Hindi News »Haryana »Fatehabad» जिले में आए यूरिया के 26 हजार बैग 1716 मीट्रिक टन पड़ा है स्टॉक में

जिले में आए यूरिया के 26 हजार बैग 1716 मीट्रिक टन पड़ा है स्टॉक में

भास्कर न्यूज | फतेहाबाद/भूना गेहूं के सीजन में यूरिया की किल्लत को दूर करने के लिए कृषि विभाग ने जिले में यूरिया...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 02:05 AM IST

भास्कर न्यूज | फतेहाबाद/भूना

गेहूं के सीजन में यूरिया की किल्लत को दूर करने के लिए कृषि विभाग ने जिले में यूरिया खाद के 26 हजार बैग विभिन्न मंडियों में भेजे है। अनाजमंडियों में कृषि अधिकारियों व अन्य कर्मचारियों की मौजूदगी में दुकानदारों ने किसानों को यूरिया के बैग दिए। किसानों की शिकायत थी कि दुकानदार खाद के साथ उन्हें जबरन कीटनाशक दे रहे है। डीडीए डाॅ. बलवंत सहारण ने कहा कि जिले में यूरिया की कमी नहीं है। उधर, भूना की अनाजमंडी में यूरिया खाद वितरण न होने से किसानों ने हंगामा शुरु कर दिया और विरोध जताया। पुलिस को मौके पर पहुंच कर स्थिति को संभालना पड़ा। घंटों इंतजार के बाद किसानों को मायूस लौटना पड़ा।

गांव भूथनकलां के किसान देवीलाल रणवां, ढाणी सांचला के बलबीर सिंह, राजेंद्र सिंह, कृष्ण, बगड़ावत सिंह, मीठू सिंह, रामकिशन, रामजीलाल, नरेश कुमार आदि ने वे भूना अनाजमंडी में किसान सेवा केंद्र व खाद विक्रेता श्याम लाल रामकुमार पर कोरोमंडल यूरिया खाद 3-3 हजार बैग भेजे गए है। लेकिन दोनों जगह पर पीएसओ मशीन पर खाद का रिकार्ड दर्ज नहीं किया गया। जिसके कारण दुकानदारों ने खाद बांटने से इंकार कर दिया। किसानों का कहना है कि खाद लेने के लिए पिछले एक सप्ताह से भटक रहे है। मगर उन्हें खाद लाइनों में लगने के बाद भी नहीं मिल रही है। वे गुरुवार को सुबह 7 बजे अनाजमंडी में आ गए लेकिन घंटों इंतजार के बाद भी खाद नहीं बांटी गई। किसानों ने कहा कि खाद के बिना गेहूं की फसल पीली हो गई है। जिसको खाद की अति आवश्यकता है। अगर समय पर खाद उपलब्ध नहीं हुई तो गेहूं की फसल बर्बाद हो जाएगी। कृषि विकास अधिकारी रामफल नैन ने बताया कि भूना में अनाजमंडी के खाद विक्रेता किसान सेवा केंद्र व श्याम लाल रामकुमार की दुकान पर 6 हजार बैग कोरोमंडल यूरिया खाद भेजे गए है। लेकिन कंपनी द्वारा पीएसओ मशीन में खाद का रिकार्ड दर्ज नहीं किया गया है। रिकाॅर्ड दर्ज होने के बाद खाद को बाट दिया जाएगा।

भूना। अनाज मंडी में खाद विक्रेता की दुकान पर लाइन में लगे किसान खाद न मिलने पर नारेबाजी करते हुए।

एक लाख 89 हजार हेक्टेयर में हैं गेहूं की बिजाई

डीडीए डाॅ. बलवंत सहारण ने बताया कि इस सीजन में जिले में एक लाख 89 हजार हेक्टेयर भूमि पर गेहूं की बिजाई गई गई है। किसानों को सरकारी समितियों द्वारा 30039 व प्राईवेट दुकानदारों द्वारा 42538 मीट्रिक टन यूरिया खाद बांट चुके है। अभी तक 1716 मीट्रिक टन खाद पेडिंग पड़ी है। जिले में खाद की कमी नहीं है।

कर्मचारियों की मौजूदगी में बांटी खाद

कृषि विभाग द्वारा किसानों की शिकायतों के बाद केपी कैमिकल्स, अरोड़ा ट्रेडिंग कंपनी व एसके ट्रेडर्स पर विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों की मौजूदगी में किसानों को खाद की पर्चियां दी गई।

ये है मंडियों में खाद के स्टाक की स्थिति

अनाजमंडी कुल खाद (मीट्रिक टन में)

फतेहाबाद 565

रतिया 475

भट्टूकलां 182

भूना 335

टोहाना 129

जाखल 25

हैफेड 5

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Fatehabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×