--Advertisement--

शहर के लिए सौगातों भरा होगा न्यू ईयर-2018

नगरवासियों ने वर्ष 2017 को अलविदा करते हुए नव वर्ष का धूमधाम से स्वागत किया। नगरवासियों को वर्ष 2018 से काफी उम्मीदें ह

Danik Bhaskar | Jan 01, 2018, 07:52 AM IST

गुड़गांव. नगरवासियों ने वर्ष 2017 को अलविदा करते हुए नव वर्ष का धूमधाम से स्वागत किया। नगरवासियों को वर्ष 2018 से काफी उम्मीदें हैं। विकास से संबंधित नई परियोजनाओं के पूरा होने की उम्मीद है। स्वास्थ्य, शिक्षा और सुरक्षा के क्षेत्र में भी बड़ी आशा है।

मेडिकल कॉलेज बनेगा
गुड़गांव में मेडिकल कॉलेज बनाने की भी घोषणा की गई है। इसके लिए गांव खेड़की माजरा में जमीन की पहचान की गई है। जल्द ही चाहरदीवारी का काम शुरू होने वाला है। नए साल में निर्माण कार्य शुरू होने की आशा है।
यूनिवर्सिटी की भी उम्मीद
यूनिवर्सिटी के लिए गुड़गांववासी लंबे समय से संघर्ष कर रहे हैं। प्रदेश के सीएम ने वर्ष 2017 में इसकी घोषणा की थी। नव वर्ष के मार्च तक इस पर काम शुरू करने का सीएम ने भरोसा दिलाया है। शिक्षा के क्षेत्र में शहर के लिए बड़ी उपलब्धि होगी।
मानेसर फ्लाईओवर होगा शुरू
मानेसर चौक पर फ्लाईओवर का निर्माण आखिरी चरण में है। नव वर्ष की शुरुअात में काम पूरा होने की उम्मीद है। गुड़गांव-जयपुर आने जाने वालों के साथ आईएमटी मानेसर जाने वालों को जाम से निजात मिलेगी।


एलिवेटेड हाईवे होगा शुरू
नव वर्ष में सुभाष चौक से बादशाहपुर के दूसरी पार एलिवेटेड हाईवे परियोजना पर काम शुरू होने की आशा है। इस पर 1897 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं। परियोजना का 14 अगस्त को नितिन गडकरी ने शिलान्यास किया था।

सड़कें दुरुस्त होने की उम्मीद: गुड़गांव की सड़कों की हालत खराब है। साल 2017 में सड़कों की मरम्मत पर कोई काम नहीं हुआ। क्षतिग्रस्त सड़कों की मरम्मत का ठेका एक एजेंसी को देने के प्रस्ताव के चलते नगर निगम और हुडा ने इस दिशा में काम नहीं किया। क्षतिग्रस्त सड़कों की शिकायतों के निपटारे के लिए एक एजेंसी को ठेका देने की तैयारी है। उम्मीद है कि नए साल में नई एजेंसी काम शुरू कर देगी और शहर की सड़कें सुधरेंगी।

पहले सप्ताह में स्वच्छता सर्वेक्षण : नव वर्ष के पहले सप्ताह में स्वच्छ भारत मिशन के तहत स्वच्छ सर्वेक्षण शुरू होने वाला है। पिछली बार गुड़गांव का 112वां स्थान रहा था। इस बार सुधार की उम्मीद की जा रही है। इसके लिए नगर निगम द्वारा बड़े फैसले लिए जा रहे हैं। डोर-टू-डोर कूड़ा उठाने के काम का विस्तार किया जा रहा है। इसके अलावा बंधवाड़ी में कचरा निस्तारण प्लांट का निर्माण का काम भी इसी साल शुरू होगा।

सहरावन गांव में शिफ्ट होगा खेड़कीदौला टोल
नए साल पर खेड़कीदौला टोल जयपुर की ओर 8 किलोमीटर आगे शिफ्ट होने की उम्मीद है। नगरवासी लंबे समय से इसके लिए संघर्ष कर रहे हैं। मानेसर से आगे गांव सहरावन के पास पंचायत की लगभग 65 एकड़ जमीन एनएचएआई को सौंपी गई है। इसमें गांव सहरावन, मानेसर तथा कुकरौला की जमीन शामिल है। शिफ्ट करने में 3 से 4 महीने लगने की उम्मीद है। इससे क्षेत्र के लाखों लोगों को फायदा होगा।

गुड़गांववासियों को जल्द मिलेगा अंडरपास का तोहफा
गुड़गांव की सबसे बड़ी समस्या ट्रैफिक की है। नगरवासियों को कई सालों से ट्रैफिक जाम की समस्या से जूझना पड़ रहा। पिछले साल हीरो होंडा चौंक पर फ्लाईओवर बनने से हाईवे पर जाम की समस्या काफी हद तक दूर हो गई। नए साल की शुरुआत में इस फ्लाईओवर के नीचे से बनने वाला अंडरपास शुरू होने की उम्मीद है। साथ ही राजीव चौक, सिग्रेचर टावर और इफको चौक अंडरपास का निर्माण कार्य आखिरी चरण में है। इन परियोजनाओं का भी साल की शुरुआत में पूरा होने की उम्मीद है। हाईवे और साथ लगते मार्गों पर जाम की समस्या दूर होगी। इससे लोगों का काफी समय बचेगा। परियोजना पर लगभग 1385 करोड़ रुपए खर्च किया जा रहा है।

पूरा होगा केएमपी निर्माण
नए साल में केएमपी एक्सप्रेस-वे का निर्माण पूरा होने की उम्मीद है। इसमें 7 साल की देरी हो चुकी है। छह लेन के इस एक्सप्रेस-वे को साल 2010 में पूरा होना था। प्रदेश के पीडब्ल्यूडी मंत्री राव नरबीर सिंह का दावा है कि यह एक्सप्रेस-वे 31 मार्च 2018 तक पूरा हो जाएगा। जिले के आर्थिक उत्थान में ये एक्सप्रेस वे सहायक होगा।
सिटी बस सर्विस शुरू होने की उम्मीद
बीते वर्ष जीएमडीए का गठन होना गुड़गांव के लिए बड़ा फैसला रहा। नए साल में इससे काफी उम्मीदें हैं। जीएमडीए द्वारा शहर में सिटी बस सर्विस शुरू करने की योजना है। नए वर्ष में इस पर काम शुरू होने की आशा है। शुरुआत में 200 बसें चलाने की तैयारी है। इससे शहर में यातायात की समस्या काफी हद तक दूर होने की उम्मीद है।
लगेंगे सीसीटीवी कैमरे
शहर में आम लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए प्रत्येक चौक-चौराहे पर सीसीटीवी कैमरे लगाने की भी जीएमडीए की महत्वाकांक्षी योजना है। लगभग 200 करोड़ रुपए की इस योजना के लिए जल्द सर्वे की तैयारी है। इस योजना में गुड़गांव के साथ मानेसर क्षेत्र को भी शामिल गया गया है।