• Home
  • Haryana News
  • Faridabad
  • आदेश जारी, ट्यूबवेलों से पानी भरने वाले टैंकरों की होगी जांच
--Advertisement--

आदेश जारी, ट्यूबवेलों से पानी भरने वाले टैंकरों की होगी जांच

नगर निगम के ट्यूबवेलों से रोज पानी भरने वाले टैंकरों की जांच होगी। साथ ही ट्यूबवेल से कब और किस टैंकर चालक ने कितना...

Danik Bhaskar | Jun 21, 2018, 02:05 AM IST
नगर निगम के ट्यूबवेलों से रोज पानी भरने वाले टैंकरों की जांच होगी। साथ ही ट्यूबवेल से कब और किस टैंकर चालक ने कितना पानी भरा इसका लेखा-जोखा भी रखा जाएगा। निगम कमिश्नर मोहम्मद शाइन ने निगम अफसरों को इस बारे में आदेश दिए। अधीक्षण अभियंता रमन शर्मा ने निगम कर्मचारियों को आदेश का सख्ती से पालन करने के लिए कहा है।

वार्ड नंबर 14 के पार्षद जसवंत सिंह ने महापौर से शिकायत की थी कि शहर में सक्रिय पानी माफिया नगर निगम के ट्यूबवेलों से पानी भरकर सेक्टरों और कॉलोनियों में बेचकर मोटी कमाई कर रहे हैं। ये माफिया निगम कर्मचारियों काे सुविधा शुल्क देकर पानी भरकर उसे आठ सौ से एक हजार रुपए में बेचते हैं। किसका टैंकर कब और कितना पानी भरकर कहां ले जा रहा है इसकी जानकारी नगर निगम के किसी अधिकारी के पास नहीं है। पार्षद की समस्या पर संज्ञान लेते हुए मेयर सुमन बाला ने निगम आयुक्त मोहम्मद शाइन को पत्र लिख इस व्यवस्था में सुधार करने के निर्देश दिए। मेयर का कहना है कि नगर निगम द्वारा अपने ट्यूबवेल और बूस्टिंग आदि में जो टैंकर भरे जाते हैं उनका कोई रिकॉर्ड नहीं रखा जाता। संबंधित पार्षद को भी नहीं पता होता कि उनके वार्ड में कितने टैंकरों से पानी की सप्लाई की गई।

दैनिक भास्कर ने बुधवार के अंक में इस कालाबाजारी की खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया था। इसके बाद निगम कमिश्नर ने एसई रमन शर्मा को व्यवस्था में सुधार के आदेश दिए। शर्मा ने सभी जेई को आदेश जारी कर पानी माफियाआें के टैंकरों की निगरानी करने और उनके खिलाफ कार्रवाई करने के लिए कहा।

भास्कर असर

दैनिक भास्कर ने पानी माफियाआें द्वारा की जा रही कमाई का किया था खुलासा, निगम कमिश्नर ने लिया एक्शन

फरीदाबाद. अवैध रूप से इस तरह भरते हैं टैंकरों में पानी और बाजारों में बेचते हैं।

दैनिक भास्कर में बुधवार को प्रकाशित खबर