• Home
  • Haryana News
  • Gurgaon
  • गुड़गांव व रेवाड़ी के 30 स्कूलों से स्मार्ट क्लासेज की होगी शुरूआत
--Advertisement--

गुड़गांव व रेवाड़ी के 30 स्कूलों से स्मार्ट क्लासेज की होगी शुरूआत

शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा ने कहा कि प्रदेश के सरकारी स्कूलों में विद्यार्थियों के लिए टैबलेट प्रयोगशाला और...

Danik Bhaskar | Apr 03, 2018, 02:00 AM IST
शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा ने कहा कि प्रदेश के सरकारी स्कूलों में विद्यार्थियों के लिए टैबलेट प्रयोगशाला और स्मार्ट कक्षाएं शुरू की जाएंगी ताकि वे आधुनिक तकनीक से जल्द सीख सकें। अगले शैक्षणिक सत्र से गुड़गांव व रेवाड़ी जिलों के 30 स्कूलों में यह पायलट प्रोजेक्ट शुरू किया जाएगा। राज्य सरकार सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों के सीखने का स्तर बढ़ाने के लिए गंभीर रूप से प्रयासरत है। कारपोरेट सोशल रिस्पांसबिलिटी कार्यक्रम के तहत ‘हीरो ग्रुप ऑफ कंपनीज’ इस प्रोजेक्ट का पूरा खर्च वहन करेगी। इसके लिए हरियाणा स्कूल शिक्षा विभाग के साथ कंपनी का एक एमओयू साइन हुआ है। शर्मा ने बताया कि सक्षम हरियाणा कार्यक्रम के तहत राज्य सरकार पूरे प्रदेश में 80 प्रतिशत सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों में ग्रेड स्तर की योग्यता लाना चाहती है। इसके लिए राज्य में शैक्षिक परिवर्तन के लिए यह प्रोजेक्ट शुरू किया गया है। मंत्री ने बताया कि टैबलेट प्रयोगशाला और स्मार्ट कक्षाएं शुरू होने से जहां हरियाणा के सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों के संचार कौशल में सुधार होगा। वहीं अंग्रेजी भाषा पर अच्छी पकड़ बन पाएगी। प्रोजेक्ट के माध्यम से उच्च और वरिष्ठ माध्यमिक स्कूलों के विद्यार्थियों के लिए कैरियर परामर्श भी शुरू किया जाएगा। प्रोजेक्ट के लिए अध्यापकों को विशेष प्रशिक्षण दिया जाएगा और समय-समय पर उसकी समीक्षा की जाएगी। शिक्षा मंत्री ने आगे बताया कि हरियाणा में यह पहला अवसर है जब शिक्षा सत्र शुरू होने से पहले ही स्कूलों में पुस्तकें पहुंचाई जा रही हैं। स्कूलों में पाठ्यक्रम की किताबें देरी से पहुंचने के कारण विद्यार्थियों का पाठ्यक्रम समय पर पूरा नहीं हो पाता था। जिससे छात्र व शिक्षक दोनों ही चिंतित होते थे। इस बार सभी जिलों में नया शिक्षा सत्र शुरू होते ही पाठ्यक्रम की पुस्तकें विद्यालयों में पहुंचाई जा रही हैं। कक्षा पहली से 8वीं तक के विद्यार्थियों को पाठ्यक्रम की पुस्तकें सरकार की ओर से नि:शुल्क उपलब्ध करवाने का प्रावधान है।