Hindi News »Haryana »Gurgaon» 2020 तक सिविल में 500 व सेक्टर-10 अस्पताल में 200 बेड तक बढ़ेगी क्षमता

2020 तक सिविल में 500 व सेक्टर-10 अस्पताल में 200 बेड तक बढ़ेगी क्षमता

शहर की आबादी व लगातार मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए गुड़गांव के सिविल अस्पताल का कायाकल्प किया जाएगा। साल 2020 तक...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 12, 2018, 02:05 AM IST

2020 तक सिविल में 500 व सेक्टर-10 अस्पताल में 200 बेड तक बढ़ेगी क्षमता
शहर की आबादी व लगातार मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए गुड़गांव के सिविल अस्पताल का कायाकल्प किया जाएगा। साल 2020 तक अस्पताल की क्षमता को 200 बेड से बढ़ाकर 500 किया जाएगा, जबकि सेक्टर-10 अस्पताल में भी 100 बेड और बढ़ाए जाएंगे। यह बात रविवार को गुड़गांव पहुंचे स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के प्रिंसिपल सेक्रेटरी अमित झा ने कही। वे हुडा, पीडब्ल्यूडी व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की बैठक लेने गुड़गांव पहुंचे। उन्होंने बताया कि गुड़गांव में जनसंख्या के अनुसार अस्पतालों का इंफ्रास्ट्रक्चर बढ़ाया जाएगा। इससे पहले उन्होंने सिविल अस्पताल की बदहाल इमारत की मरम्मत अप्रैल से शुरू करने के आदेश दिए।

उन्होंने हुडा, पीडब्ल्यूडी व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से कहा कि गुड़गांव के सिविल अस्पताल की खस्ताहाल इमारत को एक बार फिर मरम्मत कराकर ठीक किया जाएगा। इस पर एक करोड़ रुपए और खर्च किए जाएंगे। अगले दो साल में गुड़गांव के लोगों के लिए नया 500 बेड का अस्पताल तैयार कराया जाएगा। इसके लिए अस्पताल के साथ लगते सीनियर सेकंडरी स्कूल की जमीन खाली कराई जाएगी। करीब आठ एकड़ जमीन पर नए अस्पताल का निर्माण किया जाएगा। अब तक सिविल अस्पताल में मात्र 200 बेड हैं, मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए प्रदेश सरकार ने ये फैसला लिया है। इस दौरान पीडब्ल्यूडी के चीफ इंजीनियर सहित अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे। प्रिंसिपल सेक्रेटरी अमित झा ने पीडब्ल्यूडी अधिकारियों को पुराने अस्पताल की इमारत की मरम्मत के आदेश दिए, जिस पर अगले महीने से काम शुरू करने की बात कही।

इसके बाद प्रिंसिपल सेक्रेटरी अमित झा ने सेक्टर-10 अस्पताल में नवनिर्मित कैथ लैब का निरीक्षण किया और अप्रैल में इसकी शुरुआत करने की बात कही। सीएमओ गुड़गांव डॉ. बीके राजौरा, पीएमओ डॉ. प्रदीप शर्मा सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे। प्रिंसिपल सेक्रेटरी ने पल्स पोलियो अभियान के तहत बच्चे को दो बूंद जिंदगी की पिलाकर अभियान की शुरुआत की। साथ ही हुडा अधिकारियों से अस्पताल में 100 बेड की एक और यूनिट तैयार करने को लेकर बात की।

गुड़गांव. सेक्टर-10 अस्पताल का दौरा करते प्रधान सचिव अमित झा, अन्य अफसर।

पुराने अस्पताल की बिल्डिंग की रिपेयर पर एक करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे, जिससे स्वास्थ्य सेवाएं चलती रहें। वहीं साथ स्कूल की जमीन को खाली कराकर 500 बेड का नया अस्पताल तैयार किया जाएगा। अस्पताल में दो साल का समय लग सकता है। -डॉ. बीके राजौरा, सीएमओ, गुड़गांव।

Rs.1 करोड़ से पुराने सिविल अस्पताल की होगी मरम्मत

शहर के खस्ताहाल सिविल अस्पताल की बिल्डिंग की मरम्मत पर पहले एक करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। इस पर पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों के साथ चर्चा की गई। सिविल अस्पताल की बिल्डिंग पूरी तरह अनसेफ घोषित की जा चुकी है। सिविल अस्पताल में लोगों की स्वास्थ्य सेवाओं को लगातार जारी रखने के लिए इसकी मरम्मत कराई जाएगी। सीएमओ डॉ. बीके राजौरा ने बताया कि इस बिल्डिंग की मरम्मत कराकर दूसरी इमारत बनवाई जाएगी, जिससे कि मरीजों को किसी प्रकार की परेशानी ना हो।

पीपीपी मोड पर तैयार होगा बादशाहपुर अस्पताल

पीडब्ल्यूडी मंत्री राव नरबीर सिंह ने तीन साल पहले बादशाहपुर अस्पताल की घोषणा की गई थी। यह अस्पताल सेक्टर-67 में बनाया जाएगा। इसे लेकर हुडा अधिकारियों से चर्चा की गई। अमित झा ने बताया कि अस्पताल पीपीपी मोड पर शुरू होगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Gurgaon

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×