--Advertisement--

11 मिनट में मॉडल टाउन से एटीएम उखाड़ ले गए फॉर्च्यूनर सवार बदमाश

गुड़गांव में बैंकों की एटीएम मशीनें बदमाशों के निशाने पर हैं। शहर में मशीनें उठा ले जाने वाला गिरोह सक्रिय है।

Danik Bhaskar | Dec 17, 2017, 08:54 AM IST

गुड़गांव. गुड़गांव में बैंकों की एटीएम मशीनें बदमाशों के निशाने पर हैं। शहर में मशीनें उठा ले जाने वाला गिरोह सक्रिय है। लक्ष्मण विहार का मामला अभी सुलझा भी नहीं था कि शुक्रवार रात बदमाश आईडीबीआई बैंक का एटीएम उखाड़ ले गए। इसमें करीब 8 लाख रुपए होने का दावा किया जा रहा है। मंकी कैप पहने हुए फॉर्च्यूनर कार सवार 4 से 5 बदमाशों ने 11 मिनट में वारदात अंजाम दिया। शिवाजी नगर थाना पुलिस ने मेंटिनेंस का काम देखने वाले हेमंत की शिकायत पर शनिवार को अज्ञात पर केस दर्ज किया।


मॉडल टाउन (तिकोना पार्क) में आईडीबीआई बैंक का एटीएम बूथ है। शनिवार सुबह लोगों ने देखा कि बूथ से मशीन गायब है। सूचना पुलिस को दी। मौके पर शिवाजी नगर थाना प्रभारी जयपाल टीम के साथ पहुंचे। जयपाल ने बताया कि बूथ में सीसीटीवी कैमरा और गार्ड नहीं था। बैंक की ओर से शुक्रवार को मशीन में 8 लाख रुपए डाले गए थे। पुलिस ने आसपास दुकानों पर लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाला तो पता चला कि बदमाश शुक्रवार रात 3.20 बजे पर एटीएम में घुसे और 3.31 तक मशीन उखाड़कर कार में डालकर फरार हो गए। सभी बदमाश मंकी कैप पहने हुए थे। इनकी संख्या 4 से 5 हो सकती हैं। मशीन की आवाज ना हो आरोपियों ने सीढ़ी पर रेत की दो बोरियां रख दीं। बदमाश एक के बाद एक शहर में एटीएम को निशाना बना रहे हैं। पुलिस के हाथ अब तक इस गैंग का एक भी सदस्य नहीं लगा है। पुलिस की सुस्ती उसकी कार्यशैली पर सवाल खड़े कर रही है।

रैकी कर दिया वारदात को अंजाम
गुड़गांव से शिवाजी नगर होते हुए पटौदी जाने वाली मेन रोड पर बैंक का एटीएम बूथ था। बूथ से करीब 600 मीटर पर पटौदी रोड पुलिस चौकी और 800 मीटर पर शिवाजी नगर थाना पुलिस है। जिस भवन में मशीन लगी है, इसमें किराएदार रहते हैं। ऐसे में पुलिस को शक है कि बदमाशों ने रैकी करने के बाद ही वारदात को अंजाम दिया है।

पुलिस जांच में जुटी
सेक्टर-9, दौलताबाद और शिवाजी नगर एरिया में हुई एटीएम मशीन उखाड़ने की हुईं वारदात के तरीके के बारे में पुलिस जांच कर रही है। ताकि पता चल सके कि तीनों वारदात को अंजाम देने में क्या एक ही गैंग का हाथ हैं। इसके लिए संबंधित थाना प्रभारी अभी जांच रिपोर्ट को देख रहे हैं। हालांकि सेक्टर-9 में बदमाश थ्री व्हीलर से मशीन ले गए थे, जबकि शिवाजी नगर में फॉर्च्यूनर से।