• Home
  • Haryana News
  • Faridabad
  • सेक्टर में जाने के लिए एप्रोच रोड तक नहीं, जलभराव और सीवर समस्या से लोग नहीं बना पा रहे हैं मकान
--Advertisement--

सेक्टर में जाने के लिए एप्रोच रोड तक नहीं, जलभराव और सीवर समस्या से लोग नहीं बना पा रहे हैं मकान

कॉलोनी के बीच नगर निगम द्वारा बसाए गए सेक्टर-52 को देख बुधवार को निगम कमिश्नर मोहम्मद शाइन हैरान रहे गए। क्योंकि...

Danik Bhaskar | Jun 21, 2018, 02:05 AM IST
कॉलोनी के बीच नगर निगम द्वारा बसाए गए सेक्टर-52 को देख बुधवार को निगम कमिश्नर मोहम्मद शाइन हैरान रहे गए। क्योंकि सेक्टर कॉलोनी के बीच में बसा है। वहां जाने के लिए एप्रोच रोड तक नहीं है। वह बुधवार को सेक्टर का निरीक्षण करने पहुंचे थे। वे वहां की समस्याओं से रूबरू हुए। सेक्टर में अभी तक 40 फीसदी से अधिक की बसावट हो चुकी है। लेकिन जलभराव और सीवर की समस्या के कारण प्लॉट धारक अभी मकान बनाने के लिए तैयार नहीं हैं। कमिश्नर ने समस्याओं का जल्द निस्तारण कराने का आश्वासन दिया।

वर्ष 1994 में फरीदाबाद कांप्लेक्स (वर्तमान में नगर निगम) ने संजय कॉलोनी के बीच में ही नगर निगम की खाली पड़ी जमीन पर सेक्टर-52 बसाया था। लेकिन वहां आने-जाने के लिए एप्रोच रोड नहीं बनाई गई। पिछले दिनों वहां की आरडब्ल्यूए ने निगम प्रशासन को शिकायत पत्र देकर सड़क पर जलभराव और सीवर पानी जमा हाेने की शिकायत की। इस समस्या के बारे में सीएम विंडो पर भी शिकायत की गई। लेकिन निगम ने समस्या का समाधान नहीं किया। बल्कि शिकायतकर्ता से पूछे बगैर जवाब भी दे दिया गया। मामला मीडिया में आने के बाद बुधवार को निगम कमिश्नर मोहम्मद शाइन और भाजपा की प्रदेश उपाध्यक्ष नीरा तोमर सेक्टर-52 पहुंचकर समस्याओं की जानकारी ली। तोमर ने बताया कि सेक्टर-52 में पानी निवासी, पेयजल और जलभराव की समस्या प्रमुख है। उक्त समस्या का निदान कराने के लिए सीएम अनाउंसमेंट के तहत प्रपोजल बनाया जा रहा है। उसी फंड से इसका हल किया जाएगा। उन्होंने बताया कि सारन चौक पर बने कम्युनिटी सेंटर का भी दौरा किया गया। अभी वहां निगम कार्यालय बना हुआ है। उसे खाली करा जनता के उपयोग के लिए इस्तेमाल किया जाएगा।