Hindi News »Haryana »Faridabad» अब नहीं बनेगा पाली गांव में बूचड़खाना, इसके लिए निगम अब दूसरी जगह की तलाश करेगा

अब नहीं बनेगा पाली गांव में बूचड़खाना, इसके लिए निगम अब दूसरी जगह की तलाश करेगा

पाली गांव में अब बूचड़खाना नहीं बनेगा। इसके लिए सोमवार को निगम सदन की बैठक में प्रस्ताव पारित कर दिया गया। इसके लिए...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 26, 2018, 01:45 PM IST

पाली गांव में अब बूचड़खाना नहीं बनेगा। इसके लिए सोमवार को निगम सदन की बैठक में प्रस्ताव पारित कर दिया गया। इसके लिए निगम अब दूसरी जगह की तलाश करेगा। इस प्रस्ताव को सदन में पास कराने से पहले एनआईटी विधायक नगेंद्र भड़ाना और आप नेता धर्मबीर भड़ाना ने ग्रामीणों के साथ निगम सभागार के बाहर प्रदर्शन किया। दोनों नेताओं ने कहा कि जब गांव की जनता वहां बूचड़खाना नहीं चाहती तो क्यों बनाया जा रहा है। ग्रामीण सरकार की योजना के खिलाफ नहीं हैं लेकिन बूचड़खाना ऐसे स्थान पर बनना चाहिए जो आबादी से दूर हो और लोगों की भावनाएं आहत न हों। चूंकि जमीन नगर निगम की है। ऐसे में सदन को तय करना होगा कि बूचड़खाना वहां बने या न बने। सदन की बैठक शुरू होने पर विधायक ने सभी पार्षदों से इसका विरोध करने के लिए समर्थन मांगा। उन्होंने कहा कि जनता की भावनाओं को देखते हुए गांव में बूचड़खाना बनाना ठीक नहीं है। सदन इस बात का प्रस्ताव पास करे। सीनियर डिप्टी मेयर देवेंद्र चौधरी ने नगर निगम अधिकारियों को इसके लिए दूसरी जगह तलाश करने के लिए कहा। जो आबादी से दूर हो। सदन ने सर्वसम्मति से इस प्रस्ताव को पास कर दिया। इसके बाद बाहर जमा ग्रामीणों के पास पहुंचकर उन्हें आश्वासन दिया कि गांव में बूचड़खाना नहीं बनेगा। इसके बाद ग्रामीण लौट गए।

पार्टी ने अपने ही विधायक पर लगाया नाटक करने का आरोप

इनेलो महिला जिलाध्यक्ष जगजीत कौर व जिला प्रचार सचिव प्रेम सिंह धनखड़ ने अपनी ही पार्टी के विधायक नगेंद्र भड़ाना पर बूचड़खाना रुकवाने को लेकर बिल्डिंग तोड़ने को दिखावा व नाटक करने का आरोप लगाया है। इन नेताओं का कहना है कि जब उक्त जमीन का अधिग्रहण किया गया था तब भी यही विधायक सरकार का हिस्सा थे। जब नक्शा पास हुआ तब भी यही विधायक सरकार का हिस्सा थे। बिल्डिंग बननी शुरू हुई, गांवों वालों ने मुख्यमंत्री को ज्ञापन देने की बात की तब विधायक कहां गायब थे। उस समय तो विधायक ने गांव वालों का साथ नहीं दिया। बल्कि मुख्यमंत्री को ज्ञापन देने के लिए भी गांवों वालों को रोका था। पार्टी नेताओं ने कहा कि विधायक ने झूठी वाहवाही लेने के लिए बिल्डिंग तोड़ने का नाटक किया है। पार्टी इसका पर्दाफाश करेगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Faridabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×