पिता की हार्टअटैक से हो गई थी मौत, बड़ी बेटी ने उठाई जिम्मेदारी, बहनों को बनाया इंजीनियर और 25 मजदूर परिवारों का बनी सहारा

हरियाणा न्यूज : जॉब छोड़कर 3 साल तक कड़ी मेहनत करती रही बेटी

dainikbhaskar.com

Apr 15, 2019, 12:20 PM IST
Faridabad Haryana News In Hindi : Monday Motivational Story Of Business Women Seema Sandhu From Faridabad

फरीदाबाद (हरियाणा)। डबुआ कॉलोनी में रहने वाली सीमा संधु अपने परिवार की बड़ी बेटी हैं। उनके पिता लाजपत राय की हार्ट अटैक से साल 2009 में मौत हो गई थी। इसके बाद मां बिमला और दो छोटी बहनों रेनू और मोनिका की जिम्मेदारी सीमा के कंधों पर आ गई। इस पर सीमा ने दिल्ली की एक निजी कंपनी की अपनी नौकरी छोड़ दी और पिता का टिम्बर व्यवसाय संभाला। उनके पिता के लिए तब करीब 25 मजदूर काम करते थे।
सीमा ने देखा कि पिता के निधन के बाद से कारोबार चौपट हो रहा था। मजदूरों के परिवार भी बिखरने की कगार पर थे। ऐसे में कारोबार संभाला तो पिता के साथ काम करने वाले व्यापारियों ने भी काफी आर्थिक नुकसान पहुंचाया। वहीं काम के लिए पिता ने जिनसे कच्चा माल मंगाया था, वो भी पैसों के लिए परेशान करने लगे। दूसरी तरफ जिन व्यापारियों को पिता ने सामान बेचा था, वे भी रकम देने में आनाकानी करने लगे।
इन सब परेशानियों के बावजूद सीमा ने हिम्मत नहीं हारी। करीब 3 वर्ष की कड़ी मेहनत रंग लाई। उन्होंने पूरे आर्थिक नुकसान की भरपाई की और अपने कारोबार को फिर से पटरी पर लौटाया। दूसरी तरफ दोनों छोटी बहनों मोनिका ओर रेनू को इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए बंगलूरू भेजा। पढ़ाई पूरी करने के बाद दोनों बहनों की धूमधाम से शादी भी की। लेकिन खुद कभी घर बसाने के बारे में नहीं सोचा।

X
Faridabad Haryana News In Hindi : Monday Motivational Story Of Business Women Seema Sandhu From Faridabad
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना