• Hindi News
  • Haryana
  • Gurgaon
  • फॉर्च्यूनर सवार 3 खिलाड़ियों को 5 युवकों ने पीछाकर रोका, फिर दौड़ा-दौड़ाकर पीटा
--Advertisement--

फॉर्च्यूनर सवार 3 खिलाड़ियों को 5 युवकों ने पीछाकर रोका, फिर दौड़ा-दौड़ाकर पीटा

स्विफ्ट सवार बदमाशों ने फॉर्च्यूनर सवार तीन शूटिंग खिलाड़ियों का करीब एक घंटे तक पीछा करने के बाद उन पर जानलेवा...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 02:05 AM IST
फॉर्च्यूनर सवार 3 खिलाड़ियों को 5 युवकों ने पीछाकर रोका, फिर दौड़ा-दौड़ाकर पीटा
स्विफ्ट सवार बदमाशों ने फॉर्च्यूनर सवार तीन शूटिंग खिलाड़ियों का करीब एक घंटे तक पीछा करने के बाद उन पर जानलेवा हमला कर दिया। इमसें दो खिलाड़ियों को गंभीर चोटें आई हैं। उन्हें एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। राजेंद्रा पार्क थाना पुलिस ने अज्ञात पर हत्या के प्रयास समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज किया है। पुलिस के अनुसार मामला रोडरेज का है। फिर भी सभी अन्य बातों को ध्यान में रखकर जांच की जा रही है।

पुलिस को शिकायत में कादीपुर एक्लेव निवासी नेशनल जूनियर खिलाड़ी (शूटर) ध्रुव सिंह ने बताया कि 28 जनवरी को खिलाड़ी गौरांश सिंह और रोहन के साथ फॉर्च्यूनर से बहादुरगढ़ में दोस्त चंचल कोशिश के यहां पार्टी में गए थे। करीब एक बजे तीनों गुड़गांव के लिए लौट रहे थे। इसी दौरान बादली फ्लाईओवर के पास स्विफ्ट कार उन्हें बार-बार ओवरटेक करने की कोशिश कर रही थी। करीब दो बजे एसजीटी बुढेरा के पास सड़क जाम होने के कारण गाड़ी रोकना पड़ी। इसी बीच स्विफ्ट सवार पांचों बदमाश आ पहुंचे। आरोपियों ने कार को घेर लिया। उन्होंने रॉड और डंडे से गौरांश पर हमला कर दिया। वो कार की खिड़की खोलकर भागने लगा तो उसे एक युवक ने पकड़ लिया। ध्रुव ने इसके मुंह पर वार कर दिया और चंगुल से छूटने के बाद भाग गया। दूसरी ओर अन्य बदमाशों ने रोहन और गौरांश की जमकर पिटाई कर दी। अजय दहिया नामक युवक ने कार से रोहन की डबल बैरल गन निकालकर रोहन के सिर पर वार कर दिया। मंजीत नामक युवक ने गौरांश के सिर में बट से वार कर दिया। गौरांश व रोहन अपने को बचाने के लिए खेत की तरफ भाग गए। आरोपियों ने दोनों पर फायरिंग भी की। रोहन एक फॉर्म हाउस में छिप गया, जहां पर बदमाशों ने उसकी जमकर पिटाई की। शोर सुनकर गांव के लोगों को आता देख बदमाश भाग निकले। लोगों ने घायल खिलाड़ियों को मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया। राजेन्द्रपार्क थाना प्रभारी अजय वीर ने बताया कि आरोपियों की कार बरामद कर ली गई है। गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है। मामला रोडरेज का भी हो सकता है।

भागवान का शुक्र है कि बेटे की जान बच गई

गौरांश के पिता एएसआई हरवीर सिंह ने बताया कि बेटे को बदमाशों ने बेरहमी से पीटा है। उसके सिर में गंभीर चोटें आई हैं। शुक्र है बेटे की जान बच गई। दूसरी ओर ध्रुव के पिता ने कहा कि आरोपी लूटपाट के लिए रोकना चाहते थे।

X
फॉर्च्यूनर सवार 3 खिलाड़ियों को 5 युवकों ने पीछाकर रोका, फिर दौड़ा-दौड़ाकर पीटा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..