ग्वार में खरपतवारनाशक के स्प्रे से दोहरा नुकसान : यादव

Fatehabad News - फतेहाबाद| कृषि विभाग के तत्वाधान में गांव गदली में किसान गोष्ठी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्यातिथि...

Jul 14, 2019, 07:35 AM IST
फतेहाबाद| कृषि विभाग के तत्वाधान में गांव गदली में किसान गोष्ठी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्यातिथि विभाग के कृषि विकास अधिकारी डॉ. जितेन्द्र राणा थे। कार्यक्रम में डाॅ. राणा ने कहा कि ग्वार बारानी क्षेत्रों की एक महत्त्वपूर्ण फसल है। खरीफ मौसम की यह फसल न केवल कम लागत में अधिक मुनाफा देती है,। ग्वार की फसल में जड़ गलन (उखेड़ा) एक मुख्य बीमारी आती है, जो ग्वार के पैदावार को 25 से 45 प्रतिशत कम कर देती है। इसके रोकथाम के लिए बीज उपचार ही एक मात्र हल है इसके लिए 3 ग्राम बेविस्टिन प्रति किलो बीज के दर से बिजाई के समय सूखा उपचारित करें। ग्वार विशेषज्ञ डॉ. बीडी यादव ने कहा कि ग्वार की खड़ी फसल में काफी किसान चौड़ी पत्ती वाली खरपतवार को खत्म करने के लिए खरपतवारनाशक दवा का प्रयोग करते हैं जो ग्वार की फसल पर बुरा असर डालती है। डॉ. यादव ने कहा कि अगर किसी कारण किसान अभी तक ग्वार की बिजाई नहीं कर पाये हैं तो उन्हें सलाह दी जाती है कि बची हुई ग्वार की बिजाई 15 जुलाई तक पूरी कर लें इसके बाद बिजाई करने पर पैदावार में कमी होनी शुरू हो जाती है। इस अवसर पर किसान मैनपाल, सीताराम, राजबीर, अजब सिंह, रमेश, चन्द्रभान, इन्द्र सिंह आदि मौजूद थे।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना