• Hindi News
  • Haryana
  • Fatehabad
  • Fatehabad News haryana news a case has been filed against arapapp husband and two others for carrying the injured girl out of civil hospital

घायल लड़की को सिविल अस्पताल से बहलाकर ले जाने का अाराेप, पति और दो अन्य पर मामला दर्ज

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:41 AM IST

Fatehabad News - आश्रम की खिड़की से गिरकर घायल हुई नाबालिग लड़की को सिविल अस्पताल से बहला-फुसलाकर ले जाने के अाराेप में लड़की के...

Fatehabad News - haryana news a case has been filed against arapapp husband and two others for carrying the injured girl out of civil hospital
आश्रम की खिड़की से गिरकर घायल हुई नाबालिग लड़की को सिविल अस्पताल से बहला-फुसलाकर ले जाने के अाराेप में लड़की के पति व दो महिलाओं के खिलाफ सीडब्लूसी ने सिटी थाना में एफआईआर दर्ज करवाई है। हालांकि लड़की का कहना है कि वह अपनी मर्जी से गई थी और वापस भी खुद लौटी है। फिलहाल पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

बता दें कि कुछ दिन पहले एक आश्रम से दो लड़कियां रोशनदान से चादर की रस्सी बनाकर नीचे कूद गईं थी। इनमें से एक भाग गई थी, दूसरी घायल हुई थी। उसके कूल्हे में गंभीर चोट लगी थी, जिसके चलते पहले सिविल अस्पताल और फिर अग्रोहा मेडिकल कॉलेज में दाखिल करवाया गया था। घायल लड़की का आरोप है कि दूसरी लड़की ने उसे रोशनदान से गहराई देखने के बहाने धक्का देकर गिरा दिया था। इधर, लड़की के पिता का कहना है कि वे अपनी बेटी काे घर लेकर जाना चाहते हैं। वह हमारे साथ सुरक्षित रहेगी मगर सीडब्ल्यूसी ने काेर्ट में मामला विचाराधीन हाेने के कारण साथ भेजने से इनकार कर दिया। कहा कि फिलहाल उसे आश्रम में ही रखा जाएगा।

पुलिस के अनुसार 17 वर्षीय नाबालिग लड़की ने बालिग लड़के के साथ विवाह कर लिया था। इसके बाद लड़की की तरफ से कोर्ट में एप्लीकेशन देकर परिजनों से जान का खतरा बताया था। इस मामले में 22 मई को संबंधित विभाग को जवाब पेश करना है। इससे पूर्व परिजनों की शिकायत पर लड़की को बरामद करके फतेहाबाद के युवक को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया था। लड़की ने अपने प्रेमी के पक्ष में बयान दिया था कि वह अपनी मर्जी से गई थी, जिसके चलते उसे जमानत मिल गई थी। सीडब्ल्यूसी ने घायल लड़की को अपनी कस्टडी में लेकर उसका इलाज शुरू करवाया था। घायल लड़की को रोहतक पीजीआई रेफर कर दिया था, ताकि वहां चोट को लेकर डॉक्टर की एडवाइस ले सकें। चौंकाने वाली बात यह कि 14 मई को पीजीआई की बजाए सिविल अस्पताल में लेकर आ गए। यहां बिना पंजीकरण के डॉक्टर ने रात भर के लिए एडमिट कर लिया था।

घायल लड़की के अनुसार उसने रात को ही किसी मरीज से फोन लेकर अपने पति से संपर्क किया था। वह गाड़ी लेकर अस्पताल आ गया था। उसके साथ सास व एक अन्य महिला और थी। व्हील चेयर पर बैठकर अस्पताल के गेट तक गई। इसके बाद गाड़ी में बैठकर उनके साथ फतेहाबाद चली गई थी। लड़की के अनुसार गुरुवार को पिता का फोन आया था। उनके कहने पर वापस अस्पताल लौट आई थी। अब पता चला कि सीडब्ल्यूसी ने पति व दो महिलाओं के खिलाफ केस दर्ज करवा दिया। लेकिन मैं अपनी मर्जी से गई थी। यह बात लीगल एड के समक्ष बयान में कही है।

बाल संरक्षण अधिकारी अनीता की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज किया है। आरोप लगाया है कि 14 मई की रात को लड़की का पति व दो महिलाएं उसे अपने साथ बहला-फुसलाकर फतेहाबाद लेकर चले गए थे। 15 मई को लड़की के पिता को मामले का पता चला। उन्हें शक हुआ कि बेटी को फतेहाबाद का युवक भगाकर ले गया है। इस मामले में अस्पताल स्टाफ से पूछताछ की, जिसके बाद उक्त तीनों के खिलाफ केस दर्ज करवा दिया।

X
Fatehabad News - haryana news a case has been filed against arapapp husband and two others for carrying the injured girl out of civil hospital
COMMENT

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543