• Home
  • Haryana News
  • Gohana
  • आढ़तियों ने सरकारी एजेंसी से मांगा बारदाना
--Advertisement--

आढ़तियों ने सरकारी एजेंसी से मांगा बारदाना

गेहूं की सरकारी खरीद एक अप्रैल से आरंभ हो रही है। मंडी में फसल को बोरियों में भरने के लिए खरीद एजेंसियों ने अब तक...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 02:10 AM IST
गेहूं की सरकारी खरीद एक अप्रैल से आरंभ हो रही है। मंडी में फसल को बोरियों में भरने के लिए खरीद एजेंसियों ने अब तक बारदाना उपलब्ध नहीं करवाया है। शनिवार को आढ़तियों ने मंडी प्रशासन से बारदाना उपलब्ध कराने, फसल का उठान 48 घंटों में करवाकर समय पर पैसे देने की मांग की। आढ़तियों का नेतृत्व व्यापार मंडल के प्रधान विनोद कुमार जैन ने किया।

उन्होंने कहा कि मंडी में अप्रैल माह के प्रथम सप्ताह में फसल की आवक शुरू हो जाती है। खरीद के लिए दो एजेंसियां निर्धारित की गई हैं। दोनों ही एजेंसियों ने अब तक आढ़तियों को बारदाना उपलब्ध नहीं करवाया है। बारदाने के बिना मंडी से फसल का उठान समय पर नहीं होगा। आढ़ती बलजीत भावड़, सुशील गोयल, बलवान सिंह, मनीष जिंदल, बिजेंद्र शर्मा, रामचंद्र का कहना है कि गेहूं सीजन में फसल की आवक तेजी से होती है। ऐसे में समय पर उठान नहीं होने पर मंडी में जाम की स्थिति उत्पन्न हो जाती है। उन्होंने कहा कि मंडी से फसल का उठान 48 घंटे में होना चाहिए। समय पर उठान नहीं होने पर बैग में फसल का वजन कम हो जाता है। खरीद एजेंसी कम हुए वजन की भरपाई आढ़ती से करती है। वहीं किसानों को फसल का भुगतान करने के लिए आढ़तियों को भी समय पर पैसे का भुगतान होना चाहिए।

मंडी में हर समय उपलब्ध रहे दमकल गाड़ी : आढ़तियों ने मार्केट कमेटी के अधिकारियों से गेहूं सीजन में एक दमकल गाड़ी खड़ी रखने की मांग की। उन्होंने कहा कि फसल सीजन के दौरान मजदूर बीड़ी अथवा सिगरेट जलाकर मंडी परिसर में ही फैंक देते हैं। इससे प्रत्येक सीजन में अनाज की बोरियां जल जाती हैं।