अशिक्षा रूपी अंधेरे से अविलंब छुटकारा पाना होगा। 11वीं क्लास की छात्रा शीतल पांचाल ने कहा यदि हमें एक खुशहाल राष्ट्र का हिस्सा बनना है तो हर बच्चे व हर व्यक्ति को शिक्षित बनाना है। इस मौके पर रेनू शर्मा, शारदा, रूप किशोर, बिजेंदर सिंह, दान सिंह, वेदवती सहित अन्य स्टाफ मौजूद थे।

X
विश्व जनसंख्या दिवस पर नुक्कड़ नाटक से लोगों को जनसंख्या नियंत्रण के प्रति किया गया जागरूक
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..