• Hindi News
  • Haryana
  • Gohana
  • अपनी रचनाओं के माध्यम से भाईचारा बढ़ाने में शिरोमणि रविदास का नाम अग्रणी : जांगड़ा
विज्ञापन

अपनी रचनाओं के माध्यम से भाईचारा बढ़ाने में शिरोमणि रविदास का नाम अग्रणी : जांगड़ा

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 02:20 AM IST

Gohana News - संत शिरामणि गुरु रविदास जी के जन्मोत्सव पर विभिन्न सामाजिक, राजनैतिक संगठनों ने कार्यक्रम आयोजित किए। कीर्तन...

अपनी रचनाओं के माध्यम से भाईचारा बढ़ाने में शिरोमणि रविदास का नाम अग्रणी : जांगड़ा
  • comment
संत शिरामणि गुरु रविदास जी के जन्मोत्सव पर विभिन्न सामाजिक, राजनैतिक संगठनों ने कार्यक्रम आयोजित किए। कीर्तन दरबार में कलाकारों ने रविदास जी महाराज के भजन गाए। बाद में भंडारा भी आयोजित किया। वहीं कार्यक्रम के दौरान वक्ताओं ने गुरू रविदास के जीवन के बारे में लोगों को बताया और उनकी शिक्षाओं को जीवन में धारण करने के लिए प्रेरित किया।

शामड़ी गांव में आयोजित कार्यक्रम में हरियाणा पिछड़ा वर्ग कल्याण निगम के चेयरमैन रामचंद्र जांगड़ा ने कहा कि संत शिरोमणि रविदास उन महान संतों में अग्रणी थे, जिन्होंने अपनी रचनाओं के माध्यम से समाज में व्याप्त बुराइयों को दूर करने में महत्वपूर्ण योगदान दिया। इनकी रचनाओं की विशेषता लोक-वाणी का अद्भुत प्रयोग रही है उन्होंने ग्रामीणों की मांग पर रविदास भवन को 5 लाख रुपए देने की घोषणा की। उन्होंने सभी को परस्पर मिलजुल कर प्रेमपूर्वक रहने का उपदेश दिया। उनका विश्वास था कि राम, कृष्ण, करीम, राघव आदि सब एक ही परमेश्वर के विविध नाम हैं। वेद, कुरान, पुराण आदि ग्रंथों में एक ही परमेश्वर का गुणगान किया गया है। उन्होंने एपी माजरा में रविदास भवन में कमरा बनाने की मांग को पूरा करने का आश्वासन दिया। इस मौके पर डॉ.ओमप्रकाश शर्मा, अनिल चावला, रामूरामपाल, सतीश जाले, डॉ.रमेश खोखर, सुंदर कश्यप, एपी माजरा सरपंच नवीन शर्मा, छतैहरा सरपंच मुकेश आदि उपस्थित थे।

गोहाना. शामड़ी गांव में आयाजित कार्यक्रम में चेयरमैन रामचंद्र जांगड़ा को सम्मानित करते हुए ग्रामीण।

संत महात्माओं के संदेश को जीवन में धारण करें: रजनी विरमानी

सिविल रोड स्थित गुरु रविदास मंदिर में श्री गुरु रविदास सभा गोहाना द्वारा आयोजित कार्यक्रम में नगर परिषद चेयरपर्सन रजनी विरमानी ने कहा कि संतों ने जो संदेश दिया था, उसे जीवन में धारण करना चाहिए। गुरू रविदास ने अपना पूरा जीवन लोगों को आपस में प्रेमपूर्वक रहने का संदेश दिया था। उन्होंने कहा कि समता मूलक समाज की स्थापना गुरु रविदास जी महाराज को सच्ची श्रद्धांजलि होगी। मंच संचालन अशोक बामनिया ने किया। कार्यक्रम में माहरा से मोनिका, रितु, गोहाना से राजकुमार ग्रोवर, रामगोपाल पौडिया, निधि छाछिया, करतार वाल्मीकि को अपने-अपने क्षेत्र में योगदान देने के लिए रैदास र| से सम्मानित किया।

संत रविदास ने समाज को एक नई दिशा दी: अशोक

भैंसवान खुर्द में आयोजित कार्यक्रम में जिला पार्षद अशोक आहुलाना ने कहा कि संत रविदास ने समाज को एक नई दिशा दी थी। समाज में फैली कुरीतियों को दूर करने के लिए उन्होंने अह्म भूमिका निभाई। उन्होंने जिला परिषद के कोष से हरिजन चौपाल का निर्माण कराने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि संत रविदास ने साधु-संतों की संगति से व्यावहारिक ज्ञान की शिक्षा पाई। वे अपना काम पूरी लगन तथा परिश्रम से करते थे और समय से काम को पूरा करने पर बहुत ध्यान देते थे। हमें उनके आदर्शों पर चलना चाहिए।

X
अपनी रचनाओं के माध्यम से भाईचारा बढ़ाने में शिरोमणि रविदास का नाम अग्रणी : जांगड़ा
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें