--Advertisement--

प्रद्युम्न हत्याकांड: आरोपी के फिंगर प्रिंट लेने पर आज सुना सकता है जेजे बोर्ड फैसला

सीबीआई के फिंगर प्रिंट लेने की अनुमति पर जेजे बोर्ड फैसला सुना सकता है।

Dainik Bhaskar

Dec 13, 2017, 07:20 AM IST
गुड़गांव के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में 8 सितंबर को 7 साल के प्रद्युम्न ठाकुर का मर्डर कर दिया गया था। गुड़गांव के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में 8 सितंबर को 7 साल के प्रद्युम्न ठाकुर का मर्डर कर दिया गया था।

गुड़गांव. रेयान इंटरनेशनल स्कूल भोंडसी के छात्र प्रद्युम्न हत्याकांड की सुनवाई बुधवार को जुवेनाईल जस्टिस बोर्ड में होगी। इसमें सीबीआई के फिंगर प्रिंट लेने की अनुमति पर जेजे बोर्ड फैसला सुना सकता है। सीबीआई ने मामले की तह तक जाने के लिए फिंगर प्रिंट लेने की अनुमति पर जोर दिया था।

जुवेनाईल जस्टिस बोर्ड में लगी हुई है पीटिशन

- प्रद्युम्न के पिता वरुण चंद ठाकुर ने अपने वकील टेकरीवाल के माध्यम से जुवेनाईल जस्टिस बोर्ड में याचिका दायर कराई हुई है कि आरोपी छात्र का मामला वयस्क आरोपी के रूप में सुना जाए। यह एक जघन्य अपराध है। पीटिशन पर वकीलों की बहस सुनने के बाद अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था और 13 दिसंबर की तारीख निश्चित कर दी थी।

- 8 सितंबर को रेयान इंटरनेशनल स्कूल में कक्षा दूसरी के छात्र प्रद्युम्न की गला रेतकर निर्मम हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने कंडक्टर अशोक को आरोपी बनाकर गिरफ्तार कर लिया था।

- सीबीआई ने11वीं के छात्र को आरोपी माना था। यह आरोपी छात्र फरीदाबाद स्थित बाल सुधार गृह में है। अशोक को 75 दिन बाद जिला एवं सत्र न्यायालय से जमानत मिल गई थी।

सीबीआई ने इस केस में 8 नवंबर को 11वीं के स्टूडेंट को आरोपी बनाया। सीबीआई ने इस केस में 8 नवंबर को 11वीं के स्टूडेंट को आरोपी बनाया।
X
गुड़गांव के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में 8 सितंबर को 7 साल के प्रद्युम्न ठाकुर का मर्डर कर दिया गया था।गुड़गांव के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में 8 सितंबर को 7 साल के प्रद्युम्न ठाकुर का मर्डर कर दिया गया था।
सीबीआई ने इस केस में 8 नवंबर को 11वीं के स्टूडेंट को आरोपी बनाया।सीबीआई ने इस केस में 8 नवंबर को 11वीं के स्टूडेंट को आरोपी बनाया।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..