लघु सचिवालय में पॉर्किंग के नाम पर काटी जा रही है जेब : बार

Fatehabad News - बार एसोसिएशन ने आरोप लगाया है कि प्रशासन की नाक के नीचे लघु सचिवालय में आने वाले लोगों की पॉर्किंग के नाम पर जेब...

Bhaskar News Network

Mar 17, 2019, 04:51 AM IST
Tohana News - haryana news pocketing in the small secretariat is being cut in the name of pocket bar
बार एसोसिएशन ने आरोप लगाया है कि प्रशासन की नाक के नीचे लघु सचिवालय में आने वाले लोगों की पॉर्किंग के नाम पर जेब काटी जा रही है। इस संबंध में एसोसिएशन ने एसडीएम को ज्ञापन देकर प्रशासन से मांग की है कि जिस तरह जिला सचिवालय में किसी तरह की पॉर्किंग फीस नहीं ली जाती उसी तरह यहां भी लघु सचिवालय में इस पर सिस्टम पर तुरंत प्रभाव से रोक लगाई जाए।

पॉर्किंग को ठेके पर देना गलत है ः जैन

एसोसिएशन प्रधान रजनीश जैन ने कहा कि लघु सचिवालय में पॉर्किंग की ठेका प्रक्रिया चलाया जाना नाजायज है क्योंकि सरकारी कार्यालयों में आने जाने के लिए किसी तरह की कोई फीस लेने का कोई प्रावधान नहीं है जबकि यहां लघु सचिवालय में आने वालों को प्रवेश करने से पूर्व ही अपनी जेब ढीली करनी पड़ती है। उन्होंने कहा कि यहां पर पोस्ट ऑफिस कार्यालय भी है जहां पर लोग डाक सामग्री लेने भी आते हैं। यदि किसी को रसीदी टिकट लेने या पोस्ट कार्ड लेने जाना हो तो पहले उसे बाइक पॉर्किंग के दस रुपये खर्च करने पड़ते हैं।

इसके अलावा यहां रोजाना बहुत से लोग अपने किसी दस्तावेज को अटेस्ट करवाने आते हैं तथा नए बाइक के नंबर लगवाने आते हैं उन्हें भी पहले पॉर्किंग फीस अदा करनी पड़ती है जो लोगों को अखरती है लेकिन मजबूरी में कुछ बोल नहीं पाते। कई बार तो झगड़े की नौबत भी आ जाती है। जो लोग अपने बाइक को बाहर खड़ा कर देते हैं उन्हें बाइक चोरी होने का भय बना रहता है। उन्होंने कहा कि शहर में बाइक चोरों का गिरोह सक्रिय है तथा कई बाइक चोरी हो चुके हैं। उन्होंने इसे जजिया कर बताते हुए मांग की कि पॉर्किंग फीस बंद की जाए।

X
Tohana News - haryana news pocketing in the small secretariat is being cut in the name of pocket bar
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना