गुड़गांव

--Advertisement--

पद्मावत विवाद में स्कूल बस पर पथराव मामला : बच्चों को ‘मनोहर’ नसीहत, भूलने की कोशिश करें

पद्मावत के विरोध प्रदर्शन के दौरान करणी सेना द्वारा 24 जनवरी को जीडी गोयनका स्कूल बस पर पथराव किया गया था।

Dainik Bhaskar

Feb 03, 2018, 07:53 AM IST
cm khattar meet children

गुड़गांव. भोंडसी गांव में फिल्म पद्मावत के विरोध प्रदर्शन के दौरान करणी सेना द्वारा 24 जनवरी को जीडी गोयनका स्कूल बस पर पथराव किया गया था। घटना के नौवें दिन बाद शुक्रवार को सीएम को बच्चों की याद आई तो वो सुबह मिलने पहुंचे। सीएम फरीदाबाद के सूजरकुंज से सुबह करीब साढ़े 10 बजे स्कूल गए। बच्चों से मिलकर हौसला बढ़ाया और 15-20 मिनट में लौट गए। हालांकि दो दिन पहले भी सीएम जीएमडीए की बैठक में शामिल होने आए थे, लेकिन तब उन्हें बच्चों की याद नहीं आई। सीएम शुक्रवार को अचानक स्कूल पहुंच गए। कहा कि जिस दिन से घटना को टीवी पर देखा, बार-बार मन में आ रहा था कि बच्चों के साथ ऐसा क्यों हुआ। उन्होंने बच्चों के प्रति सहानुभूति व्यक्त की और उनसे बातचीत कर भावुक भी हुए। बच्चों की सुरक्षा के प्रति चिंता व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि भविष्य में ऐसी घटना की पुनरावृत्ति ना हो, इसके लिए सरकार प्रबंध करेगी। इस मौके पर प्रिंसिपल नीता बाली, विधायक तेजपाल तंवर, एसडीएम सतीश यादव सहित कई लोग मौजूद रहे।

9 दिन बाद स्कूल पहुंचे सीएम की बच्चों से बातचीत के अंश
सुबह 10.30 पर सीएम स्कूल पहुंचे। बच्चों से घटना की जानकारी ली। पूछा कि बस में क्या हुआ था तो एक बच्चे ने बताया कि हमारी बस पर किसी ने पत्थर फेंका था। सीएम ने पूछा किसी को चोट तो नहीं आई। छात्रों ने कहा नहीं, हम सीट के नीचे छिप गए थे। सीएम ने बच्चों से कहा कि इस घटना को भूलने की कोशिश करें।


{सीएम को बस चालक प्रवेश ने बताया कि स्कूल की तीन बसें कतार में थीं। भोंड़सी गांव में भीड़ ने रोडवेज बस रुकवा रखी थी। पुलिस के समझाने पर दो स्कूल बस तो निकल गईं, लेकिन उनकी बस पर भीड़ में से किसी ने सामने वाले शीशे पर पत्थर मारा। फिर चालक साइड पर दूसरा पत्थर लगा। सीएम के पूछने पर चालक ने बताया कि जब उनकी बस निकली तो रोडवेज बस को आग नहीं लगाई गई थी।

X
cm khattar meet children
Click to listen..