Hindi News »Haryana »Gurgaon» बीच सड़क पर डेडबॉडी रखकर विरोध, गाड़ियों में तोड़फोड़, पुलिस पर पथराव

बीच सड़क पर डेडबॉडी रखकर विरोध, गाड़ियों में तोड़फोड़, पुलिस पर पथराव

दिल्ली में ओला चालक की हत्या के विरोध में सोमवार को गुड़गांव में कैब चालकों ने जमकर उत्पात मचाया। चालकों ने...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 27, 2018, 02:05 AM IST

बीच सड़क पर डेडबॉडी रखकर विरोध, गाड़ियों में तोड़फोड़, पुलिस पर पथराव
दिल्ली में ओला चालक की हत्या के विरोध में सोमवार को गुड़गांव में कैब चालकों ने जमकर उत्पात मचाया। चालकों ने दिल्ली-गुड़गांव एक्सप्रेस-वे स्थित सिरहौल बॉर्डर पर डेडबॉडी रखकर जाम लगाया। इससे करीब 40 मिनट तक एक्सप्रेस वे के दोनों ओर यातायात पूरी तरह ठप रहा। वाहनों की लंबी लाइन लग गई। प्रदर्शनकारियों पुलिस पर पथराव किया। जवाब में पुलिस ने लाठियां भांजी और प्रदर्शनकारियों को खदेड़कर एक्सप्रेस वे पर यातायात सुचारू कराया।

पुलिस के अनुसार दो दिन पहले ओला कैब ड्राइवर हरिनारायण की हत्या हुई थी। सोमवार को दिल्ली से ओला कैब चालक डेडबॉडी लेकर ओला कंपनी के दफ्तर उद्योग विहार के हेडक्वॉर्टर पहुंचे। कैब ड्राइवर पीड़ित परिवार के लिए कंपनी से सहायता मांग कर रहे थे। चालकों का आरोप है कि कंपनी ने उनकी बातों को अनसुना कर दिया। इससे गुस्साए कैब ड्राइवर्स ने दिल्ली-गुड़गांव एक्सप्रेस वे पर डेडबॉडी रखकर जाम लगा दिया। चालकों ने एक्सप्रेस वे पर जा रही गाड़ियों में तोड़फोड़ भी की। सूचना पर पुलिस इन्हें हटाने पहुंची तो चालकों ने पुलिस पर पथराव कर दिया। पुलिस ने इन्हें खदेड़ने के लिए लाठियां भांजी। इसके बाद चालक सर्विस लेने पर चले गए और दोबारा पुलिस पर पथराव कर दिया। पहले पुलिस बल कम होने से मामला नियंत्रण में नहीं हो पाया। हालांकि बाद में पुलिस ने चालकों को खदेड़कर एक्सप्रेस वे खुलवाया। डीसीपी सुमित कुमार ने बताया कि प्रदर्शनकारी एक्सप्रेस वे फिर जाम ना लगाएं यहां पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

गुड़गांव. सिरोहल टोल प्लाजा पर रोड जाम करते ओला कैब ड्राइवर, इधर प्रदर्शनकारियों को खदेड़ती हुई पुलिस।

40 मिनट एक्सप्रेस-वे जाम, शंकर चौक फ्लाईओवर तक वाहनों की लगी कतार

चालकों ने अचानक दिल्ली से गुड़गांव व गुड़गांव से दिल्ली की ओर से एक्सप्रेस वे जाम कर दिया। इससे दोनों ओर वाहनों की लंबी लाइन लग गई। दिल्ली की ओर रजोकरी बॉर्डर से आगे तक व दिल्ली की ओर से करीब शंकर चौक फ्लाईओवर तक वाहनों की लाइन लग गई। एनएचएआई कंट्रोल रूम के अनुसार दोनों ओर करीब 40 मिनट तक यातायात पूरी तरह बंद रहा। दोनों ओर से जवाबी कार्रवाई में भी यातायात प्रभावित रहा। इस मामले में पुलिस आरोपियों पर केस भी दर्ज कर सकती है।

दिल्ली में मिली थी कैब चालक की लाश

गौरतलब है कि नोएडा निवासी हरि नारायण ओला कंपनी में कैब ड्राइवर थे। दो दिन पहले बुकिंग पर गए थे। कल शाम उसकी लाश दिल्ली में मिली थी। उनकी गला घोंटकर हत्या की गई थी। कैब ड्राइवर की हत्या किसने की ये पुलिस जांच में सामने आएगा।

परिवार की सहायता के लिए उठा रहे कदम : कंपनी प्रवक्ता

इधर ओला कंपनी के प्रवक्ता ने कहा पीड़ित परिवार के प्रति उनकी संवेदना है। पीड़ित परिवार की सहायता के लिए कदम उठाया जा रहा है। साथ ही पुलिस जांच में भी कंपनी सहयोग कर रही है।

एंबुलेंस पर खड़े होकर न्याय मांगती मृतक हरिनारायण की प|ी

करीब डेढ़ से दो बजे के बीच कैब चालक हरिनारायण के शव को एंबुलेंस से लेकर कैब चालक हेडक्वॉर्टर पहुंचे थे। गुस्साए चालकों ने प्रदर्शन के दौरान एंबुलेंस को एक्सप्रेस-वे पर बीच में खड़ा कर दिया और जमकर उत्पात मचाया। इस दौरान एंबुलेंस में हरि नारायण की प|ी बैठी थी और पति के लिए इंसाफ मांग रही हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Gurgaon

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×