Hindi News »Haryana »Faridabad» पाली-डबुआ रोड को बनाने की 20 साल से थी मांग अब 7 करोड़ से बनेगी, डेढ़ लाख को फायदा

पाली-डबुआ रोड को बनाने की 20 साल से थी मांग अब 7 करोड़ से बनेगी, डेढ़ लाख को फायदा

करीब 20 साल से जर्जर पाली-डबुआ रोड से जूझ रहे डेढ़ लाख से अधिक लोगों को अब राहत मिल जाएगी। सात करोड़ रुपए की लागत से यह...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 21, 2018, 02:05 AM IST

पाली-डबुआ रोड को बनाने की 20 साल से थी मांग अब 7 करोड़ से बनेगी, डेढ़ लाख को फायदा
करीब 20 साल से जर्जर पाली-डबुआ रोड से जूझ रहे डेढ़ लाख से अधिक लोगों को अब राहत मिल जाएगी। सात करोड़ रुपए की लागत से यह रोड बनाई जाएगी। करीब डेढ़ किलोमीटर तक बनने वाली यह सड़क आरएमसी की होगी। एक साल में यह बनकर तैयार हो जाएगी। इसके बनने से विभिन्न कॉलोनियों व गांवों के करीब 1.50 लाख से अधिक लोगों को फायदा होगा।

इसके बनने से पहले सीवर-पानी की लाइन डलेगी

सड़क बनने से पहले डेढ़ किलोमीटर तक पांच मीटर गहरी सीवर और पानी की लाइन डाली जाएगी। इसके बाद सड़क बनाने का काम शुरू होगा। बारिश से पहले सीवर लाइन डालने का काम पूरा हो जाएगा। सड़क का काम दिल्ली की कंस्ट्रक्शन कंपनी जेपी ब्रदर्स करेगी। यह कंपनी यहां सूरजकुंड रोड भी बना चुकी है। केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर एवं स्थानीय विधायक नगेंद्र भड़ाना ने बुधवार को सड़क के कार्य का शिलान्यास किया।

इस क्षेत्र के लोगों की यह सड़क है लाइफ लाइन

यहां के लोगों का कहना है कि यह सड़क यहां की लाइफ लाइन मानी जाती है। लेकिन वर्तमान में इस सड़क की हालत बेहद खराब है। इस पर जगह-जगह गड्ढे हैं। बारिश के दिनों में यहां जलभराव की स्थिति रहती है। एक बार बारिश होने के बाद करीब एक सप्ताह तक पानी भरा रहता है। केंद्रीय राज्यमंत्री के मुताबिक यह काम सीएम अनाउंसमेंट के तहत कराया जा रहा है। एनआईटी विधानसभा क्षेत्र में 10 अप्रैल 2016 को सीएम मनोहरलाल ने रैली में इसकी घोषणा की थी। शिलान्यास के मौके पर मेयर सुमन बाला, विधायक नगेंद्र भड़ाना, पार्षद वीर सिंह नैन, सतीश फागना, सुरेंद्र अग्रवाल, मनवीर भड़ाना आदि मौजूद थे।

राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने बुधवार को किया शिलान्यास

फरीदाबाद. टूटी पड़ी डबुआ पाली रोड व नालियों का पानी भी रोड पर भरा रहता है। यहां से हजारों लोग रोज गुजरते हैं।

कांग्रेस के शासन में नहीं सुनी गई थी लोगों की बात

यहां के लोगों के मुताबिक इस सड़क को बनाने की मांग 20 साल से हो रही थी। कांग्रेस के कार्यकाल में यहां रहे दो-दो मंत्रियों से स्थानीयवासी कई बार इस सड़क को बनाने के लिए मिले। लेकिन तत्कालीन सरकारों ने इस ओर ध्यान नहीं दिया। इस सड़क के आसपास बसी आधा दर्जन कॉलोनियां, गांव और बड़ी संख्या में औद्योगिक संस्थान हैं। बारिश के दिनों में इस रास्ते से निकलना किसी जंग लड़ने से कम नहीं होता। दो साल पहले सीएम की रैली में विधायक नगेंद्र भड़ाना ने इस समस्या को रखा था। तब सीएम ने मंच से ही सड़क निर्माण की मंजूरी दे दी थी।

क्या कहना है स्थानीय वासियों का

फरीदाबाद. डबुआ पाली रोड का शिलान्यास करते केन्द्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर, मेयर सुमन बाला, विधायक नगेन्द्र भड़ाना व पार्षद वीर सिंह नैन ।

काफी समय से हम लोग इस समस्या से परेशान हैं। गांव तक आने-जाने के लिए जर्जर सड़क से होकर आना-जाना पड़ता है। बारिश के मौसम में बुरा हाल होता है। सड़क बनने से काफी फायदा होगा। - पूनम भड़ाना, निवासी पाली गांव।

डेढ़ किलोमीटर की सड़क साठ फिट होगी चौड़ी

पाली से डबुआ तक बनने वाली इस सड़क की कुल लंबाई डेढ़ किलोमीटर है। जबकि इसकी चौड़ाई 60 फिट है। यानी दोनों ओर 30-30 फिट की चौड़ाई होगी। इसके बीच में एक मीटर चौड़ा डिवाइडर बनाया जाएगा। क्षेत्रीय पार्षद मनवीर भड़ाना के मुताबिक यह सड़क इलाके की पेरिफेरल रोड है। गुड़गांव से आने वाले लोग सोहना होते हुए सीधे फरीदाबाद आ सकेंगे। सड़क पाली के टी प्वाइंट से शुरू होकर डबुआ तक बनेगी। इससे एनआईटी और बड़खल विधानसभा के लोगों को फायदा होगा।

सड़क से इन काॅलोनी के लोगों को होगा फायदा

पार्षद मनवीर भड़ाना के मुताबिक इस सड़क के बनने से पाली, डबुआ कॉलोनी, गाजीपुर कॉलोनी, उड़िया कॉलोनी, नवादा, भाखरी आदि क्षेत्रों में रहने वालों को फायदा होगा। यहां के लोगों को जलभराव से होकर नहीं आना-जाना पड़ेगा। यह सड़क तीन नंबर से पाली सोहना रोड को जोड़ेगी। उन्होंने कहा कि जिस कंस्ट्रक्शन कंपनी को काम सौंपा गया है वह जल्द ही काम शुरू कर देगी। उसे बारिश से पहले सीवर लाइन डालने का काम पूरा करने को कहा गया है।

एलईडी की रोशनी से जगमगाएगी यह सड़क

इस प्रोजेक्ट में डिवाइडर पर लगने वाले पाेल में एलईडी लाइटें लगाई जाएंगी। इसके अलावा सड़क के दोनों ओर टाइल्स लगाई जाएंगी ताकि पैदल आने-जाने वालों को परेशानी न हो। बारिश से पहले सीवर का काम पूरा होने के बाद आरएमसी की सड़क बनाने का काम शुरू हो जाएगा। कंस्ट्रक्शन कंपनी को प्राेजेक्ट पूरा करने के लिए डेढ़ साल का समय दिया गया है। लेकिन कंपनी ने एक साल में प्रोजेक्ट काे पूरा करने का भरोसा दिया है।

गांवों के लोग कई साल से सड़क बनाने की मांग करते आ रहे थे। लेकिन किसी ने इस ओर ध्यान नहीं दिया। जबकि इस सड़क से लाखों लोगों का आना-जाना होता है। भाजपा सरकार ने पहल की है। कम से कम एक साल बाद गांव वालों को सुविधा तो मिल जाएगी। -चौ. दयानंद भड़ाना, निवासी गांव पाली।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Faridabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×