निर्जला एकादशी पर लगी छबीलों पर बांटे जा रहे खराब फल और प्लास्टिक गिलास में पानी पिलाने वालों को रोका

Fatehabad News - निर्जला एकादशी पर शहर में जगह-जगह मीठे पानी व फलों की छबील लगाई। इस बार स्वास्थ्य विभाग की टीम ने छबीलों पर जाकर...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 07:35 AM IST
Fatehabad News - haryana news distributed poorly distributed grains and plastic glasses on nirjala ekadashi
निर्जला एकादशी पर शहर में जगह-जगह मीठे पानी व फलों की छबील लगाई। इस बार स्वास्थ्य विभाग की टीम ने छबीलों पर जाकर बांटे जा रहे खाद्य व पेय पदार्थों की जांच की। इस दौरान पाया गया कि खराब फलों को बांटा जा रहा है।

स्वास्थ्य विभाग की टीम ने खराब फलों को फेंकवाते हुए छबील बंद करवा दी। वहीं कुछ जगहों पर प्लास्टिक डिस्पोजल गिलासों में पानी पिलाया जा रहा था, उसके प्रयोग न करने की हिदायत भी दी गई। शहर में 300 से ज्यादा छबीले लगी हुई थी।

आमजन को बांट रहे थे खराब तरबूज व आम, स्वास्थ्य विभाग ने फेंकवाए: स्वास्थ्य विभाग के हैल्थ इंस्पेक्टर गोबिंद गुप्ता अपनी टीम के साथ सबसे पहले पुराना बस स्टैंड के पास पहुंचे तो देखा कि इस दौरान कुछ लोग तरबूज बांट रहे हैं। जब टीम ने जाकर तरबूज देख तो तरबूज खराब थे और खराब तरबूज ही लोगों को बांटे जा रहे थे। यह देख स्वास्थ्य विभाग ने तरबूज की छबील को बंद करवा दिया और फलों को मौके पर ही फेंकवाया गया। जिससे वह लोगों में दुबारा न बांटे जा सके। इसके बाद टीम बस स्टैंड के समीप पहुंची तो वहां आमजन को आम बांट जा रहे थे। जब टीम ने आम का जांचा तो वह खराब हुए पड़े थे।

इस पर टीम ने आम की छबील लगाने वाले डांट लगाई। इसके बाद छबील का बंद करवाते हुए आम को फेंकवाया गया। वही शहर में जहां पानी की छबील लगाई जा रही थी। वहां टीम पहुंची। जहां कुछ जगहों पर प्लास्टिक के गिलास में पानी पिलाया जा रहा था जिसे टीम ने उन गिलास में पानी देने से रोका। प्लास्टिक की जगह स्टील के गिलास में पानी देने का कहा। मौके पर ही स्टील के गिलास मंगवाए गए।

फतेहाबाद| प्लास्टिक के गिलास में पानी पिलाने वाली छबील को बंद करवाते हुए स्वास्थ्यकर्मी।

रेहड़ियों पर भी की गई छापेमारी

रेहड़ियों पर भी की गई छापेमारी

टीम को जांच के दौरान बस स्टैंड के पास लगी एक रेहड़ी पर खराब आम मिले तो वही एक ढेरी तरबूज की दीवार के साथ लगी हुई थी जहां तरबूज को आधा काटकर रखा हुआ था। इस दौरान टीम ने दोनों को चेतावनी दी कि वह खराब फल न बेचे और न ही तरबूज को काटकर रखे। अगर दुबारा मिलते है तो उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

टीम को जांच के दौरान बस स्टैंड के पास लगी एक रेहड़ी पर खराब आम मिले तो वही एक ढेरी तरबूज की दीवार के साथ लगी हुई थी जहां तरबूज को आधा काटकर रखा हुआ था। इस दौरान टीम ने दोनों को चेतावनी दी कि वह खराब फल न बेचे और न ही तरबूज को काटकर रखे। अगर दुबारा मिलते है तो उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

पहली बार विभाग ने छबीलों को जांचा

पहली बार विभाग ने छबीलों को जांचा

शहर में जगह- जगह छबील लगाई जाती है तो स्वास्थ्य विभाग की तरफ से इस दिन को अभियान नहीं चलाया जाता है, लेकिन इस बार स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जहां- जहां छबील लगी हुई थी। वहां उनकी टीम गई और सभी आमजन को दी जा रहे पानी व फलों की जांच की। यह पहली बार हुआ जब टीम ने यह अभियान चलाया है।

शहर में जगह- जगह छबील लगाई जाती है तो स्वास्थ्य विभाग की तरफ से इस दिन को अभियान नहीं चलाया जाता है, लेकिन इस बार स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जहां- जहां छबील लगी हुई थी। वहां उनकी टीम गई और सभी आमजन को दी जा रहे पानी व फलों की जांच की। यह पहली बार हुआ जब टीम ने यह अभियान चलाया है।

छबील लगाने पर इन बातों का रखे ध्यान





सहेत से खिलवाड़ न हो : गुप्ता


X
Fatehabad News - haryana news distributed poorly distributed grains and plastic glasses on nirjala ekadashi
COMMENT