Hindi News »Haryana »Gurgaon» बोर्ड अध्यक्ष के साथ शिक्षकों की बैठक में समझौता, 20 मार्च से कापी चेकिंग

बोर्ड अध्यक्ष के साथ शिक्षकों की बैठक में समझौता, 20 मार्च से कापी चेकिंग

सीनियर सेकंडरी परीक्षा मार्च-2018 की अंग्रेजी व सेकंडरी की हिंदी की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन 20 मार्च से किया...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 20, 2018, 02:05 AM IST

बोर्ड अध्यक्ष के साथ शिक्षकों की बैठक में समझौता, 20 मार्च से कापी चेकिंग
सीनियर सेकंडरी परीक्षा मार्च-2018 की अंग्रेजी व सेकंडरी की हिंदी की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन 20 मार्च से किया जाएगा। स्कूल लेक्चरर एसोसिएशन (सलाह) व हरियाणा स्कूल लेक्चरर एसोसिएशन (हसला) की मांगों पर विचार करते हुए हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष डॉ. जगबीर सिंह ने यह निर्णय लिया है। बोर्ड मुख्यालय में सलाह के प्रदेश अध्यक्ष राजकुमार शर्मा व हसला के महासचिव डॉ. कृष्ण कुमार समेत अन्य प्रतिनिधियों के साथ बैठक हुई। जिसमें मूल्यांकन कार्य 20 मार्च से शुरू करने की बात हुई। डॉ. जगबीर सिंह ने बताया कि सेकंडरी एवं सीनियर सेकंडरी मार्च-2018 परीक्षा की शेष विषयों की उत्तरपुस्तिकाओं का मूल्यांकन 26 मार्च से शुरू किया जाएगा। मूल्यांकन का संशोधित शेड्यूल का पत्र भी मूल्यांकन केंद्रों पर शीघ्र जारी किया जायेगा। प्रदेशभर में सेकंडरी के 62 मूल्यांकन केंद्र तथा सीनियर सेकंडरी के 31 मूल्यांकन केंद्र बनाए गए हैं। मूल्यांकन केंद्र का समय सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक रहेगा। जिन अध्यापकों का कार्य जल्दी समाप्त हो जाएगा वह 3:30 बजे तक केंद्र छोड़ सकते हैं। मूल्यांकन की ड्यूटियां वरिष्ठतानुसार लगाई गई है। इस बारे भविष्य में और अधिक ध्यान दिया जाएगा।

10 वीं व 12 वीं की उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन कार्य का टीचर्स ने किया था बहिष्कार

गुड़गांव. कादीपुर स्कूल में कॉपी मार्किंग का विरोध करते अध्यापक

पांच सेंटर्स पर मूल्यांकन का होना था काम,

हरियाणा स्कूल लेक्चरर एसोसिएशन (हसला) के विरोध के कारण सोमवार से हरियाणा शिक्षा बोर्ड की 10वीं व 12वीं की उत्तर पुस्तिकाओं की जांच नहीं हो सकी। दरअसल जिले के पांच सेंटर्स पर टीचर्स ने उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन का बहिष्कार कर दिया। डीईओ ने टीचर्स को समझाकर काम शुरू कराने का प्रयास किया, लेकिन वे नहीं माने। हरियाणा बोर्ड की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन जिले में सीनियर सेकंडरी स्कूल कादीपुर, सीनियर सेकंडरी स्कूल सेक्टर 4/7, पटौदी गर्ल्स, बादशाहपुर और जैकमपुरा गर्ल्स स्कूल में शुरू होना था। सुबह टीचर सभी सेंटर्स पर उत्तर पुस्तिकाओं की जांच को पहुंचे, लेकिन मूल्यांकन का बहिष्कार कर दिया। सीनियर सेकंडरी स्कूल कादीपुर सेंटर पर हसला जिला प्रधान अशोक ठाकरान, शिक्षक नेता महाराम यादव, मनोज, सुरेन्द्र,सतपाल,जयभगवान, नरेश, सुनील समेत शिक्षक पहुंचे। सभी ने सामूहिक रूप से कॉपी मूल्यांकन का विरोध किया। शिक्षक नेताओं का कहना है कि बोर्ड परीक्षा के दौरान टीचर्स को प्रताड़ित कर रहा है। बीते शनिवार को ऑब्जर्वर को शहर से काफी दूर भेज दिया गया। इसमें अधिकांश महिला टीचर हैं। अशोक ने बताया कि बोर्ड परीक्षा में नकल रोकने के नाम पर मनमानी कर रहा है, जिसे टीचर सहन नहीं करेंगे। इसलिए हसला ने पूरे प्रदेश में बोर्ड के कॉपी मूल्यांकन का बहिष्कार किया है। शिक्षक नेता महाराम ने बताया कि परीक्षा के दिन टीचर्स को बोर्ड परीक्षा में ड्यूटी करने का निर्देश दिया है।

कॉपी जांच पर बोर्ड की रहेगी नजर, लगे सीसीटीवी

बोर्ड ने कॉपी जांचने के काम की निगरानी के लिए सभी सेंटर्स पर सीसीटीवी कैमरे लगाए हैं। सीनियर सेकंडरी स्कूल कादीपुर के प्रिंसिपल मनीराम ने बताया कि सेंटर पर कुल 8 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। एक स्ट्रांग रूम में, जबकि 7 कमरों में लगाए हैं। बोर्ड सीधे कॉपी मूल्यांकन पर नजर रखेगा। दूसरी ओर बोर्ड ने इसी प्रकार अन्य 4 सेंटर्स पर भी सीसीटीवी कैमरे लगवाए हैं। बादशाहपुर, सेक्टर 4 व जैकमपुरा में 10वीं की कॉपी जांच की जाएगी।

गणित के पेपर में गुड़गांव में तीन नकलची पकड़े गए

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड की सीनियर सेकेण्डरी (शैक्षिक, रि-अपीयर व मुक्त विद्यालय) गणित विषय की परीक्षा में सोमवार को नकल के 106 मामले दर्ज किए गए। इसमें गुड़गांव में तीन नकल के मामले शामिलत है। हरियाणा बोर्ड में सोमवार को 12वीं गणित का पेपर हुआ। इस दौरान विभिन्न उड़नदस्तों ने सेंटरों की जांच किया। जिसमें गुड़गांव जिले में तीन छात्रों को नकल करते हुए पकड़ा। इसमें सोहना,धनकोट व बोहड़ाकला में एक-एक छात्रों को नकल करते हुए पकड़ा गया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Gurgaon

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×