फरीदाबाद

  • Home
  • Haryana News
  • Faridabad
  • तीन माह पहले लगाए गए ट्यूबवेल को एक अधिकारी के आदेश पर उखाड़ा गया
--Advertisement--

तीन माह पहले लगाए गए ट्यूबवेल को एक अधिकारी के आदेश पर उखाड़ा गया

शहर के पॉश सेक्टर इंदिरा एंक्लेव सेक्टर 21डी में स्थानीय लोगों की मांग पर जनप्रतिनिधि के कहने पर तीन महीने पहले...

Danik Bhaskar

Jul 14, 2018, 02:05 AM IST
शहर के पॉश सेक्टर इंदिरा एंक्लेव सेक्टर 21डी में स्थानीय लोगों की मांग पर जनप्रतिनिधि के कहने पर तीन महीने पहले लगाया गया ट्यूबवेल चंडीगढ़ में बैठे एक अधिकारी के आदेश पर उखाड़ दिया गया। शुक्रवार को ट्यूबवेल उखाड़ने पहुंचे नगर निगम कर्मचारियों और स्थानीय महिलाओं के बीच कहासुनी भी हुई। महिलाओं का आरोप है कि नगर निगम कर्मचारियों ने उनके साथ अभद्रता कर मारपीट भी की। उधर नगर निगम अधिकारियों का कहना है कि उच्चाधिकारियों के आदेश पर ट्यूबवेल उखाड़कर दूसरी जगह शिफ्ट किया जा रहा। जिसका महिलाएं विरोध कर रही हैं। सेक्टर 21 डी के पास स्थित इंदिरा एन्क्लेव अन अप्रूव्ड एरिया में आता है। पानी की समस्या से परेशान लोगों ने स्थानीय जनप्रतिनिधि से मदद मांगी। बताया जाता है कि जनप्रतिनिधि के आदेश पर एडीसी कार्यालय ने एक ट्यूबवेल लगाने की राशि नगर निगम को भेज दी थी। निगम ने वहां बोरिंग कर दी। बताया जाता है जहां बोरिंग कराई गई थी वहां स्थानीय शहरी विकास विभाग के एक उच्चाधिकारी के रिश्तेदार का घर है। रिश्तेदार के कहने पर अधिकारी ने नगर निगम अफसरों से बोरिंग हटाने का आदेश दे दिया। शुक्रवार को ट्यूबवेल की मोटर निकालने के लिए निगम के एक्सईएन बीरेंद्र कर्दम टीम के साथ पहुंच गए। जैसे ही बोरिंग से मोटर निकालने का प्रयास किया स्थानीय महिलाएं पहुंच गईं और विरोध करना शुरू कर दिया। करीब घंटे पर वहां हंगामा होता रहा। आखिर में नगर निगम टीम को बैरंग लौटना पड़ा। महिलाओं का आरोप है कि नगर निगम के अधिकारियों ने अपने कर्मचारियों को वहां भेजा था। जब उनसे बातचीत करने का प्रयास किया गया तो उन्होंने अभद्रता की।

Click to listen..